A- A A+
Last Updated : Jan 17 2020 11:32PM     Screen Reader Access
News Highlights
Nirbhaya Case: Convicts to be hanged on Feb 1            Kashmir is India's internal matter belonging to its constitutional space: Russia            Govt awards over Rs 2000 cr for completing Z Morh tunnel            BJP announces first list of 57 candidates for Delhi Assembly polls            K'taka wins five Gold in Swimming in Khelo India           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2045 HRS
17.11.2019
मुख्य समाचार :-

  • संसद का शीतकालीन सत्र कल से शुरू होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा-सरकार सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार।

  • ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड, अयोध्‍या मामले में उच्‍चतम न्‍यायालय के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा।

  • गृहमंत्री अमित शाह ने लद्दाख में ऊंचाई वाले क्षेत्रों के लिए विशेष ग्रेड डीजल आपूर्ति केंद्र का उद्घाटन किया।

  • श्रीलंका में गोताबाया राजपक्‍से ने राष्‍ट्रपति चुनाव जीता।

  • एटीपी टेनिस फाइनल्‍स के खिताबी मुकाबले में आज पहली बार फाइनल में पहुंचे, डोमिनिक थिएम का सामना स्‍टेफानोस सिसिपास से होगा।

--------

संसद का शीतकालीन सत्र कल से शुरू हो रहा है। 13 दिसम्‍बर तक चलने वाले सत्र के दौरान 20 बैठकें होंगी। इससे पहले आज नई दिल्‍ली में सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आश्‍वासन दिया कि सरकार सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है। उन्‍होंने कहा कि संसद का सबसे महत्‍वपूर्ण काम चर्चा और बहस करना है। बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने सभी राजनीतिक दलों से अनुरोध किया है कि इस सत्र को पिछले सत्र जितना ही सफल बनाए। उन्‍होंने बताया कि श्री मोदी ने कहा कि संसद में रचनात्‍मक चर्चा नौकरशाही को भी सजग रखती है।


माननीय प्रधानमंत्री जी ने यह कहा है कि इश्‍यू टू डिस्‍कस इन द पार्लियामेंट, पार्लियामेंट का प्रमुख काम डिस्‍कसन का है और स्‍ट्रक्‍चर्ड डिबेट डेरोक्रेसी को एक सतर्कता का महसूस होना चाहिए। ऐसा डिबेट होना चाहिए।


प्रह्लाद जोशी के अनुसार प्रधानमंत्री ने बताया कि इस महीने की 26 तारीख को संविधान दिवस मनाया जाएगा। श्री मोदी ने कहा कि देश का संविधान और लोकतांत्रिक प्रणाली अनूठी है और यह इसकी पहचान बनी रहनी चाहिए।


राज्‍यसभा में विपक्ष के नेता और कांग्रेस के सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा कि विपक्षी दलों ने सांसद फारूख अब्‍दुल्‍ला की हिरासत के मुद्दे को उठाया और मांग की कि उन्‍हें सत्र में भाग लेने की अनुमति दी जाए। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने बताया कि विपक्ष ने मांग की कि सत्र के दौरान आर्थिक मंदी, बेरोजगारी और कृषि संकट के मुद्दों पर चर्चा होनी चाहिए।


जिन वि‍षयों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए उनमें बेरोजगारी से लेकर आर्थिक संकट और किसानों की समस्‍याएं भी शामिल हैं। सांसदों ने पर्यावरण वि‍षय पर भी चिंता जाहिर की है क्‍योंकि प्रदूषण कई राज्‍यों और शहरों को अपने चपेट में ले रहा है।


तृणमूल कांग्रेस के नेता सुदीप बंदोपाध्‍याय ने सत्र के दौरान देश में बेरोजगारी पर चर्चा कराए जाने की मांग की।


बैठक में भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह, तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन और समाजवादी पार्टी के रामगोपाल यादव सहित कई अन्‍य सांसद भी उपस्थित थे। राज्‍यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने भी आज राज्‍यसभा में विभिन्‍न दलों के नेताओं के साथ बैठक की।


श्री नायडू ने सभी राजनीतिक दलों से अपील की कि वे शीतकालीन सत्र को पिछले सत्र के समान ही सफल बनाएं। उन्‍होंने कहा कि राज्‍यसभा के कल से शुरू हो रहे ऐतिहासिक 250वें सत्र को मनाने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस बीच, प्रधानमंत्री ने भरोसा जताया कि संसद के दोनों सदनों में भारत के विकास और नागरिकों के सशक्तिकरण के लिए रचनात्‍मक चर्चा होगी।


सर्वदलीय बैठक में भाग लेने के बाद श्री मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि पार्टी सत्र का इस्‍तेमाल विभिन्‍न मुद्दों पर अपने विचार रखने और लोगों के जीवन में बदलाव करने के लिए करेगी। एनडीए के घटक दलों की भी आज संसद भवन परिसर में बैठक हुई। लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिरला ने कल सभी राजनीतिक दलों से सदन के सुचारू संचालन के लिए सहयोग की अपील की थी।

महाराष्‍ट्र में किसानों से संबंधित मुद्दे, आर्थिक मंदी, पाकिस्‍तान द्वारा संघर्ष विराम उल्‍लंघन और राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र में जारी वायु प्रदूषण की समस्‍या सहित विभिन्‍न मुद्दों को दोनों सदनों में उठाये जाने की संभावना है। नागरिकता (संशोधन)वि‍धेयक को पारित कराने के अलावा इस सत्र के दौरान आयकर अधिनियम और वित्‍त अधिनियम तथा ई-सिगरेट से संबंधित दो अहम अध्‍यादेशों को कानून में परिवर्तित कराना भी सरकार की योजना में शामिल है। संसद का पहला सत्र काफी बेहतर रहा था और इस सत्र के दौरान तीन तलाक की प्रथा को दंडनीय बनाने, जम्‍मू कश्‍मीर के वि‍शेष दर्जे को हटाने और इसे दो केंद्रशासित क्षेत्रों-जम्‍मू कश्‍मीर और लद्दाख में वि‍भाजित करने का प्रस्‍ताव भी दोनों सदनों में पारित हुआ था। दीपेन्‍द्र कुमार, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।

--------

शीतकालीन सत्र की पूर्व-संध्‍या पर आज रात आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग संसद के समक्ष मुद्दे विषय पर हिन्‍दी में एक विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। इसे रात साढ़े नौ बजे से इन्‍द्रप्रस्‍थ और एफ एम गोल्‍ड चैनलों पर सुना जा सकता है। अंग्रेजी में इश्‍यूज़ बिफोर पार्लियामेंट कार्यक्रम रात साढ़े नौ बजे से राजधानी और अतिरिक्‍त मीटरों पर प्रसारित किया जाएगा।

--------

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड अयोध्‍या मामले में उच्‍चतम न्‍यायालय के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा। बोर्ड के सचिव जफरयाब जिलानी ने दावा किया कि ज्‍यादातर मुसलमान फैसले पर पुनर्विचार चाहते हैं। बोर्ड ने उच्‍चतम न्‍यायालय के फैसले के कई बिन्‍दुओं पर आपत्ति की और कहा कि मस्जिद के लिए कोई अन्‍य स्‍थान या जगह स्‍वीकार नहीं होगी। इससे पहले, केन्‍द्रीय सुन्‍नी वक्‍फ बोर्ड ने कहा था कि इस मामले में पुनर्विचार याचिका दायर नहीं की जायेगी।

-------

गृहमंत्री अमित शाह ने आज लद्दाख के लिए विशेष ग्रेड डीजल आपूर्ति केंद्र का वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया। ऊंचाई वाले बेहद ठंडे क्षेत्रों में इस्‍तेमाल के लिए इस डीजल को इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने तैयार किया है। लद्दाख, करगिल, काज़ा और केलांग जैसे ऊंचाई वाले क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड में पारा शून्‍य से तीस डिग्री सेल्‍सियस तक नीचे चला जाता है जिससे यहां डीजल के जमने की समस्‍या आती है। इस अवसर पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा:-


दोनों यू टी की जनता को आश्‍वस्‍त किया था कि आपके विकास की गति और बढ़ेगी आपका विकास और द्रुत गति से आगे बढ़ेगा और सारी आपकी जरूरतों को संवेदना के साथ समझकर उसका निराकरण लाने का हम प्रयास करेंगे।


गृहमंत्री ने कहा कि केन्‍द्र सरकार ने 50 हजार करोड़ रुपए के अनुमानित निवेश से बिजली, ऊर्जा, शिक्षा और पर्यटन के क्षेत्र में लद्दाख के लिए कई विकास योजनाएं शुरू की हैं। उन्‍होंने लद्दाख के लोगों को भरोसा दिलाया कि प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व में क्षेत्र का तेजी से विकास होगा।


पेट्रोलियम मंत्री धमेन्‍द्र प्रधान ने कहा कि लद्दाख के लोगों को ठंड में इस्‍तेमाल किए जा सकने वाले विशेष किस्म के डीजल की निर्बाध आपूर्ति की जाएगी।


देश में पहली बार विंटर ग्रेडस की 30 डिग्री की तापमान में भी बिना बर्फ व डीजल रहे। इसी की आज हमने पवित्र लद्दाख से ही लेह से आज शुरू कर रहे हैं। आज का दिन सबके लिए गौरव का दिन है।

--------

जम्‍मू-कश्‍मीर में अखनूर क्षेत्र के फलांवाला सेक्‍टर में आज एक संदिग्‍ध आईडी विस्‍फोट में सेना का एक जवान शहीद हो गया और दो अन्‍य घायल हो गए। रक्षा प्रवक्‍ता ने बताया कि यह विस्‍फोट उस समय हुआ जब कुछ सैनिक सैन्‍य वाहन में जा रहे थे। ब्‍यौरे की प्रतिक्षा है-

--------

न्‍यायमूर्ति रवि रंजन ने आज झारखंड उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश के रूप में शपथ ग्रहण की। राज्‍यपाल द्रौपदी मुर्मी ने उन्‍हें राजभवन में एक समारोह में शपथ दिलाई। न्‍यायमूर्ति रंजन झारखंड उच्‍च न्‍यायालय के 13वें मुख्‍य न्‍यायाधीश हैं।

--------

सूचना और प्रसारण मंत्री और भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने भरोसा जताया कि झारखंड में भाजपा जबरदस्‍त बहुमत के साथ सत्‍ता में वापस लौटेगी। आज झारंखड में उन्‍होंने कहा कि रघुबर दास के नेतृत्‍व में सरकार ने राज्‍य में बड़ा परिवर्तन किया है। माओवादी समस्‍या का समाधान हो गया है और राज्‍य में विकास हो रहा है।

--------

श्रीलंका के पूर्व रक्षासचिव गोटाबाया राजपक्‍से राष्‍ट्रपति पद का चुनाव जीत गए हैं। वे पूर्व राष्‍ट्रपति महिंदा राजपक्‍से के भाई हैं।


गोताबाया कल राष्‍ट्रपति पद की शपथ लेंगे। एलटीटीई के खिलाफ युद्ध के आखिरी दिनों में गोटाबाया देश के रक्षासचिव थे। उन्‍होंने कहा कि श्रीलंका में एक नई शुरूआत होगी, और सभी देशवासी इसका हिस्‍सा बनेंगे।


इस बीच, प्रधानमंत्री रानिल विक्रसिंघे ने चुनाव परिणामों को देखते हुए सरकार में बदलाव के संकेत दिए हैं।


श्री लंका में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर राजनीतिक भू-चाल अभी थमा नहीं है लेकिन प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे की सरकार की इस्‍तीफे और संसदीय चुनाव की अटकले शुरू हो गई है। गोटाबाया के दल ने चुनाव के पहले ही साफ कर दिया था कि उनकी जीत के बाद सरकार की इस्‍तीफे की उम्‍मीद करते हैं। गोटाबाया के प्रतिद्वंद्वी सजीथ प्रेमदासा के जुड़े कई मंत्रियों ने आज इस्‍तीफा दे दिया है। लेकिन विक्रमसिंघे ने इस्तीफे की कोई मंशा नहीं जताई है। बल्कि कहा है कि संसदीय चुनाव का फैसला संसद अध्‍यक्ष और सांसदों के विचार-विमर्श के बाद लिया जाएगा। ऐसे में देखना यह होगा कि गोटाबाया राजपक्षे कल शपथग्रहण के बाद क्‍या सरकार को बर्खास्‍त करने का फैसला लेते हैं। आकाशवाणी समाचार के कोलंबो से संतोष कुमार।

--------

आइए अब चलते हैं विश्‍व सिनेमा की ओर, वास्‍तविक जीवन को सिनेमा में कई रूपों को प्रस्‍तुत किया गया है। भारतीय सिनेमा का नया स्‍वरूप इसे बखूबी दिखाता रहा है। गोवा में आयोजित रहे भारतीय अन्‍तर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव-ईफी में इस नये स्‍वरूप के महान फिल्‍म निर्माताओं को याद किया जाएगा।


1950 के दशक के अंत से 1970 के दशक के अंत तक फिल्‍म निर्माताओं की नई पीढ़ी नई जमीन तैयार की। मृणाल सेन, मणि कौल, कुमार शाहनी, श्‍याम बेनेगल और अडूर गोपालकृष्‍णन इनमें अग्रणी है। बालीवुड की मुख्‍य धारा की फिल्‍मों की तुलना में इन फिल्‍मों का कथानक, शैली और बजट अलग तरह का था। भारत के नये सिनेमा की धारा के तहत गोवा में इस तरह की 12 फिल्‍मों का प्रदर्शन किया जायेगा। इसकी शुरूआत ऋत्विक घटक की बंगला फिल्‍म अजांत्रिक और मेघे ढाका तारा का प्रदर्शन से होगी। मृणाल सेन की हिन्‍दी फिल्‍म भूवन शोमे 1969 में प्रदर्शित हुई थी। यह फिल्‍म एक अकेले विधुर पुरुष की कहानी है जो बहुत अनुशासन में रहता है। इसमें उसके जीवन में आये बदलाव को दर्शाया गया है। वर्ष 1977 में जॉन अब्राहम द्वारा निर्देशित की गयी तमिल फिल्‍म अग्राहाराथिल आंखें खोलने वाली‍ फिल्‍म है। यह फिल्‍म उस दृश्‍य को दिखाती है जब एक आवारा गधा उच्‍च जाति ब्राह्रमण बहुल गांव में घुस जाता है। श्‍याम बेनेगल की भूमिका और अंकुर, मणि कौल की उसकी रोटी तथा अडूर गोपाल कृष्‍णन स्‍वयंबरम समेत कई फिल्‍में इस श्रेणी में दिखायी जायेंगी। भारतीय सिनेमा की नई धारा की फिल्‍में वृत्‍तचित्र और कल्‍पना पर आधारित है। इसमें कोई आश्‍चर्य नहीं की मृणालसेन ने इन्‍हें एक बार फिल्‍म निर्माता के हस्‍ताक्षर कहा था। यह श्रेणी भारतीय फिल्‍म निर्माताओं की कला को याद करने का एक जरिया है। फिल्‍म महोत्‍सव की लगातार खबरें जानने के लिए आकाशवाणी सुनते रहिये। ईफी डेस्‍क, समाचार कक्ष, आकाशवाणी।

-------

लंदन में, एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में आज डोमिनिक थिएम का मुकाबला स्टेफानोस सिसिपास से होगा। सेमीफाइनल में थिएम ज्वेरेव को और सिसिपास ने रोजर फेडरर को पराजित किया था।

--------

भारत ने एशियाई युवा मुक्केबाजी चैंपियनशिप में पांच स्वर्ण सहित कुल 12 पदक जीते हैं। मंगोलिया में महिला वर्ग में नाओरि‍म चानू, विंका, सनामाचा चानू, पूनम और सुषमा ने स्वर्ण पदक जीते। पुरुष वर्ग में सेलाय साय और अंकित नरवाल ने रजत पदक हासिल किए। अरुणधति चौधरी, कोमलप्रीत कौर, जास्मिन, सतेंदर सिंह और अमन को कांस्य पदक प्राप्त हुए।

--------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 17 (Jan) Midday News 17 (Jan) News at Nine 17 (Jan) Hourly 17 (Jan) (2300hrs)
समाचार प्रभात 17 (Jan) दोपहर समाचार 17 (Jan) समाचार संध्या 17 (Jan) प्रति घंटा समाचार 17 (Jan) (2305hrs)
Khabarnama (Mor) 17 (Jan) Khabrein(Day) 17 (Jan) Khabrein(Eve) 17 (Jan)
Aaj Savere 17 (Jan) Parikrama 17 (Jan)

Listen Programs

Market Mantra 17 (Jan) Samayki 17 (Jan) Sports Scan 17 (Jan) Spotlight/News Analysis 17 (Jan) Samachar Darshan 17 (Jan) Radio Newsreel 16 (Jan)
    Public Speak

    Country wide 19 (Dec) Surkhiyon Mein 19 (Dec) Charcha Ka Vishai Ha 15 (Jan) Vaad-Samvaad 14 (Jan) Money Talk 14 (Jan) Current Affairs 17 (Jan)
  • Money Matters 17 (Jan)
  • International News 17 (Jan)
  • Press Review 17 (Jan)
  • From the States 17 (Jan)
  • Let's Connect 17 (Jan)
  • 360°- Ek Parivesh 17 (Jan)
  • Know Your Constitution 15 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 17 (Jan)
  • Sanskriti Darshan 17 (Jan)