A- A A+
Last Updated : Feb 21 2020 1:45PM     Screen Reader Access
News Highlights
Defence, Security & trade to dominate agenda during US Prez Trump's visit to India next week            Haryana govt to open Atal Kisan - Majdoor canteens to provide meals at concessional rate            Fourth Anniversary of Shyama Prasad Mukherji Rurban Mission being observed today            Maha Shivratri being celebrated across the country today            1st Test: India vs New Zealand underway at Wellington           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2045 HRS
25.01.2020

25-01-2020


समाचार संध्या


2045



मुख्य समाचार:-

  • राष्‍ट्र‍पति रामनाथ कोविंद ने लोक कल्‍याण सुनिश्चित करने के लिए सरकार और विपक्ष से मिलजुल कर काम करने को कहा।

  • 71वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्‍या पर राष्‍ट्र को सम्‍बोधित करते हुए श्री कोविंद ने कहा- भारत, सम्‍पूर्ण मानवता के लिए सुरक्षित और समृद्ध भविष्‍य के निर्माण में वैश्विक समुदाय के साथ मिलकर काम करने को प्रतिबद्ध।

  • जॉर्ज फर्नान्‍डीज, अरूण जेटली और सुषमा स्‍वराज को मरणोपरांत पदम विभूषण दिया गया है।

  • छह सैन्‍यकर्मियों को शौर्य चक्र,  19 को परम विशिष्‍ट सेवा पदक और 104 कर्मियों को अग्नि सेवा पदक दिये जायेंगे।

  • गणतंत्र दिवस समारोह की सभी तैयारियां पूरी।

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल शाम छह बजे आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में अपने विचार साझा करेंगे।

  • प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव ने कोरोना वायरस के बारे में उच्‍च  स्‍तरीय बैठक की अध्‍यक्षता की।

----------------------

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश के विकास और जनता का कल्‍याण सुनिश्‍चित करने के लिए सरकार और विपक्ष दोनों को मिलकर काम करने पर जोर दिया है। उन्‍होंने कहा कि इस प्रयास में दोनों की महत्‍वपूर्ण भूमिका है। गणतंत्र दिवस समारोह की पूर्व संध्‍या पर राष्‍ट्र को सम्‍बोधित करते हुए राष्‍ट्रपति ने कहा कि महात्‍मा गांधी के आदर्श, राष्‍ट्र निर्माण के प्रयास में आज भी प्रासंगिक हैं। सच्‍चाई तथा अहिंसा के महात्‍मा गांधी के आदर्श आत्‍मविश्‍लेषण का हिस्‍सा होना चाहिए। महात्‍मा गांधी के अहिंसा के संदेश को याद करते हुए श्री कोविंद ने कहा कि लोगों, खासतौर से युवाओं को मानवता के लिए अहिंसा का संदेश नहीं भूलना चाहिए।


किसी भी उद्देश्‍य के लिए संघर्ष करने वाले लोगों विशेष रूप से युवाओं को गांधी जी के अहिंसा के मंत्र को सदैव याद रखना चाहिए जो कि मानवता को उनका अमूल्‍य उपहार है। कोई भी कार्य उचित है या अनुचित यह तक करने के लिए गांधी जी की मानव कल्‍याण की कसौटी हमारे लोकतंत्र पर भी लागू होती है।


श्री कोविंद ने कहा कि भारत, सम्‍पूर्ण मानवता के लिए सुरक्षित और समृद्ध भविष्‍य के निर्माण में वैश्विक समुदाय के साथ मिलकर काम करने को प्रतिबद्ध है।


राष्‍ट्रपति ने कहा कि देश के विकास के लिए मजबूत आंतरिक सुरक्षा आवश्‍यक है और सरकार ने इस दिशा में ठोस कदम उठाए हैं। उन्‍होंने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍य और शिक्षा तक पहुंच सुशासन की बुनियाद है और हम लोगों ने पिछले सात दशकों के दौरान इस क्षेत्र में अच्‍छा काम किया है। उन्‍होंने कहा कि सरकार ने महत्‍वाकांक्षी योजनाओं के साथ स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र में विशेष ध्‍यान केन्‍द्रित किया है।


सरकार ने अपने महत्‍वाकांक्षी कार्यक्रमों के द्वारा स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र पर विशेष बल‍ दिया है प्रधानमंत्री जन आरोग्‍य योजना तथा आयुष्‍मान भारत जैसे कार्यक्रमों से गरीबों के कल्‍याण के प्रति संवेदनशीलता व्‍यक्‍त होती है और उन तक प्रभावी सहायता भी पहुंच रही हैं।  जैसा की हम सभी जानते हैं कि आयुष्‍मान भारत योजना दुनिया की सबसे बड़ी जन स्‍वास्‍थ्‍य योजना बन गई है।


शिक्षा पर राष्‍ट्रपति ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि प्रत्‍येक बच्‍चा और युवा शिक्षित हो। उन्‍होंने कहा कि इसके साथ ही लगातार सुधार के ज़रिए हमें विश्‍व स्‍तर की शिक्षा प्रणाली हासिल करनी है। जल संरक्षण और जल प्रबंधन पर जोर देते हुए श्री रामनाथ कोविंद ने विश्‍वास व्‍यक्‍त किया कि स्‍वच्‍छ भारत अभियान और जल जीवन मिशन लोकप्रिय आंदोलन बनेगा।


राष्‍ट्रपति ने कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख, पूर्वोत्‍तर राज्‍यों तथा हिंद महासागर के द्वी‍प समूहों सहित पूरे देश का सर्वांगीण विकास सुनिश्‍चित करने के लिए सरकार की ओर से लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।


राष्‍ट्रपति ने कहा कि देश को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की उपलब्धियों पर गर्व है। उन्‍होंने कहा कि देश भारतीय मानव अंतरिक्ष यान कार्यक्रम की उत्‍सुकता से प्रतीक्षा कर रहा है। 


राष्‍ट्रपति ने देश की रक्षा के लिए सशस्‍त्र बलों के अमूल्‍य योगदान की प्रशंसा की-


देश की सेनाओं अर्ध सैनिक बलों और आतंरिक सुरक्षा बलों की मैं मुख कंठ से प्रशांसा करता हूं। देश की एकता, अखण्‍डता और सुरक्षा को बनाए रखने में उनका बलिदान अद्वीतीय साहस और अुनशासन की अमरगाथाएं प्रस्‍तुत करता है।


राष्‍ट्रपति ने कहा कि भारत ने खेल के क्षेत्र में बहुत अच्‍छा काम किया है। नए खिलाडियों और एथलिटों ने देश की प्रतिष्‍ठा बढ़ाई है उन्‍होंने कहा कि तोक्‍यो ओलंपिक में पूरे देश की शुभकामनाएं भारतीय दस्‍ते के साथ हैं।


राष्‍ट्रपति ने कहा कि हम लोग अभी 21वीं शताब्‍दी के तीसरे दशक में हैं और यह दशक नये भारत तथा नई पीढ़ी के लिए अग्रदूत साबित होगा। उन्‍होंने विश्‍वास व्‍यक्‍त किया कि नयी पीढ़ी हमारे बुनियादी मूल्‍यों के लिए प्रतिबद्ध रहेगी। उन्‍होंने क‍हा कि युवाओं के लिए राष्‍ट्र हमेशा पहले आएगा।


राष्‍ट्रपति कोविंद ने विश्‍वास व्‍यक्‍त किया कि नयी पीढ़ी लोकतंत्र के न्‍याय, स्‍वतंत्रता, समानता और भाईचारे के केन्‍‍द्रीय सिद्धांतों से जुड़ी रहेगी।


राष्‍ट्रपति ने अपना सम्‍बोधन भारतीय संविधान के निर्माता बाबासाहब आम्‍बेडकर का उल्‍लेख करते हुए अपना सम्‍बोधन समाप्‍त किया। उन्‍होंने कहा कि बाबा साहब के शब्‍द नयी उपलब्‍धियों की ओर बढ़ते रहने का रास्‍ता प्रशस्‍त करते रहेंगे।

----------------------

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गणतंत्र दिवस समारोह की पूर्व संध्या पर सशस्त्र बलों के जवानों और रक्षा से संबंधित अन्य लोगों को शौर्य और रक्षा पदक प्रदान करने को मंजूरी दे दी है।


11वीं गोरखा राइफल्स की लेफ्टिनेंट कर्नल ज्योति लामा, सेनावायु रक्षा के मेजर के बिजेन्द्र सिंह, पैराशूट दस्ते के नायब सुबेदार नरेन्द्र सिंह, जम्मू-कश्मीर लाइट इंफेंट्री के नायक नरेश कुमार और बिहार रेजीमेंट के सिपाही कर्मदेव ओरांव को शौर्य चक्र प्रदान किया जाएगा। जाट रेजीमेंट के नायब सुबेदार सोमवीर को मरनोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया जाएगा।


सेना के 19 वरिष्ठ अधिकारियों को परम विशिष्ट सेवा पदक प्रदान किया जाएगा। कुल मिलाकर आठ युद्ध सेवा पदक, चार उत्तम युद्ध सेवा पदक, 32 अति विशिष्ट सेवा पदक और 76 विशिष्ट सेवा पदक तथा 151 सेना पदक प्रदान किए जाने की घोषणा की गई है।

----------------------

राष्‍ट्रपति ने 54 लोगों को जीवन रक्षा पदक पुरस्‍कार प्रदान करने को भी मंजूरी दी है। इनमें सात लोगों को सर्वोत्‍तम जीवन रक्षा पद‍क, आठ लोगों को उत्‍तम जीवन रक्षा पदक और 39 लोगों को जीवन रक्षा पदक प्रदान किया जाएगा। पांच पुरस्‍कार मरणोपरान्‍त दिये जा रहे हैं।

----------------------

अग्नि सेवा पदक के लिए 104 कर्मियों का चयन किया गया है। 49 कर्मियों को होमगार्ड तथा नागरिक सुरक्षा पदक दिया जाएगा।

----------------------

सरकार ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्‍या पर 141 पदम पुरस्‍कारों की भी घोषणा की है। इनमें सात पदम विभूषण, 16 पदम भूषण और 118 पदमश्री शामिल हैं। पुरस्‍कार पाने वालों में 34 महिलाएं और 18 विदेशी हैं। 12 लोगों को मरणोपरांत ये पुरस्‍कार दिये गये हैं।


पदम विभूषण पाने वालों में जॉर्ज फर्नान्‍डीज, सुषमा स्‍वराज, अरूण जेटली शामिल हैं जिन्‍हें यह पुरस्‍कार मरणोपरान्‍त दिया गया है।

----------------------

राष्‍ट्र कल 71वां गणतंत्र दिवस मनायेगा। मुख्‍य समारोह राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में राजपथ पर आयोजित किया जाएगा। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद परेड की सलामी लेंगे। इस वर्ष ब्राजील के राष्‍ट्रपति जाइर मेसियास बोलसोनारो मुख्‍य अतिथि होंगे। 16 राज्‍य और केन्‍द्रशासित प्रदेश तथा छह केन्‍द्रीय मंत्रालयों की झांकियां परेड में शामिल होंगी। जम्‍मू-कश्‍मीर, परेड में पहली बार केन्‍द्रशासित प्रदेश के रूप में शामिल हो रहा है। मंत्रालयों और विभागों की झांकियां स्‍टार्टअप इंडिया, जल जीवन मिशन तथा वित्‍तीय समावेशन जैसे विषयों पर आधारित हैं।


गणतंत्र दिवस परेड समारोह का शुभारंभ राष्ट्रीय समर स्मारक पर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी द्वाराशहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के साथ होगा। राष्‍ट्रपति सलामी मंच पर राष्‍ट्रीय ध्‍वज को फहरायेंगे। उसके बाद राष्‍ट्रगान होगा और 21- तोपों की सलामी दी जाएगी। इस वर्ष की परेड का मुख्‍य आकर्षण, सुखोई और हाल में शामिल किए गए चिनूक और अपाचे हैलीकॉप्‍टरों काफ्लाई पास्‍ट होगा। 90 मि‍नट तक चलने वाली परेड में उपग्रहरोधी हथियार- मिशन शक्ति और सेना का लड़ाकू टैंक भीष्‍म मुख्‍य आकर्षण होंगे। केन्‍द्रीय रिज़र्व पुलिस बल के महिला दस्‍ते द्वारा मोटर साइकिलों पर करतब, सशस्‍त्र बलों, अर्धसैनिक बलों, दिल्‍ली पुलिस और एनसीसी के 16 मार्चिंग दस्‍ते परेड में शामिल होंगे। इसके अलावा सेना के 13 बैंड भी अपनी धुनों से लोगों को मोहित करेंगे। विभिन्‍न राज्‍यों से आए छह सौ से अधिक छात्र-छात्राएं भी सांस्‍कृतिक कार्यक्रम और लोक-नृत्‍य प्रस्‍तुत करेंगे। दीपेन्द्र कुमार आकाशवाणी समाचार दिल्ली

----------------------

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कल आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में देश-विदेश के लोगों के साथ अपने विचार साझा करेंगे। इस बार यह कार्यक्रम शाम छह बजे प्रसारित किया जाएगा। श्री मोदी ने एक ट्वीट संदेश में कहा था कि इस वर्ष का पहला मन की बात कार्यक्रम अत्यंत विशेष दिवस, 26 जनवरी को होगा। उन्होंने कार्यक्रम के लिए लोगों से विचार साझा करने को कहा था। लोग 1 8 0 01 1 7 8 0 0 पर कॉल करके अपने संदेश रिकार्ड करा सकते हैं और नमो ऐप ओपन फोरम या माई जीओवी पर सुझाव भेज सकते हैं। 1922 पर मिस्ड कॉल देकर एसएमएस से प्राप्त लिंक पर भी सुझाव दे सकते हैं। कार्यक्रम के लिए सुझाव आज तक दिये जा सकते हैं।

----------------------

प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पी के मिश्रा की अध्‍यक्षता में आज नयी दिल्‍ली में एक उच्‍च स्‍तरीय बैठक में कोरोना वायरस के प्रकोप पर चर्चा की गई। बैठक में अधिकारियों ने श्री मिश्रा को इस बीमारी से जुड़े हाल के घटनाक्रम तथा इसके फैलाव को रोकने के लिए की गई तैयारियों तथा निपटने के उपायो से अवगत कराया। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने भी श्री मिश्रा को अस्‍पतालों तथा जांच केन्‍द्रों की तैयारियों तथा त्‍वरित कार्रवाई दलों को सशक्‍त करने और इस बीमारी पर नज़र रखने के उपायों की जानकारी दी।


श्री मिश्रा ने नागरिक विमानन मंत्रालय जैसे अन्य मंत्रालयों द्वारा उठाए गए एहतियाती उपायों की भी समीक्षा की।


कई केंद्रीय दल विभिन्‍न राज्यों के हवाई अड्डों का दौरा करेंगे। इन दलों में जनस्वास्थ विशेषज्ञ, चिकित्‍सा विशेषज्ञ और वायरस विशेषज्ञ शामिल हैं।

----------------------

भारत और ब्राजील ने आज 15 समझौतों पर हस्‍ताक्षर किये । ये समझौते व्‍यापार, निवेश, तेल, गैस, साइबर सुरक्षा और सूचना तकनीक सहित विभिन्‍न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के बारे में हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ब्राजील के राष्‍ट्रपति जायेर मेसियास बोल्‍सोनारो के बीच नई दिल्‍ली में वार्ता के बाद इन  पर हस्‍ताक्षर किये गये। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत और ब्राजील ने परस्‍पर सहयोग बढ़ाने के लिए एक कार्ययोजना को भी अंतिम रूप दिया है। उन्‍होंने कहा कि श्री बोल्‍सोनारो की भारत-यात्रा से दोनों देशों के बीच सहयोग का नया अध्‍याय शुरू हुआ है। श्री मोदी ने कहा कि भारत के आर्थिक विकास में ब्राजील महत्‍वपूर्ण भागीदार है।


भोगौलिक दूरी के बावजूद हम विश्‍व के अनेक मंचों पर साथ हैं और विकास के एक दूसरे के महत्‍वपूर्ण पार्टनर भी हैं और इसलिए आज राष्‍ट्रपति बोल्‍सोनारो और मैं हमारे द्वीपक्षीय सहयोग को सभी क्षेत्र में और बढ़ाने पर सहमत हुए।

----------------------

भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच दूसरा ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट मैच कल ऑकलैंड में खेला जाएगा। यह मैच भारतीय समय अनुसार दोपहर बारह बजकर बीस मिनट पर शुरू होगा। 

----------------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 21 (Feb) Midday News 20 (Feb) News at Nine 20 (Feb) Hourly 21 (Feb) (1300hrs)
समाचार प्रभात 21 (Feb) दोपहर समाचार 20 (Feb) समाचार संध्या 20 (Feb) प्रति घंटा समाचार 21 (Feb) (1305hrs)
Khabarnama (Mor) 21 (Feb) Khabrein(Day) 20 (Feb) Khabrein(Eve) 20 (Feb)
Aaj Savere 21 (Feb) Parikrama 20 (Feb)

Listen Programs

Market Mantra 20 (Feb) Samayki 20 (Feb) Sports Scan 20 (Feb) Spotlight/News Analysis 20 (Feb) Samachar Darshan 19 (Feb) Radio Newsreel 18 (Feb)
    Public Speak

    Country wide 20 (Feb) Surkhiyon Mein 20 (Feb) Charcha Ka Vishai Ha 19 (Feb) Vaad-Samvaad 18 (Feb) Money Talk 18 (Feb) Current Affairs 14 (Feb)
  • Money Matters 20 (Feb)
  • International News 21 (Feb)
  • Press Review 21 (Feb)
  • From the States 21 (Feb)
  • Let's Connect 21 (Feb)
  • 360°- Ek Parivesh 20 (Feb)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 21 (Feb)
  • Sanskriti Darshan 20 (Feb)
  • Fit India New India 21 (Feb)