A- A A+
Last Updated : Jun 3 2020 7:28AM     Screen Reader Access
News Highlights
PM Modi reiterates govt’s commitment to save lives and also to stabilize economy            COVID-19 recovery rate improves to over 48 per cent            France assures timely delivery of Rafale aircraft to India            NDRF teams deployed in Gujarat, Maharashtra in view of Cyclone Nisarga; PM assures all possible support            Nitin Gadkari announces development of new Greenfield expressway to Amritsar           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2045 HRS
03.04.2020
मुख्य समाचार:-
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने लोगों से कोरोना वायरस को हराने में एकजुटता की भावना प्रकट करने के लिए रविवार को रात नौ बजे दीये, मोमबत्तियां  या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने को कहा।
  • केन्‍द्र ने लोगों से कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे का आकलन करने के लिए आरोग्‍य सेतु ऐप डाउनलोड करने का आग्रह किया।
  • प्रधानमंत्री ने खिलाडियों से सकारात्‍मकता और सामाजिक दूरी अपनाने का संदेश देने को कहा।
  • भारतीय रिजर्व बैंक ने मुद्रा कारोबार और ऋण बाजार के समय को कम किया।
  • संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा ने कोविड-19 पर प्रस्‍ताव पारित किया। महामारी से निपटने के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय सहयोग का आह्वान।

-----------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कोरोना वायरस को पराजित करने के लिए देशवासियों से सामूहिक प्रयास करने का आहवान किया है। उन्‍होंने कहा कि रविवार पांच अप्रैल को रात 9 बजे, 9 मिनट के लिए घरों की बत्तियां बंद करें तथा दीये और मोमबत्‍ती जलाकर या मोबाइल की फ्लैश-लाइट के जरिए देश की सामूहिक शक्ति का परिचय दें।



घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर नौ मिनट के लिए मोमबत्‍ती, दीया, ट्रॉर्च या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाएं और उस समय यदि घर की सभी लाइटें बंद करेंगे, चारों तरफ जब हर व्‍यक्ति एक-एक दीया जलाएगा, तब प्रकाश की उस महाशक्ति का अहसास होगा, जिसमें एक ही मकसद से हम सब लड़ रहे हैं ये उजागर होगा।


प्रधानमंत्री ने आज सवेरे एक वीडियो संदेश में कहा कि लोग अपने घर में रहें और दिया जलाते समय समूह में इकट्ठे न हों।



इस आयोजन के समय किसी को भी कही पर भी इकट्ठा नहीं होना है। रास्‍तों में, गलियों में या मोहल्‍लों में नहीं जाना हैं। अपने घर के दरवाजे, बालकनी से ही इसे करना है। सोशल डिस्‍टेंसिंग, सोशल डिस्‍टेंसिंग की लक्ष्‍मण रेखा को कभी भी लांघना नहीं है। सोशल डिस्‍टेंसिंग को किसी भी हालत में तोड़ना नहीं है। कोरोना की चेन तोड़ने का यही रामबाण इलाज है।


श्री मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण लागू किए गए लॉकडाउन में लोगों ने अभूतपूर्व अनुशासन और सेवा की भावना का परिचय दिया है।



कुछ लोग ये भी सोच रहे होंगे कि इतनी बड़ी लड़ाई को वो अकेले कैसे लड़ पाएंगे। ये प्रश्‍न भी मन में आते होंगे कि कितने दिन ऐसे और काटने पड़ेगे। साथियों ये लॉकडाउन का समय जरूर है। हम अपने-अपने घरों में जरूर हैं। लेकिन हममें से अकेला कोई नहीं है। 130 करोड़ देशवासियों की सामूहिक शक्ति हर व्‍यक्ति के साथ है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण लागू किए गए मौजूदा देशव्‍यापी पूर्णबंदी में लोगों ने अभूतपूर्व अनुशासन और सेवा की भावना का परिचय दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देशवासियों ने पिछले महीने की 22 तारीख को कोविड-19 के खिलाफ लड रहे लोगों के प्रति जिस प्रकार अपना आभार व्‍यक्‍त किया था वह दूसरे देशों के लिए उदाहरण बन गया है।

----------

सरकार ने कहा है कि देशभर में कुल तीस लाख लोगों ने आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड किया है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने आज नई दिल्ली में सभी नागरिकों से इस ऐप को डाउनलोड करने का आग्रह किया है।



एक नई एैप्‍लीकेशन आरोग्‍य सेतु भी कल लॉंच की थी। इस एैप के द्वारा आप अपना रिस्‍ट एैसेस्‍मैन्‍ट कर सकते हैं। साथ ही अगर कभी भी आप किसी कोरोना पॉजि़टिव पेशेन्‍ट आते हैं तो इस एैप के द्वारा आपको नोटिफिकेशन मिल सकता है। मैं सबको सूचित करना चाहूंगा कि अब तक 30 लाख लोगों ने इस एैप को डाउनलोड कर लिया है। यह एैप हमारे एैन्‍ड्रॉयड यूज़र्स के लिये प्‍लेस्‍टोर पर और आईओएस यूज़र्स के लिये एैप्‍पल प्‍ले स्‍टोर पर उपलब्‍ध है।


श्री अग्रवाल ने बताया कि देश में संक्रमित लोगों की संख्या दो हज़ार तीन सौ एक हो गयी है। इनमें से 157 लोगों को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी है, जबकि 56 लोगों की मृत्यु हुई है।


श्री अग्रवाल ने कहा कि पिछले दो दिन के दौरान चौदह राज्यों से ऐसे छह सौ सैंतालीस लोगों में वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है, जो नई दिल्ली के निज़ामुद्दीन मरकज़ में तबलीगी जमात में शामिल हुए थे। उन्होंने कहा कि इसके कारण देश में मरीजों की संख्या बढ़ी है।


श्री अग्रवाल ने कहा कि कृषि मंत्रालय सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए ई-नाम पोर्टल को बढावा दे रहा है, ताकि किसान अपने उत्पाद ऑनलाइन बेच सकें। उन्होंने कहा कि अब देश में पांच सौ 85 मंडियां ई-नाम से जुड़ गयी हैं।


श्री अग्रवाल ने कहा कि रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन स्वास्थ्यकर्मियों के लिए बायोसूट विकसित कर रहा है।


गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने कहा कि केंद्र ने राज्यों से स्वास्थ्यकर्मियों को सुरक्षा उपलब्ध कराने को कहा है।



कुछ स्‍थानों पर हैल्‍थ के प्रोफैशनल्‍स और फ्रन्‍टलाइन वर्कर्स की सिक्‍योरिटी से सम्‍बन्धित इंसिडेन्‍ट्स हुए हैं। इस सन्‍दर्भ में एमएचए ने राज्‍य सरकारों को पत्र द्वारा और मीटिंग्‍स में कहा है कि स्ट्रिक्‍ट एक्‍शन लें और हमारी जो मैडिकल फैटर्निटी है उसकी सुरक्षा सुनिश्चित करें।


केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से आग्रह किया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के लाभ जल्द से जल्द लाभार्थियों को उपलब्ध कराए जाएं। गृह मंत्रालय ने तबलीगी जमात में शामिल नौ सौ साठ विदेशी नागरिकों को प्रतिबंधित सूची में डाला है।



तबलीग जमात वर्कर्स के सन्‍दर्भ में गृह मंत्रालय ने 960 फोरनर्स जो इंडिया ट्यूरिस्‍ट वीज़ा पर आये थे और अभी देश में हैं को ब्‍लैक लिस्‍ट कर दिया है। लगभग 360 फोरनर्स जिन्‍होंने तबलीग एक्‍टीविटीज़ में पार्टिसिपेट किया था पर अब अपने देश वापस जा चुके हैं उनके भी खिलाफ ब्‍लैकलिस्टिंग की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। सभी डीजीपीज़ और कमीशनर पुलिस को बोला गया है कि वीज़ा वॉयलेटर्स के खिलाफ डिज़ास्‍टर मैनेजमैन्‍ट एैक्‍ट और फोरनर्स एक्‍ट के तहत स्‍ट्र‍िक्‍ट कार्यवाही की जाये।


पुण्‍य सलिला श्रीवास्तव ने कहा कि सभी पुलिस महानिदेशकों और पुलिस आयुक्तों को आपदा प्रबंधन अधिनियम और विदेशी अधिनियम के तहत वीज़ा शर्तों का उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने बताया कि सात मौजूदा हेल्पलाइनों के अलावा दो नये हेल्पलाइन नम्बर शुरू किये गये हैं। ये नम्बर हैं--1930. इस नम्बर पर देशभर से टोलफ्री सम्पर्क किया जा सकता है। दूसरा नम्बर है--1944. यह नम्बर पूर्वोत्तर राज्यों के लोगों के लिए शुरू किया गया है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के डॉक्टर मनोज ने कहा कि 182 प्रयोगशालाओं में नोवेल कोरोना वायरस की जांच करने की अनुमति दी गई है। इनमें से 130 सरकारी और 52 निजी प्रयोगशालाएं हैं। डॉक्टर मनोज ने कहा कि कल अब तक के सबसे अधिक आठ हज़ार नमूनों की जांच की गई।

------------

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने हाल ही में निजामुद्दीन तब्‍लीगी जमात के लोगों से अपील की है कि वे स्‍वयं आगे आएं और जांच कराएं। राज्‍य सरकार ने कहा है कि ऐसे लोगों को प्रशासन को सूचना देनी चाहिए और जांच के बाद स्‍वयं को अलग-थलग रखें। इस बीच मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने सभी जिला अधिकारियों को समाज के धार्मिक गुरूओं और प्रभावशाली व्‍यक्तियों से बात करने तथा कोराना वायरस से संघर्ष में उनकी मदद लेने का निर्देश दिया है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि राज्‍य सरकार ने 248 विचाराधीन नाबालिग कैदियों को भी रिहा करने का फैसला किया है।



अपर मुख्‍य सचिव गृह अवनीश अवस्‍थी ने आज कहा कि अब तक 1203 एैसे लोगों की पहचान की जा चुकी है जो दिल्‍ली के निज़ामुद्दीन इलाके में हुई जमात में शामिल हुए थे। इनमें से 897 लोगों की चिकित्‍सा जांच भी की जा चुकी है। पूरे प्रदेश में 296 विदेशी नागरिकों की भी पहचान की गई है। इस सिलसिले में विभिन्‍न धाराओं के तहत 16 जिलों में 35 मुकदमें दर्ज किये जा चुके हैं। बड़ी संख्‍या में धार्मिक स्‍थलों से लोगों को बुलाकर क्‍वारंटीन किया गया है। उन्‍होंने कहा कि पुलिस को एैसे लोगों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई के निर्देश दिये गये हैं, जो चिकित्‍सकीय जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। इस बीच राज्‍य सरकार ने 248 विचाराधीन नाबालिग कैदियों को रिहा करने का फैसला किया है। सुशील चन्‍द्र तिवारी / आकाशवाणी समाचार / लखनउ।

---------

मध्‍य प्रदेश के इंदौर में पुलिस ने डॉक्‍टरों पर हमले का षड्यंत्र रचने वाले चार आरोपि‍यों सहित 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। चारों आरोपियों के खिलाफ राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की गई है। पुलिस की टीम इस घटना में शामिल अन्‍य लोगों की तलाश कर रही है।

---------

ओडिशा सरकार ने आज से भुवनेश्‍वर, कटक और भद्रक शहर को 48 घंटे के लिए पूर्ण रूप से बंद करने की घोषणा की है। हमारे संवाददाता के अनुसार यह घोषणा आज ओडिशा के मुख्‍य सचिव असित त्रिपाठी ने भुवनेश्‍वर में की।



ओडि़शा के भुवनेश्वर, कटक और भद्रक  में  तीन व्यक्ति  कोरोना से संक्रमित होने के बाद राज्य सरकार ने तीनों शहरों को पूरी तरह से बंद करने का निर्णय लिया है। मुख्य सचिव असित त्रिपाठी ने कहा कि इसे कर्फ्यू ही समझा जाए। कटक में छठा, भुवनेश्वर में पांचवां व्यक्ति संक्रमित होने के बाद यह कड़ा फैसला लिया गया है भुवनश्वर संक्रमित व्यक्ति का कोई ट्रैवेल हिस्ट्री भी नहीं फिर भी वह कोरोना से संक्रमित हुआ इसीलिए  राज्य में बड़े पैमाने पर सामुदायिक संक्रमण की आशंका जताई जा रही है। मुख्य सचिव ने आगाह किया कि लॉकडाउन दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने वाले किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी इतिश्री सिंह राठौर / आकाशवाणी समाचार, कटक।

-----------

हिमाचल प्रदेश के शिमला में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए की जा रही तैयारियों और राज्‍य में इसकी वर्तमान स्थिति के बारे में बताया गया। एक रिपोर्ट:-


आज की बैठक में मंत्रिमंडल को स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण विभाग द्वारा कोविड-19 से निपटने के लिये की जा रही तैयारियों और राज्‍य में इसकी वर्तमान स्थिति के बारे में बताया गया। बैठक के दौरान मंत्रिमंडल ने औद्योगिकीकरण को बढ़ावा देने, अर्थव्‍यवस्‍था को पुनर्जीवित करने और राज्‍य के उद्मियों को सुविधा प्रदान करने के लिये स्‍टाम्‍प शुल्‍क और पंजीकरण शुल्‍क में रियायत और प्रोत्‍साहन प्रदान करने का निर्णय लिया है। वहीं कैबिनेट ने कोविड 19 से निपटने के लिये तीन महीने के लिये आउटसोर्स के आधार पर आवश्‍यक्‍ता के अनुसार विभिन्‍न मैडिकल एवम् पैरामैडिकल पदों को भरने का निर्णय भी लिया है। कैबिनेट ने श्री लाल बहादुर शास्‍त्री मैडिकल कॉलेज, नेब चौक मंडी को कोविड 19 अस्‍पताल बनाने को मंजूरी भी दी है। संजीव सुन्‍द्रीयाल / आकाशवाणी समाचार / शिमला।

-----------

राजस्‍थान में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़कर 166 हो गये हैं। राज्‍य में आज तीस नये मामलों की पुष्टि हुई है। 12-12 मामले जयपुर और टोंक से, तीन उदयपुर से, दो बीकानेर और एक दौसा से है। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से:-



नये मामलों में ज्यादातार संख्या तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों अथवा उनके संपर्क में आने वाले व्यक्तियों की हैं। राजधानी जयपुर में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढकर 53 हो गयी है। राज्य के 17 जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं। 21 लोग कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। कुछ स्थानों पर चिकित्सा दलों को सहयोग नहीं करने और उनके साथ दुव्यर्वहार करने के मामले सामने आये हैं। इसके बाद, चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने चेतावनी दी है कि चिकित्सा दलों के साथ दुव्यर्वहार करने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बताया कि धार्मिक और पर्यटन स्थलों के आसपास रैंडम सैंपलिंग की जायेगी। जितेन्द्र द्विवेदी / आकाशवाणी समाचार / जयपुर।

-----------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कोविड-19 से निपटने के लिए पांच सूत्री मंत्र दिया है, जिसमें संकल्‍प, संयम, सकारात्‍मकता, सम्‍मान और सहयोग शामिल है। वे आज नई दिल्‍ली में विभिन्‍न खेलों में विशिष्‍ट योगदान देने वाले चालीस प्रमुख खिलाडियों के साथ बातचीत कर रहे थे। चर्चा में भारत रत्‍न सचिन तेंडुलकर, बी.सी.सी.आई अध्‍यक्ष सौरभ गांगुली, महिला हॉकी टीम की कप्‍तान रानी रामपाल और बैडमिंटन खिलाडी पी.वी. सिंधु शामिल थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोविड-19 समूची मानवता के खिलाफ है और स्थिति की गंभीरता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि द्वितीय विश्‍वयुद्ध के बाद यह पहला अवसर है जब ओलंपिक खेल स्‍थगित करने पडे हैं। श्री मोदी ने कहा कि महामारी से उत्‍पन्‍न चुनौती को देखते हुए विंबल्‍डन जैसी प्रमुख अंतर्राष्‍ट्रीय प्रतियोगिता और आईपीएल क्रिकेट जैसी घरेलू प्रतियोगिताएं भी स्‍थगित की जा रही हैं।


श्री मोदी ने कहा कि खिलाडियों ने राष्‍ट्र का गौरव बढाया है। उन्‍होंने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में उन्‍हें राष्‍ट्र का नैतिक बल बढाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका अदा करनी है। खिलाडियों ने प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व की सराहना करते हुए सुरक्षित दूरी बनाए रखने के संदेश के प्रसार का संकल्‍प व्‍यक्‍त किया।

------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि भारत कोविड-19 को हराने के प्रयासों में एकजुट है और कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में समाज के सभी वर्गों के लोगों से सहायता मिल रही है। एक ट्वीट में श्री मोदी ने पीएम केयर्स कोष में योगदान के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन, केन्‍द्रीय सचिवालय सेवा मंच, सीमा सुरक्षाबल, ए.यू. स्‍मॉल फाइनेंस बैंक और लूलू ग्रुप इंटरनेशनल का आभार व्‍यक्‍त किया।

-----------

गृह मंत्री अमित शाह ने राज्य आपदा प्रबंधन कोष के तहत सभी राज्यों के लिए ग्यारह हज़ार 92 करोड़ रुपये जारी करने की अनुमति दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान इसका आश्वासन दिया था। केंद्र ने राज्य सरकारों के पास उपलब्ध फंड बढ़ाने के लिए 2020-21 के वास्ते राज्य आपदा जोखिम प्रबंधन कोष की पहली किस्त अग्रिम रूप से जारी कर दी है। केंद्र सरकार, लॉकडाउन के कारण फंसे प्रवासी कामगारों सहित बेघर लोगों को भोजन और आवास उपलब्ध कराने की आवश्यकता के प्रति संवेदनशील है। 28 मार्च को केंद्र सरकार ने इसके लिए राज्य आपदा जोखिम प्रबंधन कोष से धन का इस्तेमाल करने की मंज़ूरी दी थी।

-----------

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिये गृहमंत्रालय, केन्‍द्रीय पुलिस संगठनों और छह केन्‍द्रशासित प्रदेशों के अधिकारियों और कर्मचारियों ने अपने एक दिन का वेतन प्रधानमंत्री केयर्स कोष में दान दिया है। यह राशि 93 करोड़ रुपये है। गृहमंत्री अमित शाह ने इन लोगों के प्रति आभार व्‍यक्‍त करते हुये कहा कि अर्द्ध सैनिक बल के जवानों ने भी प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के अह्वान पर एक सौ 16 करोड़ रुपये पीएम केयर्स कोष में दान दिये हैं। प्रधानमंत्री ने इस‍के लिये गृहमंत्रालय की टीम की सराहना की है। उन्‍होंने कहा कि ये लोग देश की सुरक्षा के लिये रात-दिन काम करते है और अब कोविड-19 जैसी महामारी से निपटने के लिये भी योगदान दे रहे हैं।

----------

विद्युत तथा नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के सार्वजनिक उपक्रमों ने पीएम केयर्स कोष में नौ सौ 25 करोड़ रुपये दान देने का फैसला किया है। केन्‍द्रीय विद्युत, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने बताया कि इसमें से नौ सौ पांच करोड़ रुपये विद्युत मंत्रालय की सर्वाजनिक इकाइयों तथा बीस करोड़ रुपये नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के सार्वजनिक उपक्रमों द्वारा दिये जा हैं।

-------------

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज कोविड-19 की स्थिति के बारे में मंत्रिसमूह के सदस्‍यों के साथ विचार विमर्श किया। बैठक में उपस्थित सभी मंत्रियों ने वायरस से निपटने और लोगों की सुरक्षा तथा खुशहाली सुनिश्चित करने के उपायों पर विचार किया। गृह मंत्री अमित शाह, सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर और उपभोक्‍ता कार्य मंत्री रामविलास पासवान भी बैठक में मौजूद थे।

-----------

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कोविड-19 से निपटने के लिए की जा रही तैयारियों का व्‍यक्तिगत रूप से जायजा लेने के लिए आज राममनोहर लोहिया और सफदरजंग अस्‍पताल का दौरा किया। राममनोहर लोहिया अस्‍पताल में डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने फ्लू कॉर्नर, आपातकालीन देखभाल केंद्र, ट्रॉमा सेंटर ब्‍लॉक और कोरोना जांच केंद्र का दौरा किया। डा0 हर्षवर्धन ने निरीक्षण के दौरान मरीजों और दिन-रात काम कर रहे स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों का उत्‍साह बढ़ाया।



इन केंद्रों का दौरा करने के बाद स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने स्‍क्रीनिंग प्रक्रिया के संचालन पर संतोष व्‍यक्‍त किया। वे माइक्रो बायोलॉजी विभाग भी गए जो रोजाना बडी संख्‍या में नमूनों की देखभाल कर रहा है। यहां उन्‍होंने नमूने प्राप्‍त करने और वैज्ञानिक परीक्षण की प्रक्रिया का बारीकी से अवलोकन किया। उन्‍होंने संक्रमण नियंत्रण तरीकों का पालन करने के लिए विभाग की सराहना की, जिससे जांच के परिणाम सटीक और प्रामाणिक सुनिश्चित हो सकें।


सफदरजंग अस्पताल में डॉक्टर हर्षवर्धन ने सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक में उपलब्ध सेवाओं की विस्तृत समीक्षा की, जो अत्याधुनिक कोविड-19 आइसोलेशन प्रबंधन केंद्र बनाया गया है। इसमें चार सौ आइसोलेशन और एक सौ आईसीयू बिस्तर हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने विशेष रूप से कोविड-19 रोगियों से संबंधित डॉक्टरों, नर्सों, अस्पताल और स्वच्छताकर्मियों को संबोधन में कहा कि वे रोगियों को तत्काल राहत उपलब्ध कराने के लिए अथक रूप से कार्य कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने देश में कोविड-19 से निपटने में स्वास्थ्य क्षेत्र के समक्ष आ रही चुनौतियों पर भी चर्चा की।

------------

कोविड-19 महामारी के मद्देनज़र रिज़र्व बैंक ने बाज़ार की समय अवधि में परिवर्तन की अधिसूचना जारी की है। सरकारी प्रतिभूतियों, कॉर्पोरेट बॉण्ड, देसी और विदेशी मुद्रा, वाणिज्यिक पत्र और जमा प्रमाण पत्रों से संबंधित बाज़ार सात अप्रैल से सुबह दस बजे से दोपहर दो बजे तक काम करेंगे। रिज़र्व बैंक ने कहा है कि लॉकडाउन, सामाजिक दूरी, कर्मचारियों के आवागमन पर प्रतिबंध, घर से काम करने की व्यवस्था और कार्य जारी रखने की योजनाओं से संचालन और लॉजिस्टिक संबंधी खतरे बढ़ गये हैं। रिजर्व बैंक ने कहा है कि गतिविधियां कम होने से बाज़ार में नकदी पर बुरा असर पड़ रहा है। रिज़र्व बैंक ने कहा कि नया कार्य समय सत्रह अप्रैल तक लागू रहेगा। यह स्पष्ट किया गया है कि ग्राहकों के लिए आर.टी.जी.एस., एन.ई.एफ.टी., ई-कुबेर और अन्य भुगतान प्रणालियों सहित सभी नियमित बैंकिंग सेवाएं मौजूदा समय के अनुसार ही काम करती रहेंगी। शेयर बाज़ार का समय भी नहीं बदला गया है।

-----------

देशभर में नोवेल कोरोना वायरस के बढ़ते मरीजों के मद्देनज़र स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने महामारी फैलने से रोकने के लिए कई परामर्श जारी किए हैं। एक रिपोर्ट:-

----------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग एक्‍सपर्ट स्‍पीक कार्यक्रम में कोविड-19 महामारी के बारे में विशेषज्ञ डॉक्‍टरों की राय प्रसारित करता है। इस श्रृंखला में नई दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान-एम्‍स के अनेस्थिसिया विभाग के प्रोफेसर डॉक्‍टर अंजन त्रिखा ने लोगों से कोरोना वायरस के संक्रमण से स्‍वयं को बचाने के लिए घरो में ही रहने आग्रह किया है।



नई दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान के लेबोरेट्री मेडिसन के प्रोफेसर डॉक्‍टर पूर्वा माथुर ने कहा है कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखना बहुत महत्‍वपूर्ण है।

-----------

फिल्‍म अभिनेता ऋतिक रोशन ने भी लोगों से घर में रह कर लॉकडाउन का पालन करने और साफ-सफाई का ध्‍यान रखने की अपील की है।



दोस्‍तों आज हम सब एक बहुत मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। कोरोना वायरस एक एैसी सच्‍चाई है जो ज़ोरों से खेल रही है और अब हम इस बीमारी से, इस सच्‍चाई से, हालातों से हम मु्ंह नहीं मोड़ सकते। हमें इसका सामना करना है और सामना करने के लिये कुछ कदम हैं जो हम उठा सकते हैं। सबसे पहले कदम है साबुन से अपने हाथों को धोयें, हर एक घंटे पर। यह बहुत ही आसान रास्‍ता है, इस महामारी को रोकने का। प्‍लीज़ कीजिये। दूसरा कदम है सोशल डिस्‍टैन्सिंग का। एक-दूसरे से कम से कम 6 फीट की दूरी पर रहें। आइये थोड़ा जिम्‍मेदार बनते हैं, इस वायरस से लड़ते हैं। हम सब एक साथ हैं इसमें।

-----------

केन्‍द्र सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर आवश्‍यक वस्‍तुओं की सुचारू आपूर्ति के लिए कई कदम उठाये। सरकार ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान दवाओं की कोई कमी नहीं होगी। एक रिपोर्ट:-

----------

कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिये भारतीय रेल अपने संसाधनों का पूरी क्षमता के साथ इस्‍तेमाल कर रही है। रेल मंत्री पीयूष गोयल और रेल बोर्ड के अध्‍यक्ष विनोद कुमार यादव सभी तैयारियों की नियमित रूप से समीक्षा कर रहे हैं। एक रिपोर्ट:-


देशभर में आवश्‍यक वस्‍तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये माल गाडियों की सेवा निर्बाध रूप से चौबिसों घंटे उपलब्‍ध है। 24 मार्च से दो अप्रैल के बीच माल गाडियों के चार लाख वैगनों के जरिए देश भर में आवश्‍यक वस्‍तुओं की आपूर्ति की गई। इन में से दो लाख से ज्‍यादा वैगनों में खाद्यान नमक, चीनी, दूध, खाने के तेल, प्‍याज, फल और सब्जियां, पैट्रोलियम उत्‍पाद, कायेला और उर्वरकों की ढुलाई की गई। आवश्‍यक वस्‍तुओं की आपूर्ति श्रृंखला बनाये रखने के लिये रेलवे के कर्मचारी विभिन्‍न माल गोदामों, स्‍टेशनों और नियंत्रण कक्षों में रात-दिन काम कर रहे हैं। रेल पायलट और गार्ड पूरी तत्‍परता के साथ अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के इलाज के लिये देश के विभिन्‍न स्‍थानों में स्थित रेलवे के प्रतिष्‍ठानों तथा अस्‍पतालों में अलग से क्रमश: पांच हजार और 11 हजार बिस्‍तरों की व्‍यवस्‍था की गई है। देश में कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए भारतीय रेल सरकार द्वारा चलाई जा रही स्‍वास्‍थ्‍य सेवा पहल में बढ़ चए़ कर योगदान दे रही है। इसी क्रम में रेल मंडलों की उत्‍पादन इकाइयों और सार्वजनिक उपक्रमों में बड़े पैमाने पर मास्‍क और सैनेटाइजर बनाये जा रहे हैं। अनुपम मिश्र / आकशवाणी समाचार / दिल्‍ली।

--------------

संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा ने कोविड-19 के बारे में सर्वसम्‍मति से एक प्रस्‍ताव पारित किया है, जिसमें इस महामारी को हराने के लिए गहन अंतर्राष्‍ट्रीय सहयोग की मांग की है। भारत सहित एक सौ 88 देशों द्वारा सह-प्रायोजित प्रस्‍ताव को कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ संघर्ष में वैश्विक एकजुटता का नाम दिया गया है। विश्‍व संगठन द्वारा इस वैश्विक महामारी के बारे में जारी किया गया अपनी तरह का यह पहला दस्‍तावेज है। इसमें कहा गया है कि महासभा ने महसूस किया है कि इस महामारी से लोगों के स्‍वास्‍थ्‍य, सुरक्षा और खुशहाली पर गंभीर दुष्‍प्रभाव पड़ा है। प्रस्‍ताव में सूचना, वैज्ञानिक जानकारी और उत्‍कृष्‍ट पद्धतियों के आदान-प्रदान में अंतर्राष्‍ट्रीय सहयोग बढ़ाने की आवश्‍यकता पर बल दिया है। इसमें कहा गया है कि देशों को विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के दिशा-निर्देशों का अनुपालन करना होगा। संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में कोरोना वायरस के प्रकोप के बारे में विचार-विमर्श किया जाना है, जबकि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से पीडित मरीजों की संख्‍या दस लाख को पार कर गई है।

--------------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कोविड-19 से लड़ाई में प्रत्येक दिन बहुत महत्वपूर्ण है। ट्विटर पर आज लोगों के प्रश्नों का उत्तर देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रत्येक दिन लोगों को ज़्यादा मज़बूत, एकजुट और पूरी एहतियात के साथ अनुशासित रहने की आवश्यकता का महत्व बताता है। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में शांति, प्रसन्नता और अनुकम्पा बहुमूल्य होगी तथा रविवार को इससे एकजुटता और मज़बूत होगी। श्री मोदी ने कहा कि एकजुटता की भावना से इस महामारी से लड़ाई का इरादा और मज़बूत होगा। उन्होंने कहा कि संकट के समय में एकजुटता की भावना अनेक लोगों के दिलों में आशा और दृढ़ निश्चय का संचार करेगी।

--------------

वित्‍त मंत्रालय ने कोविड-19 संकट के दौरान अपने वित्‍तीय संसाधन बढाने के लिए विभिन्‍न राज्‍यों को सत्रह हजार दो सौ 87 करोड रुपये जारी किए हैं। इसमें 14 राज्‍यों को 15वें वित्‍त आयोग की सिफारिशों के तहत राजस्‍व घाटा अनुदान के लिए दिए गए 6 हजार 195 करोड रुपये शामिल हैं।

-------------

पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने आज कहा कि लॉकडाउन को लागू करने के लिए क्षेत्र की अंतर्राष्ट्रीय सीमा प्रभावी ढंग से बंद की गयी है। डॉक्टर सिंह ने कोविड-19 महामारी के मद्देनज़र अपने मंत्रालय, पूर्वोत्तर परिषद और पूर्वोत्तर विकास वित्त निगम लिमिटेड के अधिकारियों के साथ विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने पूर्वोत्तर क्षेत्र में वायरस को फैलने से रोकने के उपायों की समीक्षा की। मंत्री को बताया गया कि पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय का शत-प्रतिशत कार्य ई-ऑफिस पर किया जा रहा है।

-------------

नौसेना के मुंबई स्थित डॉकयार्ड ने अपने कर्मचारियों की स्‍क्रीनिंग के लिए इन्फ्रारेड आधारित तापमान जांचने वाली गन विकसित की है। स्‍वदेशी तकनीक से निर्मित इस गन की कीमत एक हजार रुपये से भी कम है।

------------


Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 2 (Jun) Midday News 2 (Jun) Evening News 2 (Jun) Hourly 3 (Jun) (0605hrs)
समाचार प्रभात 2 (Jun) दोपहर समाचार 2 (Jun) समाचार संध्या 2 (Jun) प्रति घंटा समाचार 3 (Jun) (0600hrs)
Khabarnama (Mor) 2 (Jun) Khabrein(Day) 2 (Jun) Khabrein(Eve) 2 (Jun)
Aaj Savere 2 (Jun) Parikrama 2 (Jun)

Listen Programs

Market Mantra 2 (Jun) Samayki 2 (Jun) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 2 (Jun) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 2 (Jun) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)