A- A A+
Last Updated : May 29 2020 4:48PM     Screen Reader Access
News Highlights
HM Amit Shah speaks to all Chief Ministers; Seeks their views on future strategy in fight against Covid 19            COVID recovery rate improves to 42.88 %, Over 71 thousand patients cured so far            449 domestic flights operated on day-3 of resumption of Air Lines services: Civil Aviaiton Minister HS Puri            Railways Ministry appeals persons in COVID-19 risk category to avoid travel by trains            Over 2 lakh metric tonnes of food grains lifted by states for May & June: FCI           

Text Bulletins Details


समाचार प्रभात

0800 HRS
06.04.2020
मुख्य समाचारः-
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में संपूर्ण राष्ट्र ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई जीतने का संकल्प लिया।
  • प्रधानमंत्री की 'नौ बजे, नौ मिनट' की अपील पर देशभर से लाखों लोगों ने दीप और मोमबत्ती जलाकर कोरोना वायरस के खिलाफ लडा़ई में एकता का परिचय दिया।
  • केन्द्र ने कोविड-19 महामारी को देखते हुए संगरोध सुविधाओं के लिए दिशा-निर्देश जारी किए।
  • नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने 14 अप्रैल के बाद उड़ान शुरू होने की खबरों का खंडन किया।
  • केन्द्र ने राज्य सरकारों को पूर्णबंदी के दौरान आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में लगे ट्रक चालकों और कामगारों को अपने कार्य स्थल तक पहुंचने की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।
  • भारतीय खाद्य निगम ने अपने गोदामों से एक दिन में अनाज जारी करने का रिकार्ड बनाया।
  • हरियाणा सरकार ने कक्षा आठ तक के सभी छात्रों को बिना परीक्षा के अगली कक्षा में भेजने का फैसला किया।


----------------

 
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के आह्वान पर कल रात राष्‍ट्र ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई जीतने का संकल्‍प व्‍यक्‍त किया। कल रात 9 बजे से 9 मिनट के लिए देशभर में लोगों ने अपने घरों की बत्तियां बंद करके दीप, मोमबत्ती और टार्च लाइट से प्रकाश किया। श्री मोदी ने स्‍वयं दीप प्रज्जवलित करते हुए अपना फोटो साझा किया है।

----------------

 
राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्‍ट्रपति एम वेकैंया नायडू ने भी दीप और मोमबत्तियां जलाकर देशवासियों के साथ एकजुटता प्रदर्शित की। केन्‍द्रीय मंत्री, अमित शाह, डॉ हर्षवर्धन, पीयूष गोयल और अन्‍य नेता भी प्रधानमंत्री के इस देशव्‍यापी आह्वान में शामिल हुए। लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिरला और भारतीय जनता पार्टी के अध्‍यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने भी दीये प्रज्जवलित किए।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी जी के आह्वान पर रात्रि नौ बजे से लेकर नौ मिनट के लिए नौ-नौ तक दीप प्रज्‍वलित करके कोरोना के संक्रमण से लड़ने की जो इच्‍छा शक्ति को बल मिला है वह हम सबने सारे देश ने देखा है। प्रधानमंत्री जी के आह्वान पर हमारे 130 करोड़ का देश एक साथ जुट खड़ा है और सफलतापूर्वक पूरी ताकत लगाकर के कोरोना के संक्रमण से लड़ रहा है। 
 
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने परिवार के साथ दीप प्रज्ज्वलित किया। केन्‍द्रीय मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान ने भी दीप जलाकर अपने आवास पर कोरोना के खिलाफ लडाई में एकजुटता प्रदर्शित की।  सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने इस संकट की घड़ी में एकजुट होने के लिए देश का आभार व्‍यक्‍त किया।
 
जब देश पर कोई संकट आता है तब कोई कोई छोटी चीजे लगती है लेकिन जनता की ताकत को प्रकट करती है। अब प्रधानमंत्री जी ने ये जो अपील किया। नौ बजे पूरे देश के लिए इसका पालन किया। देश को हम बधाई दे रहे हैं, प्रधानमंत्री को भी हम बधाई। क्‍योंकि जब संकट का पूरा दुनिया उससे जूझ रही है और रास्‍ता खोजने की कोशिश कर रहे हैं, तब एक देश एक साथ खड़ा है तो मतलब देश की सरकार जो भी कहेगी देश की सुरक्षा के लिए, हर आदमी की सुरक्षा के लिए। 

----------------

 
ओडिसा में भी लोगों ने कल रात 9 बजे दीपक और मोमबत्‍ती जलाकर घरों को रोशन किया । एक रिपोर्ट-
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर लोगों ने अपनी बालकनी तथा बरमदे पर खड़े होकर मोमबत्ती, दीप आदि जलाएं। सच में ऐसा लग रहा था जैसे अंधेरा भगाने के लिए रोशनी का कोई पर्व मनाया जा रहा हो। इस बारे में कुछ  स्थानीय लोगों ने कहा कि यह दीपक की रोशनी यह बयां करती है कि जल्द ही हम कोरोना को हराएंगे। यह उम्मीद की किरण है। लोगों ने प्रधानमंत्री को धन्यवाद भी किया। उन्होंने कहा कि दीपक जलाने से ऐसा  महसूस हो रहा है जैसे पूरा भारत एक साथ खड़ा है। दुसरी ओर ओड़िशा में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 39 हो गई है। इनमें से भुवनेश्वर से ही 30 लोग हैं। इसके साथ ही लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने बाले 200 से अधिक लोगों को सरकारी एकांतवास केंद्रों में भेज दिया गया है।

----------------

 
कर्नाटक में, राज्‍यपाल वजुभाई वाला, मुख्‍यमंत्री बी एस येदियुरप्‍पा और उनकी मंत्रिपरिषद के सदस्‍यों, फिल्‍म अभिनेताओं और बडी संख्‍या में लोगों ने कल रात महामारी के खिलाफ संघर्ष में समूचे देश के साथ एकजुटता प्रदर्शित की। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि दीप जलाना इस महामारी को रोकने में जन सहयोग की दृष्टि से महत्‍वपूर्ण है। उन्‍होंने लोगों से अपील की कि वे अपने घरों में रहें और सुरक्षित दूरी बनाये रखें। हमारे संवाददाता ने बताया कि राज्‍य में संक्रमित रोगियों की संख्‍या 151 हो गई हैं। 
 
दीये जलाने के द्वारा संक्रमण को हराने का संकल्‍प में बल मिला है। एक सौ से ज्‍यादा कोविड-19 पॉजिटिव केसिस कर्नाटक में दाखिल हुए है। बंगलुरू, अरबन मैसूर, दक्षिण कन्‍नाडा, उत्‍तारा, कन्‍नाडा, बीदर, बल्‍लेरी, बेलागवी, चिकबल्‍लापुर में अत्‍याधिक प्रकरण दाखिल हुए हैं। कल सात केसिस होने के बाद राज्‍य में पॉजिटिव रोगियों की संख्‍या 151 पहुंच गई है। मगर पॉजिटिव केसिस अस्‍पताल में चिकित्‍सा पाकर ठीक ठाक घर जाने का समाचार भी प्राप्‍त हो रहा है। राज्‍य में अभी तक 12 ऐसे रोगी निरोगी होकर निकले हैं। 

----------------

 
भारतीय फिल्‍म उद्योग की प्रमुख हस्तियों ने भी प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के आह्वान पर कल दीप प्रज्‍वलित कर एकजुटता व्‍यक्त की। लता मंगेशकर, रजनी कांत, अक्षय कुमार, दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह इस अभियान में शामिल थे। फिल्‍म अभिनेत्री माधुरी दीक्षित ने कहा कि इस महामारी के खिलाफ संघर्ष में पूरा देश एकजुट है।

---------

 
खेल जगत के लोगों ने भी दीप और मेामबत्तियां प्रज्‍वलित कीं। क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर, भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान विराट कोहली, मुख्‍य कोच रवि शास्‍त्री और छह बार की विश्‍व चैम्पियन मुक्‍केबाज एम.सी. मैरिकॉम, ओलिम्पिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार, साक्षी मलिक, पी.वी. सिंधु तथा साइना नेहवाल ने भयानक महामारी के खिलाफ संघर्ष में एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया।

----------------

 
नेपाल की काठमाण्‍डू घाटी में भी लोगों ने महामारी से संघर्ष कर रहे वैश्विक समुदाय के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए दीप और मोमबत्तियां प्रज्ज्‍वलित कीं। घाटी के सैकड़ों लोगों ने कल शाम 7 बजे से रात 9 बजे के बीच दीये जलाए।

----------------

 
केन्‍द्र ने संक्रमित लोगों को अलग रखने की सुविधाओं के संबंध में दिशानिर्देश जारी किये हैं। इनमें कहा गया है कि पृथक निगरानी में रखने की व्यवस्था शहर के बाहरी इलाकों में की जानी चाहिए और ऐसे प्रबंध होने चाहिए कि अलग रखे गये व्‍यक्ति और स्‍वास्‍थ्‍य सेवाकर्मियों या उनका सहयोग करने वाले कर्मचारियों के बीच बातचीत कम से कम हो। स्‍वास्‍थ्‍य कल्‍याण मंत्रालय के परामर्श में कहा गया है कि इस अवधि के दौरान बुखार और सांस संबंधी लक्षणों की दैनिक निगरानी की जानी चाहिए। संक्रमित व्‍यक्ति को अलग रखने के समय समन्‍वय और निगरानी के लिए मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी को प्रभारी या नोडल अधिकारी के रूप में नियुक्‍त किया जाना चाहिए। इन केन्‍द्रों में स्‍टाफ नर्स और लैब तकनीशियन तैनात किए जाने चाहिए। 

----------------

 
महामारी के प्रकोप को देखते हुए कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन-ईपीएफओ अपने अंशधारकों को उनके रिकार्ड में जन्‍म तिथि सही करने की सुविधा ऑनलाइन देने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए उसने अपने अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किए हैं।
 
इस सुविधा का लाभ लेने के लिए ईपीएफओ के अंशधारकों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके बाद ईपीएफओ भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण के जरिए उनकी जन्‍म तिथि का मिलान कर उसे सही करेगा।
 
ईपीएफओ ने पूर्णबंदी के कारण उत्पन्न हुए आर्थिक संकट के दौर में अंशधारकों को अपनी भविष्‍य निधि से अग्रिम राशि निकालने की सुविधा भी ऑनलाइन देने की व्‍यवस्‍था की है।

----------------

 
देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या 3 हजार पांच सौ 77 हो गई है। इस महामारी से 83 लोगों की मृत्‍यु भी हुई है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ो में कहा गया है कि कोविड-19 के 3 हजार दो सौ 19 मरीजों का इलाज चल रहा है और 2 सौ 74 लोग स्‍वस्‍थ हो चुके हैं और उन्‍हें अस्‍पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।
 
दिल्‍ली में कोरोना वायरस के सबसे अधिक पांच सौ तीन मरीज हैं। इसके बाद, महाराष्‍ट्र में 490, तमिलनाडु में 485 और केरल में तीन सौ छह मरीज पाए गए हैं। महाराष्‍ट्र में सबसे अधिक 24 लोगों की इस महामारी से मृत्‍यु हुई है।
 
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने कल मीडिया को बताया कि सरकार पी.पी.ई. की आपूर्ति बढ़ा रही है और इसका घरेलू उत्‍पादन शुरू हो चुका है। उन्‍होंने कहा कि सरकार विश्‍व में इसकी खरीद कर रही है और कई समाजसेवी संगठन भी इसमें सहयोग कर रहे हैं।
 
उन्होंने कहा है कि वायरस के फैलाव को रोकने के लिए लोगों को सार्वजनिक स्थलों पर नहीं थूकना चाहिए और मुंह को कपड़े से ढक कर रखना चाहिए।

आईसीएमआर एक और एडवाईजरी के द्वारा है सार्वजनिक स्‍थानों पर थूकना कोविड वायरस के स्प्रेड को बढ़ा सकता है। कोविड-वॉयरस की महामारी के बढ़ते हुए खतरे के मद्देनजर देखते हुए उन्‍होंने अपील की है कि कोविड महामारी के दौरान ध्रूमपान, तम्‍बाकू उत्‍पादन, गुटका इत्‍यादि के सेवन और सार्वजनिक स्‍थानों पर थुकने से हम परहेज़ करें। 
 
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के प्रमुख वैज्ञानिक रमन गंगाखेडकर ने कहा कि कोविड-19 का संक्रमण, हवा से होने का कोई प्रमाण नहीं है।
 
एयर बोन होता था इंफेक्‍शन ड्रॉपलेट इंफेक्‍शन नहीं है एयर बोन इंफेक्‍शन है, तो कोई भी फैमिली में जो भी कॉन्‍टेक्‍टस् हैं सारे के सारे पॉजिटिव आने चाहिये वह तो वहीं माहौल में रह रहे हैं जिस माहौल में वह जो पेशेंट हैं वह भी सांस ले रहा है और हवा छोड़ते ही जा रहा है। हम को यह समझाना बहुत ही जरूरी है उसको हम हमारी भाषा में बायोलॉजिकल प्‍लोजीब्‍लिटी बोलते है कि एक अंदाज कि यह सही में दिखता है या नहीं दिखता है

--------------

 
नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा है कि सरकार ने घरेलू और अंतर्राष्‍ट्रीय उडान सेवाएं फिर शुरू करने के बारे में कोई निर्णय अभी नहीं लिया है। एक ट्वीट में उन्‍होंने 14 अप्रैल के बाद विमान सेवाएं बहाल होने की खबरों को अटकलें बताया।
 
विमानन क्षेत्र पर कोरोना वायरस महामारी का बुरा असर पडा है। एयर इंडिया को छोडकर सभी प्रमुख विमान कंपनियां 14 अप्रैल के बाद की तारीखों के लिए घरेलू बुकिंग कर रही हैं। एयर इंडिया केवल 30 अप्रैल के बाद की तारीखों के लिए बुकिंग कर रही है।
 
सरकार ने 24 मार्च से कोरोना वायरस महामारी का फैलाव रोकने के लिए उडानों पर 21 दिन तक रोक लगाई थी।

--------------

 
भारतीय खाद्य निगम-एफसीआई ने अपने गोदामों से एक दिन में एक लाख 93 हजार मीट्रिक टन अनाज जारी करने का रिकार्ड बनाया है। उपभोक्‍ता कार्य मंत्रालय ने कहा कि एफसीआई पूर्णबंदी के दौरान देश के प्रत्‍येक भाग में अनाज की पर्याप्‍त उपलब्‍धता सुनिश्चित कर रहा है। पिछले महीने की 25 तारीख को पूर्णबंदी शुरू होने से 12 दिन के दौरान हर रोज औसतन एक लाख इक्‍तालीस हजार टन अनाज की आपूर्ति की गयी, जबकि इससे पहले प्रतिदिन करीब 80 हजार टन की आपूर्ति की जा रही थी। मंत्रालय ने बताया कि इस अवधि में 17 लाख टन अनाज विभिन्‍न स्‍थानों पर पहुंचाया गया। इसमें करीब 46 प्रतिशत योगदान पंजाब का है, उसके बाद हरियाणा, तेलंगाना और छत्‍तीसगढ का स्‍थान है। उपभोक्‍ता राज्‍यों में सबसे अधिक अनाज उत्‍तर प्रदेश में और उसके बाद बिहार, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक को भेजा गया। मंत्रालय ने बताया कि पूर्वोत्‍तर पर विशेष ध्‍यान देते हुए करीब एक लाख 40 हजार टन अनाज भेजा गया।

--------------

भारतीय रेल देशव्‍यापी लॉकडाउन के बीच आवश्‍यक वस्‍तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। रेल मंत्रालय ने कहा है कि आवश्‍यक वस्‍तुओं की ढुलाई, परिवहन और उन्‍हें गंतव्‍य स्‍थल तक पहुंचाने का काम जोर-शोर से किया जा रहा है।
 
इन आवश्‍यक वस्‍तुओं को लादने, परिवहन और उतारने का काम पूरे देश में जोरो पर है। पिछले 13 दिनों में रेलवे ने 1342 वेगन चीनी, 958 वेगन नमक और 378 वेगन खाने के तेल का लदान और ढुलाई की है। वरिष्‍ठ स्तर के अधिकारियों द्वारा माल ढुलाई की बारिकी से निगरानी की जा रही है। कई टर्मिनलों पर लादने और उतराने के दौरान आ रहे मुद्दों को प्रभावी ढंग से हल किया जाता रहा है। भारतीय रेल, गृह मंत्रालय के साथ राज्‍य सरकारों के संपर्क में है ताकि अचानक आने वाली परिचालन संबंधी समस्‍याओं को दूर किया जा सकें।

--------------

 
आकाशवाणी के साथ विशेषज्ञ की बातचीत श्रृंखला के अंतर्गत अब प्रस्‍तुत है कोविड-19 के बारे में प्रमुख चिकित्‍सा विशेषज्ञों की राय। आकाशवाणी से बातचीत में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान के प्रोफेसर राकेश गर्ग ने बताया कि लॉकडाउन और सुरक्षित दूरी बनाए रखने से कोरोना वायरस पर रोक लगाने में काफी मदद मिलेगी।

कोविड-19 जो हमारा फैल रहा है वो पॉजिटिव पेशेंट से दूसरे पॉजिटिव पेशेंट जब हम कांटेक्‍ट रहते हैं। जब हम सोशल डिस्‍टेंशिंग नहीं कर रहे हैं। जब हम लॉकडाउन को पूरी तरह से नहीं मान रहे हैं, तो वहां पर चांर्सेज होने के ज्‍यादा हैं अगर हम देखें की हमारे फ्यूचर में ये कैसे स्‍प्रेड होने वाला है तो उस पर डिपेंड करेगा कि हमारा लॉकडाउन कैसा रहता है। सोशल आइसोलेशन कैसा रहता है। सोशल डिस्‍टेसिंग कैसा रहता है जो पीक आएगा।  नम्‍बर ऑफ सर्ज ऑफ कैसेज वो एक फ्लैट हो सकता है। नम्‍बर ऑफ कैसेज बहुत कम हो जाएंगे। अगर हम सारी जो प्रिकोशंस है। इसको पूरी तरह से पूर्णत: हम सभी लोग उसमें सहयोग करें और उसको मानें।

--------------

 
देशभर में नोवेल कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने महामारी फैलने से रोकने के लिए कई परामर्श जारी किए हैं।

सरकार ने कहा है कि आवश्‍यक वस्‍तुओं की पर्याप्‍त आपूर्ति जारी है और लोगों को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। लोगों को सलाह दी जाती है कि वे आवश्‍यक वस्‍तुओं और चिकित्‍सा के सामान की खरीददारी करते समय धैर्य रखें और शांत रहें। आवश्‍यक वस्‍तुओं को खरीदने के लिए बार-बार बाहर निकलने से बचें। साथ ही लोगों को हाथ मिलाने और गले गलने से भी बचना चाहिए। बाजार, मेडिकल स्‍टोर और अस्‍पतालों में लोग कम से कम एक मीटर की दूरी रखें। घर पर गैर-जरूरी सामाजिक समारोह से बचा जाना चाहिए और घर पर मेहमानों को नहीं बुलाना चाहिए। लोगों को अपनी आंख, नाक और मुंह को छूने से बचना चाहिए और लगातार हाथ साफ करते रहना चाहिए। हाथ को दोनों तरफ से कम से कम 20 सेकेण्‍ड तक धोना चाहिए। यदि कोई व्‍यक्ति खांसी या बुखार से पीडि़त है तो वह दूसरों के संपर्क में आने से बचे और डॉक्‍टर से तुरंत परामर्श ले। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोरोना वायरस के बारे में जानकारी के लिए एक टॉल फ्री नम्‍बर- 1075 जारी किया है। सुपर्णा सेकिया के साथ भूपेन्‍द्र सिंह आकाशवाणी समाचार दिल्‍ली।

--------------

 
केंद्र ने राज्‍य सरकारों को पूर्णबंदी के दौरान खाने-पीने और किराने की आवश्‍यक वस्‍तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए इस काम लगे ट्रक चालक और कामगारों को अपने कार्य स्‍थल तक पहुंचने की सुविधा उपलब्‍ध कराने का निर्देश दिया है। उपभोक्‍ता कार्य सचिव पवन कुमार अग्रवाल ने राज्‍य के मुख्‍य सचिवों को लिखे पत्र में राज्‍य पुलिस के सहयोग से वस्‍तुओं की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए एक नोडल अधिकारी की नियुक्‍त‍ि करने को कहा है।
 
कई कंपनियों द्वारा श्रमिकों की उपलब्‍धता में कठिनाइयों की शिकायत पर श्री अग्रवाल ने स्‍थानीय प्रशासन को  कामगारों की उपलब्‍धता सुनिश्चित किये जाने का भी परामर्श दिया।

--------------

 
हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि राज्‍य में कक्षा एक से कक्षा आठ तक के सभी विद्यार्थियों को वार्षिक परीक्षा के बिना अगले शैक्षिक सत्र के लिए प्रोन्‍नत कर दिया जाएगा, क्‍योंकि सभी स्‍कूल कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण बंद हैं।
 
मुख्‍यमंत्री ने कहा कि इन कक्षाओं के विद्यार्थी स्‍कूल खुलने पर अगली कक्षा में प्रवेश ले पाएंगे। श्री खट्टर ने कहा कि लॉकडाउन के कारण कक्षा दस की विज्ञान विषय की परीक्षा नहीं हो पाई है इसलिए सरकार ने फैसला किया है कि कक्षा दस के विद्यार्थियों को अन्‍य विषयों में प्राप्‍त औसत अंकों के आधार पर कक्षा 11 में प्रोन्‍नत कर दिया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि परिस्थितियां सामान्‍य होने पर विज्ञान विषय की परीक्षा कराई जाएगी। इसी तरह कक्षा 11 के विद्यार्थियों को अन्‍य विषयों में प्राप्‍त अंकों के आधार पर गणित विषय की परीक्षा दिए बिना अगली कक्षा में प्रोन्‍नत कर दिया जाएगा।

--------------

 
बिहार में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस से संक्रमण का कोई नया मरीज नहीं आया है। राज्‍य में अभी तक 32 व्‍यक्ति संक्रमित हुए हैं। इनमें से चार उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं और एक व्‍यक्ति की मृत्‍यु हो गई है। ब्‍यौरा हमारे संवाददता से-

राज्‍य में अब तक तीन हजार से अधिक नमूनों की जांच हो चुकी है। 706 की जांच लंबित है। पुलिस महानिदेशक भुक्‍तेश्‍वर पांडे ने बताया कि कोरांटीन के दौरान उपद्रव करने वाले लोगों को जेल भेजा जायेगा। 24 मार्च से अब तक लॉकडाउन का उल्‍लंघन करने वाले 424 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। लगभग नौ हजार वाहनों को जब्‍त किया गया है और दो करोड़ से अधिक जुर्माने की वसूली की गई है। इस बीच मध्‍य रेलवे ने कोरोना वायरस के संदिग्‍धों के लिए लगभग 270 स्लीपर कोच को आइसोलोशन वार्ड में परिवर्तित कर दिया है। आकाशवाणी समाचार के लिए पटना से कृष्‍ण कुमार लाल।

--------------

 
छत्तीसगढ़ में कोरोना पॉजिटिव पाए गए अस्सी प्रतिशत मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित दस मरीजों की पुष्टि हुई थी। इनमें से आठ मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। बाकी दो मरीजों का इलाज एम्स रायपुर में चल रहा है। पेश है हमारे रायपुर संवाददाता  की यह रिपोर्ट -

कोरोना के खिलाफ इस जंग में लोक कलाकार भी अपना पूरा योगदान दे रहे हैं। छत्तीसगढ़ के जाने-माने लोक कलाकार दीपक चंद्राकर ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी उपायों के बारे में लोगों को जागरूक बनाने लोक संगीत के रंग में रंगा यह खास गीत तैयार किया है।
यह गीत छत्तीसगढ़ के ग्रामीण इलाकों में काफी लोकप्रिय हो रहा है और लोगों को जागरूक बनाने में शासन-प्रशासन को इससे काफी मदद मिल रही है। 

---------------

 
मध्‍य प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या 193 हो गयी है।
 
स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की प्रधान सचिव पल्‍लवी जैन गोविल ने बताया कि कोविड-19 महामारी से राज्‍य में अब तक 12 लोगों की मौत हुई है।
 
इस बीच भोपाल में फुल बॉडी सेनिटाइजिंग मशीन विकसि‍त की गयी है। स्‍मार्ट सि‍टी कार्यालय नियंत्रण कक्ष में काम करने वाले प्रत्‍येक कर्मचारी को इस मशीन से सेनिटाइज किया जा रहा है। ब्यौरा हमारे संवाददाता से
 
भोपाल नगर निगम के इंजीनियर ने दो लाख रूपए की कीमत वाली इस मशीन को मात्र एक दिन में सिर्फ 30 हजार रूपये में तैयार किया है। इस फुल बॉड़ी सेनेटाइजेशन मशीन को उपायुक्त विनोद कुमार शुक्ल और सहायक यंत्री हबीब उर रहमान की टीम ने भोपाल में ही तैयार किया है। भोपाल नगर निगम में अपर आयुक्त राजेश राठौर ने आकाशवाणी को बताया कि यह मशीन सेंसर आधारित है और एक ही बार में पूरे शरीर को सेनिटाइज़ करती है.

(एक ही सेंसर बेस है जैसे ही आदमी अंदर जाता है अपने आप 25 मिनट का ड्यूरेशन हैं, उसमें शावरिंग होती है, फ्वारा लगा हुआ है और फ्वारा के जरिये सेनीटाईजर पूरी बॉडी पर आ जाता है। जो भी अगर होगा थोड़ा बहुत भी कहीं से मान लो, लग गया होगा तो उससे मिटीलेट हो जाता है।)

भोपाल में यह स्मार्ट सिटी कार्यालय कंट्रोल रूम प्रदेश भर की पल-पल की जानकारी संकलित करने तथा नागरिकों को हर संभव सहायता देने के लिए संचालित किया जा रहा है। ---------------

 
गुजरात में छह नये मामलों की पुष्टि होने के साथ ही राज्‍य में मरीजों की संख्‍या 128 हो गई है। इनमें से 21 मरीजों को उपचार के बाद घर भेज दिया गया है जबकि 94 की हालत स्थिर है। दो रोगी वें‍टीलेटर पर हैं। सबसे ज्‍यादा 53 मामले अहमदाबाद में हैं।
 
राजकोट की स्‍थानीय कंपनी ने गुजरात सरकार के सहयोग से वेंटीलेटर बनाने की एक परियोजना पूरी की है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की देश में ही वेंटिलेटर बनाने की अपील के चलते यह पूरा प्रोजेक्ट संभव हो सका है। गुजरात सरकार के सपोर्ट से राजकोट की स्थानीय कम्पनी ज्योति सी.ऍन.सी. ने इस चुनौती का स्वीकार किया और सिर्फ 10 दिनों में स्थानीय स्तर पर यह वेंटिलेटर विकसित किया। इसमें सबसे बड़ी चुनौती स्थानीय स्तर पर विभिन्न पुर्जे हासिल करने की थी, जो बड़े पैमाने पर  उत्पादन करने के लिए भी अनुकूल हो। कम्पनी ने पहेले 1 हजार वेंटिलेटर गुजरात सरकार को दान में देने की घोषणा की है। बाजार में 6 लाख रुपये से ज्यादा में मिलने वाले यह वेंटिलेटर ज्योति सी.ऍन.सी. ने 1 लाख से भी कम खर्च में बनाया है। उन्नत स्तर के और वेंटिलेटर विकसित करने के लिए भी राज्य सरकारने सभी संभव मदद की घोषणा की है। योगेश पंड्या, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

--------------

 
जम्‍मू-कश्‍मीर के मुख्‍य सचिव बी.वी. आर सुब्रह्मण्‍यम ने संक्रमण का पता लगाने के लिए जम्‍मू और श्रीनगर, विशेषकर आशंकित क्षेत्रों में गहन सर्वेक्षण कराये जाने को कहा है। इस सर्वेक्षण का उद्देश्‍य प्रशासन के पास डेटा आधारित जानकारी उपलब्‍ध कराना है, ताकि संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए संक्रमित लोगों को अलग निगरानी में रखा जा सके। श्री सुब्रह्मण्‍यम ने कल जम्‍मू और कश्‍मीर संभाग के विभिन्‍न विभागों के वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ बैठक में स्थिति की समीक्षा की। उन्‍होंने श्रीनगर और जम्‍मू के संभागीय आयुक्‍तो से सर्वेक्षण की रूप रेखा तैयार करने को कहा।

--------------

 
असम में कोरोना वायरस को रोकने की लडाई में लगे पुलिसकर्मियों, अन्‍य कर्मचारियों तथा स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को 50 लाख रुपये का बीमा कवर दिया जायेगा। राज्‍य के मुख्‍यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने गुवाहाटी में यह घोषणा की। उन्‍होंने महामारी के खिलाफ लडाई में कई मोर्चों पर पुलिस की भूमिका की सराहना भी की।
 
असम में अब तक कोरोना वायरस के 26 मरीज सामने आये हैं।

--------------

 
उत्‍तर प्रदेश सरकार ने समाज के सभी वर्गों से अपील की है कि वे वायरस का फैलाव रोकने में योगदान करें। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कल वीडियो कांफ्रेंस के जरिये विभिन्‍न धार्मिक नेताओं से महामारी के खिलाफ संघर्ष में मदद की अपील की। मुख्‍यमंत्री ने राज्‍य से चुने गए सांसदों और केन्‍द्रीय मंत्रियों के साथ भी वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बातचीत की। उन्‍होंने कहा कि गरीब और फंसे हुए लोगों को निशुल्‍क राशन और खाद्य वस्‍तुएं दी जा रही हैं।
 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सरकार की कोशिश है कि कोई भी बंद के दौरान भूखा ना रहे उन्होंने बताया कि त्रिस्तरीय चिकित्सा सुविधाओं की व्यवस्था हो रही है। मुख्यमंत्री ने धर्मगुरुओं से लॉक डाउन की समाप्ति के बाद उठाए जाने वाले कदमों के बारे में सुझाव मांगे इधर कल राज्य में 44 नई केस मिलने के बाद कोरोना रोगियों की संख्या 278 पहुंच गई है गौतम बुध नगर में सबसे ज्यादा 58 लोग संक्रमित हैं वहीं आगरा में 45. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि 1499 तबलीगी जमात के लोगों को चिन्हित किया गया है। इनमें से 1205 लोगों को सँगरोध किया गया है। कानून का उल्लंघन करने के मामले में इनमें से 295 विदेशी लोगों के खिलाफ 42 एफ आई आर दर्ज कराई गई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर एकजुटता दिखाते हुए कल शाम 9:00 बजे लोगों ने अपने घरों को जगमग कर दिया।

  --------------


 
महाराष्‍ट्र में संक्रमित लोगों की संख्‍या 748 हो गई है। कल संक्रमण के 113 नए मामले सामने आए। इलाज के बाद 56 मरीजों को अस्‍पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश तोपे ने अपने ट्वीटर हैण्‍डल पर यह जानकारी दी।

--------------

 
आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा।
 
वरिष्‍ठ मनोचिकित्‍सक और सलाहकार डॉक्‍टर अवधेश शर्मा इस परिचर्चा में भाग लेंगे।
 
श्रोता टोल फ्री नंबर 1 8 0 0 - 1 1 - 5 7 6 7 पर स्‍टूडियो में मौजूद विशेषज्ञों से सवाल पूछ सकते हैं। आप हमारे स्‍टूडियो में 0 1 1 - 2 3 3 1 - 4 4 4 4 पर भी कॉल कर सकते हैं।
 
हमारे ट्वीटर हैंडल @airnews s पर #tag Askair. पर भी सवाल पोस्‍ट किए जा सकते हैं। यह कार्यक्रम आज रात नौ बजकर 10 मिनट से एफ एफ गोल्‍ड चैनल और अतिरिक्‍त मीटरों पर उपलब्ध रहेगा।

---------------

 
महावीर की जयंती आज देशभर में मनाई जा रही है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने इस अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं दी हैं। अपने संदेश में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि भगवान महावीर की अंहिसा, सत्‍य और त्‍याग की नेक शिक्षाएं हर युग में हर व्‍यक्ति के लिए प्रासंगिक रही हैं।   उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि भगवान महावीर के अंहिसा, सत्‍य, ईमानदारी, निस्‍वार्थ सेवा और बलिदान के संदेश शाश्‍वत रहे हैं।

--------------

समाचार पत्रों की सुर्खियों:- 

  • कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या अखबारों की बड़ी खबर है। अमर उजाला का शीर्षक है-जमात ने बढ़ाया संकट, चार दिन में मरीज दोगुने। देश में 274 जिले कोरोना संक्रमण से प्रभावित। बुधवार से उन जगहों पर रैपिड टैस्ट होगा, जहां संक्रमण के ज्यादा मामले। आठ मलेशियाई जमाती हवाई अड्डे से पकड़े गए। गाजियाबाद में भी 10 इंडोनेशियाई गिरफ्तार। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश पुलिस महानिदेशकों की चेतावनी को अखबारों ने सुर्खी दी है-सामने आएं तब्लीगी, नहीं तो हत्या का मुकदमा।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर कल रात नौ बजे नौ मिनट के लिए पूरे देश के रोशनी से जगमग होने पर दैनिक जागरण की सुर्खी है-संकल्प, समर्पण, समर्थन और सहयोग की दीपावली। 130 करोड़ भारतीयों ने कोरोना के विरुद्ध युद्ध में दिखाई एकजुटता। नवभारत टाइम्स के शब्द है- उम्मीद का उजाला।
  • शनिवार को टेलीफोन पर अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बातचीत पर हिंदुस्तान लिखता है-अमरीका ने भारत से मांगी दवा। ट्रंप ने मोदी से हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन दवा भेजने का आग्रह किया, भारत कर रहा है विचार। पत्र का कहना है-हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन के निर्यात पर सरकार ने नियम और कड़े किए। भारत सरकार ने फार्मासियुटिकल कंपनियों को दस करोड़ से ज्यादा हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन गोलियों के उत्पादन का ऑर्डर दिया है।
  • देशव्यापी पूर्णंबदी के 12 दिन पूरे होने पर अमर उजाला लिखता है-दस करोड़ बुजुर्ग, हाई ब्ल्डप्रेशर के 40 करोड़ मरीज और मधुमेह के सात करोड़ 70 लाख मरीज रहे सतर्क।

---------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 29 (May) Midday News 29 (May) News at Nine 28 (May) Hourly 29 (May) (1600hrs)
समाचार प्रभात 29 (May) दोपहर समाचार 29 (May) समाचार संध्या 28 (May) प्रति घंटा समाचार 29 (May) (1305hrs)
Khabarnama (Mor) 29 (May) Khabrein(Day) 29 (May) Khabrein(Eve) 28 (May)
Aaj Savere 29 (May) Parikrama 28 (May)

Listen Programs

Market Mantra 28 (May) Samayki 28 (May) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 28 (May) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 10 (May) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)