A- A A+
Last Updated : Jul 7 2020 3:43PM     Screen Reader Access
News Highlights
India-China begin disengagement on LAC after talks between NSA Ajit Doval and Chinese Foreign Minister            Over 15 thousand people recovered from Coronavirus in last 24 hours; Recovery Rate rises above 61%            Registration for human trials of Indian vaccine for Coronavirus begins today            Goa opens up for tourists; 250 hotels to open; Maharashtra also allows hotels, lodges and guest houses to operate with conditions            Final-year examination in Universities to be held by September-end, says University Grants Commission           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
29.05.2020

मुख्‍य समाचार :

  • केन्‍द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सभी मुख्‍यमंत्रियों के साथ बातचीत में कोविड-19 के खिलाफ संघर्ष में आगामी रणनीति पर चर्चा की।

  • कोरोना वायरस संक्रमण से स्‍वस्‍थ होने वालों की दर बढकर 42 प्रतिशत से अधिक हुई। अब तक 71 हजार से ज्‍यादा लोग ठीक हुए।

  • नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा--कुल 494 घरेलू उडानों से कल 38 हजार 78 यात्रियों को लाया गया।

  • रेलवे ने अपील की है कि रोगग्रस्‍त व्‍यक्ति, गर्भवती महिलाएं, दस वर्ष से छोटे बच्चे और 65 वर्ष से अधिक आयु के लोग रेल यात्रा से बचें।

  • राज्‍यों ने मई और जून माह के लिए दो लाख मीट्रिक टन से अधिक अनाज उठाया।

  • राजस्‍थान के 20 जिले टिड्डी हमले से प्रभावित। राज्‍य प्रशासन इनपर नियंत्रण के उपाय कर रहा है।

---

गृहमंत्री अमित शाह ने कल राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के मुख्‍यमंत्रियों के साथ कोविड-19 की स्थिति के बारे में बातचीत की। 31 मई को चौथे चरण का लॉकडाउन खत्‍म होने के बाद इस महामारी से निपटने की भावी रणनीति के बारे में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्रियों से सुझाव मांगे।


---

कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने कोविड-19 से प्रभावित 13 शहरों के निगम आयुक्‍तों और जिला अधिकारियों के साथ कल बैठक में स्थिति की समीक्षा की। इन 13 शहरों में कोरोना वायरस के संक्रमण की स्थिति बेहद खराब है। देश के लगभग 70 प्रतिशत संक्रमित लोग इन शहरों में हैं। इन शहरों में मुंबई, चेन्‍नई, दिल्‍ली, अहमदाबाद, ठाणे, पुणे, हैदराबाद, कोलकाता, इंदौर, जयपुर, जोधपुर, चेंगलपट्टू और तिरूवल्‍लूर शामिल हैं।


बैठक में कोविड 19 मामलों के प्रबन्‍धन के लिये नगर निगम के अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा किये गये उपायों की समीक्षा की गई। केन्‍द्र सरकार द्वारा पहले ही शहरी बस्‍तियों में कोविड 19 के मामलों के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किया जा चुका है। इसमें ज्‍यादा जोखिम वाले कार्गों पर कार्य करना, पुष्टि दर, मृत्‍यु दर, मामलों के दोगुना होने की दर और जांच जैसे संकेतक शामिल हैं। केन्‍द्र सरकार ने जोर देकर कहा है कि कंटेन्‍मेंट क्षेत्रों को भौगोलिक दृष्टि से तय करते समय मामलों की संख्‍या, सम्‍पर्क और स्थिति को ध्‍यान में रखा जाना चाहिये। इससे लॉकडाउन को बेहतर तरीके से लागू करने में मदद मिलेगी। शहरों को सलाह दी गई है कि इन इलाकों को तकनीकी जानकारी के आधार पर जिला प्रशासन द्वारा उचित तरीके से परिभाषित किया जाना चाहिये। आनन्‍द कुमार, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।


---

केंद्र सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार डॉक्‍टर के. विजय राघवन ने कहा है कि कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए लगभग तीस समूह वैक्‍सीन बनाने के कार्य में लगे हैं।  श्री राघवन ने बताया कि इनमें से लगभग बीस समूहों को बेहतर सफलता मिल रही है।


उन्‍होंने कहा कि टीका विकसित करने के लिए तीन तरह से काम किया जा रहा है। इनमें स्‍वदेशी प्रयास, अन्‍य कंपनियों के साथ सहयोग और प्रमुख कंपनियों की पहल शामिल हैं। डॉक्‍टर विजयराघवन ने कहा कि भारतीय संस्‍थान इस वायरस के लिए चार तरह की वैक्‍सीन विकसित कर रहे हैं।


---

कोशिकीय और आणविक जीवविज्ञान केंद्र-सीसीएमबी ने प्रयोगशालाओं में कोरोना मरीजों के नमूनों से कोरोना का स्टेबल कल्चर विकसित किया है। सीसीएमबी के विषाणु विज्ञानियों ने कई अलग-थलग पडे़ मरीजों से संक्रमित वायरस को पृथक किया है। प्रयोगशालाओं में इस वायरस को विकसित करने की क्षमता से वैज्ञानिक कोविड-19 के इलाज के लिए वैक्सीन बनाने और संभावित औषधियों की परीक्षण की दिशा में काम कर पाएंगें।


सीसीएमबी के निदेशक डॉ राकेश मिश्रा ने बताया कि सीसीएमबी विभिन्न क्षेत्रों से वायरल स्ट्रेन अलग करने की स्थिति में पहुंच गया है और हम बडी संख्या में वायरस पैदा करने की दिशा में काम कर रहे हैं। बाद में इनको निष्क्रिय करके वैक्सीन बनाने और इलाज के लिए रोग प्रतिरोधी दवा विकसित करने के उपयोग में लाया जा सकता है।


सीसीएमबी ने वायरल कल्चर का उपयोग करके रक्षा अनुसंधान विकास संगठन जैसे सहयोगियों के साथ संभावित औषधियों का परीक्षण भी शुरू किया है। श्री मिश्रा ने आशा व्यक्त की कि इस पद्धति से कई शोध संस्थाओं और निजी कंपनियों में इस वायरस का प्रतिरूप तैयार किया जाएगा ताकि यह इस महामारी से निपटने और भविष्य़ की तैयारियों की दिशा में एक उपयोगी संसाधन बन सके। 


वैज्ञानिकों ने कहा है कि यदि हम वायरस को बड़ी संख्या में विकसित करके इसे निष्क्रिय करें तो इसे निष्क्रिय वैक्सीन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। जब निष्क्रिय वायरस को शरीर में डाला जाता है तो यह शरीर में रोग प्रतिरोधक प्रणाली एंटीबॉडी कीटाणु उत्पन्न करता है लेकिन इससे मनुष्य बीमार नहीं होता है क्योंकि ये कीटाणु दोबारा उत्पन्न नहीं होते।


---

सरकार ने कोरोना संक्रमण के दौरान एक भारत-श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम को नवाचारी तरीकों से आगे बढ़ाने का फैसला किया है। इस कार्यक्रम के सहभागी मंत्रालयों के सचिवों की हाल की बैठक में यह निर्णय लिया गया।


बैठक के दौरान मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने मौजूदा स्थितियों में एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम के कार्यान्वयन के लिए नवाचारी उपाय अपनाने पर बल दिया। एक रिपोर्ट...


एक भारत, श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों को राज्यों के समृद्ध विरासत संस्कृति और विरासत से परिचित कराना है, ताकि वे भारत की विविधता को समझ सकें और उसकी सराहना कर सकें।  इस कार्यक्रम के अंतर्गत  गतिविधियों को संचालित करने के लिए प्रत्येक प्रतिभागी मंत्रालय और विभाग डिजिटल माध्यमों का रूख करेंगे। इसके व्यापक प्रसार के लिए एक भारत श्रेष्ठ भारत वैभीनार आयोजित की जाएगी। एक भारत श्रेष्ठ भारत डिजिटल संसाधनों के लिए साझा तैयार किया जाएगा, जिसका उपयोग प्रत्येक मंत्रालय कर सकेंगे। बैठक के दौरान संशोधित संचार योजना तैयार करने पर भी चर्चा हुई। अनुपम मिश्र, आकाशवाणी समाचार, दिल्ली।


---

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद - आईसीएमआर ने कहा है कि कोविड-19 का पता लगाने के लिए पिछले 24 घंटे में कुल एक लाख 21 हजार 702 नमूनों की  जांच की गई। देश में अब तक 34 लाख 83 हजार 838 नमूनों की जांच की जा चुकी है।


इस बीच, परिषद सरकारी और निजी क्षेत्र की प्रयोगशालाओं को अनुमति देकर जांच सुविधाओं में निरंतर वृद्धि कर रही है। देश में अब कुल 641 प्रयोगशालाओं में कोविड-19 के लिए जांच की जा रही है। इनमें 446 सरकारी और 195 निजी क्षेत्र की प्रयोगशालाएं हैं।


---

स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय के अनुसार देश में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित से 71 हजार एक सौ छह लोग उपचार के बाद ठीक हुए हैं। स्‍वस्‍थ होने वालों की दर बढ़कर बयालीस दशमलव आठ-आठ प्रतिशत हो गई है।


पिछले 24 घंटों के दौरान तीन हजार चार सौ 14 लोग संक्रमण से मुक्‍त हुए जबकि सात हजार चार सौ छि‍यासठ लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। देश में कुल संक्रमित लोगों की संख्‍या एक लाख पैसठ हजार सात सौ निन्‍यानवे हो गई है। 


स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि इस महामारी से अब तक चार हजार सात सौ छह लोग जान गंवा चुके हैं। पिछले 24 घंटे में ही एक सौ 75 लोगों की मौत हुई। 


---

महाराष्ट्र में कई लोगों के वापस अपने गृहनगर लौटने के बाद कई जिलों में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं।  आज सवेरे अहमदनगर में इस वायरस से नौ और लोगों के संक्रमित होने के बाद कुल संकमित व्‍यक्तियों की संख्या एक सौ 12 पर पहुंच गई है। सिंधु दुर्ग में छह नये मामले मिलने के साथ वहां संक्रमितों की संख्या तीस हो गई है। नांदेड में भी पांच और मामलों की पुष्टि के साथ कुल सक्रमित लोगों की संख्या 143 हो गई है। महाराष्ट्र में कल छह सौ 98 लोगों को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। राज्य में 18 हजार 616 लोग अब तक स्वस्थ हो गए हैं। कोरोना के दो हजार 598 नए मामले आए हैं। राज्य में संक्रमितों की संख्या 59 हजार 546 हो गई है। 85 लोगों की मौत हुई है जिसमें से 38 मुम्बई से हैं। इस महामारी से अब तक एक हजार 982 लोगों की मौत हुई है। 38 हजार 939 लोगों का इलाज चल रहा है।


एक श्रमिक विशष रेलगाड़ी आज शाम चार बजे नांदेड से पश्चिम बंगाल रवाना होगी।


इस बीच, राज्य सरकार लोगों को  राहत उपलब्ध कराने के प्रयास कर रही है। महाराष्ट्र के रायगढ जिले में  जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है उनके लिए एक मोबाइल एप्लीकेशन विकसित की गई है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि इस मोबाइल के लाभ को देखते हुए राज्य सरकार ने अन्य जिलों में भी इसके इस्तेमाल के लिए कहा है।


जिन नागरिकों के पास राशन कार्ड नहीं है उन्‍हें अनाज की आपूर्ति करने के लिए महाराष्‍ट्र के रायगढ़ जिले में इजी फार्म नाम का एक आसान मोबाईल एप्‍लीकेशन विकसित किया गया है। जिले के सभी राशन दुकानदारों को यह एप दिया गया है। इसमें लाभार्थी का नाम, मोबाइल नंबर, आधार नं0 और अन्‍य जानकारी दर्ज करने पर लाभार्थियों को लाभ दिया जा रहा है। अब तक इस एप के जरिए एक हजार से अधिक नागरिकों को अनाज वितरित किया गया है। इजी फार्म एप्‍लीकेशन को राज्‍य सरकार ने भी मंजूर किया है। इसकी उपयोगिता को देखने के बाद राज्‍य सरकार ने अन्‍य जिलों में भी इसका उपयोग करने के निर्देश दिए हैं। फिलहाल राज्‍य के 18 जिलों में इस एप के जरिए नागरिकों को अनाज का वितरण किया जा रहा है। माधुरी पांगे, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।


---

असम में गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्‍पताल में 236 बिस्‍तरों वाली सुपरस्‍पेशिलिटी कोविड-19 उपचार यूनिट ने  काम करना शुरू कर दिया है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हिमंता बिस्‍व सरमा और स्‍वास्‍थ्‍य राज्‍य मंत्री पीयूष हजारिका ने आज इस यूनिट का लोकार्पण किया। यह यूनिट के भीतर वायु गुणवत्‍ता और बैक्‍टीरिया प्रबंधन को बेहतर बनाने में मदद करेगा।


हमारे संवाददाता ने बताया है कि राज्‍य में अब तक आठ सौ सं‍क्रमित मामलों की पुष्टि हुई है।


---

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने आज बताया कि कल 494 घरेलू उड़ानों से 38 हजार 78 यात्रियों को लाया गया। कोरोना से लॉकडाउन के कारण 25 मार्च से 24 मई तक देश में सभी निर्धारित उड़ानों पर रोक लग गई थी। घरेलू विमान सेवाएं सोमवार से शुरू हो गई लेकिन अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें अब भी बंद हैं।


---

वंदे भारत मिशन के अन्‍तर्गत 11 उडानें आज केरल पहुंचेंगी जिसमें से 10 उडानें मध्‍य पूर्व देशों से हैं। हमारे संवाददाता ने बताया है कि दुबई, मस्‍कट और आर्मिनीया से आज कोच्चि के लिए उडान पहुंचने का समय निर्धारित है। दो उडानें दुबई और दोहा से कुन्‍नूर पहुंच रही हैं। राजधानी तिरूअन्‍नतपुरम में दुबई और अबुधाबी से यात्री आयेंगे। कोजीकोड में आज चार उडानें  दुबई, अबुधाबी, जददाह और कुवैत से पहुंचेंगी। वंदे भारत मिशन के अन्‍तर्गत विदेशों में फंसे एक हजार यात्री आज केरल पहुंचेंगे। इस बीच राज्‍य में कोविड 19 से संक्रमित एक व्‍यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही मरने वालों की संख्‍या बढकर 8 हो गई है।


---

वंदे भारत मिशन के तहत खाड़ी देशों से आज तेरह उड़ानें भारत पहुंचेंगी। इनके जरिए खाड़ी देशों में फंसे भारतीयों को देश के विभिन्‍न भागों में पहुंचाया जाएगा। हमारी संवाददाता ने बताया है कि इनमें पचास प्रतिशत से अधिक उड़ानें संयुक्‍त अरब अमारात से आ रही हैं।


वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों में मुश्किलों में फंसे भारतीयों को लाने का काम जारी है। वंदे भारत मिशन ऐसे भारतीयों के लिए इस महामारी के दौरान राहत का पैगाम लेकर आई है। आज इस मिशन के तहत खाड़ी देशों से 13 उड़ानें संचालित की जाएंगी। इसमें सबसे ज्यादा उड़ान संयुक्त अरब अमारात से जाना तय है। दुबई से छह उड़ानें जयपुर, कोच्ची, कण्णूर, हैदराबाद, कोझीकोड और तिरूवनंतपुरम के लिए निर्धारित है। जयपुर के लिए यहां से यह पहली उड़ान है। अबुधाबी से दो उड़ानें कोझिकोड और तिरूवनंतपुरम जाएगी। सऊदी अरब से भी दो उड़ानें श्रीनगर और कोझिकोड के लिए रवाना होंगी। सऊदी से श्रीनगर के लिए यह पहली उड़ान है। कुवैत से कोझिकोड और अहमदाबाद के लिए भी दो उड़ाने हैं। मस्कट के कोच्ची और दोहा से कण्णूर के लिए भी एक-एक उड़ान निर्धारित की गई है।  कंचन प्रसाद, आकाशवाणी समाचार, दुबई।


---

झारखंड के फंसे मजदूरों को लद्दाख के लेह से दो निजी विमानों से आज लाया जा रहा है। उच्चतम न्यायालय के निर्देश के बाद यह कदम उठाया गया है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि पूरी तरह सरकारी कर्मचारियों के प्रयास से प्रवासियों के लिए इस विशेष उड़ान का संचालन किया जा रहा है।


बटालिक-करगिल की सीमाओं पर विषम परिस्थितियों में रह रहे 60 प्रवासी मजदूरों को आज उनके घरों के लिए निजी विमानों के जरिए लेह लद्दाख से झारखण्ड के लिए वापिस लाने का एक सफल प्रयास राज्य सरकार ने किया है । सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) और केंद्रशासित प्रदेश के अधिकारियों के साथ समन्वय कर राज्य सरकार ने यह कदम उठाया जिससे इन मजदूरों को उनके घरों में वापस जाने में मदद मिल सके। अब तक प्रवासी लेह से नई दिल्ली के लिए उड़ान पर सवार हो गए हैं। केंद्र सरकार द्वारा उड़ान सेवाओं को शुरू करने के लिए अनुमति देने के बाद राज्य सरकार ने सभी साधनों के माध्यम से प्रवासी मजदूरों को वापस लाने के प्रयास शुरू कर दिए है। राज्य सरकार के पास अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह में फंसे 448 मजदूरों और पूर्वोत्तर राज्यों में 893 मजदूरों के फंसे होने के आंकड़े है, जिनमें त्रिपुरा, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, नागालैंड और सिक्किम राज्य शामिल है। प्रवासियों को इन सभी राज्यों से सुरक्षित वापस लाने के लिए संबंधित राज्यों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी ट्वीट कर झारखंड में मजदूरों को हवाई यात्रा से वापिस लाने के लिए सरकार द्वारा दिए गए समर्थन के लिए धन्यवाद दिया है। आकाशवाणी समाचार के लिए मैं रांची से शिल्पी।


---

जम्‍मू-कश्‍मीर में फंसे अन्‍य राज्‍यों के मजदूरों को उनके गृह राज्‍य तक पहुंचाने के लिए तीन श्रमिक विशेष रेलगाडि़यां कल शाम लगभग चार हजार लोगों को लेकर कटरा से उत्‍तर प्रदेश के लिए रवाना हुई। अब तक 30 हजार 566 प्रवासी मजदूरों को कटरा से विशेष रेलगाडियों से उनके गृह राज्यों में भेजा गया है।


---

कर्नाटक सरकार ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय से महाराष्‍ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, मध्‍यप्रदेश और राजस्‍थान से कर्नाटक के लिए उडानें कम करने का अनुरोध किया है। इन राज्‍यों में कोविड-19 से संक्रमित लोगों की संख्‍या अधिक होने की वजह से उडानों को कम करने का अनुरोध किया गया है। राज्‍य के कानून मंत्री जे0 सी0 मधुस्‍वामी ने कहा कि यह अनुरोध एक पवित्र भावना से किया गया है क्‍योंकि कम समय में क्‍वारंटीन के लिए अच्‍छी व्‍यवस्‍था नहीं है। उन्‍होंने कहा कि इसी तरह का प्रतिबंध उन लोगों पर भी लगाया गया है जो सडक मार्ग से इन राज्‍यों से आ रहे हैं।


इस बीच राज्‍य चुनाव आयोग ने वैश्विक महामारी से उत्‍पन्‍न स्थिति के मद्देनजर पांच हजार, आठ सौ ग्राम पंचायतों का चुनाव स्‍थगित कर दिया है। इन ग्राम पंचायतों का कार्यकाल जून और अगस्‍त महीने में समाप्‍त हो जायेगा।


---

रेल मंत्रालय ने अपील की है कि रोगग्रस्‍त व्‍यक्ति, गर्भवती महिलाएं, दस वर्ष से छोटे बच्चे और 65 वर्ष से अधिक आयु के लोग जरूरी होने पर ही रेल यात्रा करें। यह अपील यात्रा के दौरान हुई कुछ मौतों को देखते हुए की गई है।


मंत्रालय ने कहा है कि प्रवासियों को अपने घर भेजने के लिए भारतीय रेलवे पूरे देश में रोजाना श्रमिक रेलगाडियां चला रहा है। यह देखा गया है कि इस सेवा का लाभ उठा रहे  वे लोग जो पहले से ही किसी बीमारी से ग्रस्त हैं उनमें  कोविड-19 महामारी का जोखिम बढ जाता है।


रेलवे ने कहा है कि यात्रियों की सुरक्षा बेहद महत्वपूर्ण है और प्रत्येक नागरिक से इस संबंध में सहयोग की अपेक्षा की जाती है। मंत्रालय ने कहा है कि किसी भी आपातकाल में यात्री रेलवे की हेल्पलाइन 139 और 138 पर फोन कर सकते हैं।


---

भारतीय रेल ने 12 मई से चल रही राजधानी श्रेणी की सभी 30 विशेष रेलगाडियों के लिए अग्रिम आरक्षण की अवधि को मौजूदा 30 दिन से बढ़ाकर 120 दिन करने का निर्णय लिया है। यह फैसला उन सभी 200 स्पेशल मेल एक्सप्रेस रेलगाडियों पर भी लागू होगा, जिनका परिचालन अगले महीने की पहली तारीख से शुरू होगा ।


रेल मंत्रालय ने कहा कि यह बदलाव 31 मई को सुबह 8 बजे से लागू होंगे। इसके अनुसार इन सभी 230 रेलगाडियों में पार्सल और सामान की बुकिंग की भी अनुमति दी जाएगी।


---

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग फोन इन कार्यक्रम संवाद में आज रेलवे पर विशेष कार्यक्रम प्रसारित करेगा। श्रोता स्‍टूडियो में फोन कर विशेषज्ञ से यात्री रेलगाड़ियों के बारे में सवाल पूछ सकते हैं। कार्यक्रम एफएम गोल्ड और अतिरिक्त मीटरों पर शाम सात बजकर दस मिनट से प्रसारित होगा।


हमारा टोल‍-फ्री नम्‍बर है- 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7. स्टूडियो में 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर फोन कर भी सवाल पूछे जा सकते हैं


---

केंद्र ने मई और जून महीने के लिए 37 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए 8 लाख मीट्रिक टन अनाज का आवंटन किया है। भारतीय खाद्य निगम-एफसीआई के अनुसार इस आवंटन में से राज्यों ने अब तक 2 लाख मीट्रिक टन अनाज ले लिया है। उपभोक्ता कार्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ने एफसीआई से कहा है कि वह राज्यों से अनाज लेने का कार्य शीघ्र पूरा करे। उन्होंने कल एफसीआई  के मंडल कार्यकारी निदेशकों और क्षेत्रीय महाप्रबंधकों के साथ अनाज के वितरण और खरीद के बारे में वीडियो कांफ्रेंस से हुई बैठक की अध्यक्षता की।


उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्य़ाण योजना के अंतर्गत केंद्र ने अप्रैल, मई और जून के महीनों के लिए राज्यों को 120 लाख मीट्रिक टन अनाज का आवंटन किया है।

श्री पासवान ने फंसे मजदूरों के लिए आत्म निर्भर भारत पैकेज के अंतर्गत अनाज के आवंटन की समीक्षा करते हुए कहा कि एफसीआई को राज्य सरकारों के साथ समन्वय करके  उन्हें अनाज की नवीनतम स्थिति के बारे अवगत कराना चाहिए।   


---

उत्‍तरप्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा है कि देश के अन्‍य हिस्‍सों से आये प्रवासी मजदूर राज्‍य की ताकत हैं और हम उसका उपयोग नये उत्‍तरप्रदेश के निर्माण में करेंगे। वे आज साढे 11 लाख मजदूरों के रोजगार के लिए औदयोगिक संगठनों के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर के अवसर पर बोल रहे थे। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मजदूरों के वापस लौटने की कोई समय सीमा नहीं है और कोई भी अगर वापस आना चाहता है तो हम उसके सुरक्षित, सम्मानजनक औऱ बिना किसी शुल्क की वापसी की व्यवस्था करेंगे। राज्य सरकार ने पहले ही सभी राजयों को चिट्ठी लिखकर वापसी के इच्छुक मजदूरों की सूची मांगी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्किल मैपिंग की मदद से हम हर मजदूर को रोजगार मुहैया कराने की कोशिश करते हुए हर हाथ को काम और हर घर में रोजगार के उद्देश्य से काम कर रहे हैं । प्रदेश के सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग और विभिन्न औद्योगिक तथा व्यापारिक संगठनों के बीच 11.5 लाख कामगार मुहैया कराये जाने को लेकर सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये गये। इस समझौते के तहत इंडियन इंडस्ट्रीज ए सोसिएशन ने पांच लाख राष्ट्रीय रीयल स्टेट विकास परिषद ने 2.5 लाख औऱ भारतीय उद्योग परिसंघ सीआईआई और लघु उद्योग भारती ने दो दो लाख मजदूरों की मांग की है। प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार सृजन के मकसद से एक विशेष सॉफ्टवेयर भी तैयार किया जा रहा है जिसमें हर मजदूर की कुशलता और औद्योगिक इकाइयों की जरूरतों का जिक्र होगा। सुशील चंद्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।


---

गुजरात में ड्राई जिंजर थेरेपी का इस्तेमाल कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए किया जा रहा है। जानेमाने आयुर्वेदाचार्य और लोक आयुर्वेद के प्रचारक डॉ; हितेष जानी इस वायरस के फैलाव को रोकने लिए आसान घरेलू उपचार के रूप में इसके इस्तेमाल के लिए प्रचार कर रहे हैं। आकाशवाणी से बातचीत में डॉ0 जानी ने कहा कि यह थेरेपी कंटेनमेंट जोन में  उतनी ही लाभदायक है जितनी नॉन कंटेनमेंट जोन में। ब्‍यौरा हमारी संवाददाता से---


लोक आयुर्वेद टीमों ने कच्छ के माधरपार गाँव और फिर राजकोट के जंगलेश्वर हॉट स्पॉट क्षेत्र की 10 चुनिंदा गलियों में इस थेरपी का प्राथमिक क्षेत्र परीक्षण किया। इन क्षेत्रों में सफल निवारक परिणाम  मिलने के बाद इसे राज्य के अहमदाबाद, राजकोट, वडोदरा सहित सभी प्रमुख हवाई अड्डों पर तैनात CISF कर्मियों में वितरित किया जाता है, इसके अलावा, गुजरात के कांडला शिपिंग पोर्ट, जामनगर की रिलायंस रिफाइनरी में भी इसका वितरण किया गया । श्री जानी ने कहा हमें बस दिन में एक बार दोनों नथुने के माध्यम से एक  चुटकी सोंठ सूंघनी होगी और भोजन के बाद दिन में दो बार 1 ग्राम चुटकी खा कर निगलनी होगी| उन्होंने कहा कि इस से बलगम साफ होता है जो नाक और ओरल कैविटी से वायरस को श्वसन प्रणाली के अंदर ले जाने के लिए मुख्य वाहक है| श्री जानी मानना है की यह थेरपी हमें पूरी आंतरिक सफाई के साथ-साथ प्रतिरक्षा भी देती है। सोंठ पाउडर सबसे सुलभ निवारक उपचारों में से एक है जिसका पालन करना आसान है। अपर्णा खुंट, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।


---

हरियाणा सरकार द्वारा  राष्ट्रीय राजधानी की ओर जाने वाले मार्गों को बंद करने के निर्णय के बाद आज सवेरे दिल्ली गुरूग्राम को जोड़ने वाली सडक पर बहुत लंबा जाम लग गया। राज्य के शीर्ष अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस के बढते मामलों को देखते हुए दिल्ली-गुरूग्राम सीमा को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है।


हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कल दिल्ली से आने-जाने वाले वाहनों पर रोक लगा दी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी से आने-जाने वाले लोगों के कारण ही राज्य में कोविड-19 के  मामले बढे हैं।


---

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग 'विशेषज्ञ राय' श्रृंखला में कोविड-19 महामारी के बारे में चिकित्‍सा विशेषज्ञों की राय से अवगत कराता है। 


आकाशवाणी से बातचीत में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के वरिष्ठ डॉ एम के सेन ने बताया यह जांच का समय हैं। हमें लॉकडाउन-चार के दौरान भी बुनियादी नियमों का पालन करना चाहिए।


ये घड़ी एक परीक्षा की घड़ी है। ये वक्‍त हमें और भी मात्रा में संयम और सुरक्षा और अनुशासन ये चीजों का ध्‍यान में रखना है। जो लॉकडाउन के मूल मंत्र हैं जैसे की सोशल डिस्‍टेसिंग हुआ या स्‍वच्‍छता, क्‍लीनीनेंस, यूज ऑफ मॉस्‍क, हैंड वाशिंग इसकों हमें निरंतर इसका पालन हमें करते रहना होगा।


---

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग के फोन-इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा में वरिष्ठ चिकित्सक डॉक्टर बलबीर सिंह ने मार्केटिंग एजेंटों को काम के दौरान सुरक्षित दूरी बनाए रखने के निर्देशों का कड़ाई से पालन करने की सलाह दी। उन्होंने संक्रमण से बचाव के लिए टेली मार्केटिंग और ऑनलाइन मार्केटिंग जैसे विकल्पों का उपयोग करने को कहा।


फेस शील्ड बहुत यूजफुल हो सकते हैं ऐसे लोगों के लिए उनको डिस्टेंस मेंटेन करना पड़ेगा जिनसे मिलना है। अगर ये टेलीसोर्स से हो सकती है मार्केटिंग फोन से या कम्प्यूटर से तो यह बहुत फायदेमंद होगा। फील्ड में जाने से अच्छा है, टेलिफोन से या कम्प्यूटर से डिस्कस कर सकते हैं अपनी प्रोडक्ट तो फार बेटर है।


डॉक्टर बलबीर सिंह ने कहा कि संक्रमण से बचाव के लिए घरों को साफ-सुथरा और विषाणुमुक्त रखना भी ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि घरों को खुद ही सैनिटाइज़ किया जा सकता है। इसके लिए किसी सेनिटाइजर कम्पनी से मदद लेने की ज़रूरत नहीं है।


आप अपने घर में स्ट्रेंजर नहीं आने देंगे। दूसरी चीज आप हैंड हाइजीन फॉलो करें। ऐसा न हो कि हैंड हाइजीन घर पर न फॉलो करें। तीसरी चीज सेनेटाइजर कंपनी को घर पर बुलाकर सेनेटाइज करवाना इसके लिए मैं बिल्कुल भी सहमत नहीं हूं। घऱ को साफ रखिए, फ्लोर को साफ रखिए, यही सबसे बढ़िया सेनेटाइजेशन है।


---

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। इस परिचर्चा में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ प्रसून चटर्जी हिस्सा लेंगे।  कार्यक्रम रात नौ बजकर 30 मिनट से एफएम गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है।


श्रोता स्‍टूडियो में फोन कर विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। नम्‍बर है- 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4. हमारा टोल‍-फ्री नम्‍बर है- 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7.


---

महान क्रिकेट खिलाडी सचिन तेंदुलकर ने लोगों से कोरोना योद्धाओं के प्रयासों का सम्‍मान करने और लॉकडाउन के दौरान लोगों से सभी सावधानियां बरतने की अपील की।


---

राजस्थान में टिड्डी हमले से बीस जिले प्रभावित हैं। हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि अब तक टिड्डी हमले से लगभग 90 हजार हेक्टेयर इलाके प्रभावित हुए हैं।


राजस्थान में टिड्डी दलों के हमले पश्चिमी जिलों के सीमावर्ती इलाकों तक सीमित होते थे। लेकिन इस बार टिड्डी दलों ने राजस्थान की सीमा को पार कर पड़ोसी राज्यों के कई जिलों को भी प्रभावित किया है। वर्षों बाद राजधानी जयपुर में भी लाखों टिड्डियों के झुंड देखे गये। कृषि आयुक्त डॉ. ओम प्रकाश ने बताया कि टिड्डी चेतावनी संगठन और स्थानीय प्रशासन टिड्डी नियंत्रण कार्य में जुटे हैं। अब तक करीब 70 हजार हैक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण की कार्यवाही की गयी है। इस काम के लिए पहली बार ड्रोन का उपयोग भी शुरू किया गया है। पिछले साल टिड्डियों ने करीब 12 जिलों में साढे सात लाख हैक्टेयर क्षेत्र को प्रभावित किया था। लेकिन इस बार संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन ने पिछले साल से दो गुना बड़े हमले की आशंका जताई है। - जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।


---

राष्ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति और प्रधानमत्री ने राज्य सभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री एम पी वीरेंद्र कुमार के निधन पर दुख व्यक्त किया है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि श्री वीरेंद्र कुमार कट्टर समाजवादी थे तथा मलयालम समाचार पत्र मातृभूमि का प्रकाशन करते हुए उन्होंने पत्रकारिता और साहित्य जगत में बड़ा योगदान किया।


उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति एम. वैंकैया नायडू ने एक ट्वीट में कहा कि श्री एमपी वीरेंद्र कुमार बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे।


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि सांसद वीरेन्‍द्र कुमार एक मेधावी और प्रभावशाली सांसद थे। वे गरीबों तथा शोषित वर्ग को आवाज देने में विश्‍वास रखते थे।


---

और अब एक नजर आज के मौसम पर--


दिल्ली में लोगों को जारी भीषण गर्मी के बीच कल रात  हुई बारिश से काफी राहत मिली। दिल्ली में आज गरज के साथ छीटें पड़ने की संभावना है। न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। आज अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहने की उम्मीद है।


केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में, जम्मू में न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। जम्मू में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगें। साथ ही बारिश होने और गरज के साथ आंधी आने की उम्‍मीद है।  


---

 

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 7 (Jul) Midday News 7 (Jul) Evening News 6 (Jul) Hourly 7 (Jul) (1300hrs)
समाचार प्रभात 7 (Jul) दोपहर समाचार 7 (Jul) समाचार संध्या 6 (Jul) प्रति घंटा समाचार 7 (Jul) (1310hrs)
Khabarnama (Mor) 7 (Jul) Khabrein(Day) 7 (Jul) Khabrein(Eve) 6 (Jul)
Aaj Savere 7 (Jul) Parikrama 6 (Jul)

Listen Programs

Market Mantra 6 (Jul) Samayki 6 (Jul) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 6 (Jul) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 6 (Jul) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 5 (Jul)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)