A- A A+
Last Updated : Jul 7 2020 1:52PM     Screen Reader Access
News Highlights
India and China agree on complete disengagement of troops along the LAC and de-escalation            Over 4 lakh 39 thousand people recovered from Coronavirus so far in the country            Door to door health survey in COVID-19 containment zones completed in Delhi            University Grants Commission revisits its earlier guidelines related to university examinations            Former US National Security Advisor says Indo-US relationship will witness new peaks in 21st century           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
01.06.2020

मुख्य समाचार
:-

  • सरकार ने 14 खरीफ फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में बढोतरी की। कृषि और संबंधित गतिविधियों के लिए लघु अवधि ऋण चुकाने की तिथि अगस्‍त तक बढायी गई।

  • मंत्रिमंडल ने सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्योगों की परिभाषा में संशोधन किया। पचास करोड रूपए तक के निवेश और ढाई सौ करोड रूपए तक के कारोबार वाले उद्योग इसका फायदा उठा सकते हैं।

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा- मंत्रिमंडल के फैसले किसान, मजदूर और श्रमिक के जीवन में सकारात्‍मक बदलाव लाएंगे।

  • सरकार ने रेहडी-पटरी वालों को किफायती ऋण उपलब्‍ध कराने के लिए पी एम स्‍वनिधि योजना शुरू की।

  • प्रधानमंत्री ने सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्योंगों को एक ही स्‍थान पर समाधान उपलब्‍ध कराने के लिए प्रौद्योगिकी आधारित चैम्पियन्‍स प्‍लेटफार्म का शुभारंभ किया।

  • कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने वाले मरीजों की दर बढकर 48 प्रतिशत से अधिक हुई।

  • मौसम विभाग ने कहा- अरब सागर के ऊपर बना कम दवाब का क्षेत्र अगले 24 घंटों में चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। गृह मंत्री अमित शाह ने तैयारियों की समीक्षा की।

--------------------

मंत्रिमंडल की बैठक में आज किसानों और सूक्ष्‍म, लघु और मझोले उद्यमों-एमएसएमई की सहायता के लिए कई ऐतिहासिक फैसलों को मंजूरी दी गई। कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने कहा कि खरीफ की 14 फसलों के लिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 83 प्रतिशत तक बढ़ाया जायेगा। इससे किसानों को अपनी फसल का बेहतर दाम मिल सकेगा। सरकार ने धान का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 53 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाकर एक हजार 868 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया है। कपास का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 260 रुपये बढ़ाया गया है। इससे मौजूदा फसल वर्ष के लिए कपास का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पांच हजार 515 रुपये प्रति क्विंटल होगा।


श्री तोमर ने कहा कि मंत्रिमंडल ने कृषि और संबंधित गतिविधियों के लिए लघु अवधि ऋण चुकाने की तिथि अगस्‍त तक बढ़ा दी है।


किसानों के हित में माननीय प्रधानमंत्री जी ने इस तिथि को बढ़ाकर अभी 31 अगस्‍त कर दिया है। 31 अगस्‍त तक जो किसान ऋण की अदायगी करेगा, उसको चार परसेन्‍ट ब्‍याज पर ही कर्जा मिलेगा। मैं समझता हूं कि किसानों के लिए निश्चित रूप से बहुत बड़ी राहत है।


सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि मंत्रिमंडल ने सूक्ष्‍म, लघु और मझौले उद्यमों की परिभाषा को और संशोधित करने की मंजूरी दी है। इस फैसले से अनेक औद्योगिक इकाईयों को एमएसएमई के दायरे में लाया जा सकेगा। 50 करोड़ रुपये तक के निवेश और 250 करोड़ रुपये तक के सकल कारोबार वाले उद्यम अब एमएसएमई क्षेत्र में उपलब्‍ध लाभ हासिल कर सकेंगे। श्री जावड़ेकर ने कहा कि ऐसे उद्यमों में निर्यात से कारोबार को सकल कारोबार से छूट दी जाएगी।


ज इकाई की परिभाषा बढ़ाकर एक करोड़ रुपये के निवेश और 5 करोड़ रुपये का कारोबार कर दिया गया है। लघु इकाई की सीमा बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये का निवेश और 50 करोड़ रुपये का टर्नओवर कर दिया गया है। इसी प्रकार मध्‍यम इकाई का निवेश सीमा बढ़ाकर 20 करोड़ रुपये तथा 100 करोड़ की जगह 250 करोड़ रुपये का कारोबार कर दिया गया है।


सूक्ष्‍म, लघु और मझोले उद्यम मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कैबिनेट ने संकट में फंसे एमएसएमई की सहायता के लिए बीस हजार करोड़ रुपये के आपात कोष को भी मंजूरी दी।


जो विशेष रूप से डिस्‍ट्रेस में है, उनको इसका फायदा होगा और ये फंड की आज मंजूरी आज कैबिनेट ने दी है और ये 20 हजार करोड़ ये फंड का उपयोग होगा। दूसरा इम्‍पोर्टेंट निर्णय ऐसा हुआ है कि विशेष रूप से हमारी बड़ी इंडस्‍ट्रीज जो होती है, जो आप तीन बातों में वर्ल्‍ड में इकोनॉमी में चर्चा होती है-इंशोरेंस इकोनॉमी, पेंशन इकोनॉमी और शेयर इकोनॉमी और ये जो बड़ी इंडस्‍ट्री हैं इनके शेयर स्‍टॉक एक्‍सचेंज में लोग लेते हैं, खरीदते है। एमएसएमई को ये सहूलियत नहीं थी। तो भी हमने 10 हजार करोड़ का शुरूआती योगदान दिया है और इस फंड को बाकी के फंड एड करके ये 50 हजार करोड़ रुपये का फंड बनेगा।

--------------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कैबिनेट के आज के फैसलों को ऐतिहासिक बताया है। उन्‍होंने कहा कि इनसे किसानों, मजदूरों और कामगारों के जीवन में सकारात्‍मक बदलाव को प्रोत्‍साहन मिलेगा। सरकार के फैसलों से किसानों, रेहड़ी-पटरी पर कारोबार से आजीविका कमाने वालों और एमएसएमई को अत्‍यधिक लाभ होगा।


श्री मोदी ने कहा कि एमएसएमई की परिभाषा में परिवर्तन से न केवल आत्‍मनिर्भर भारत के अभियान को प्रोत्‍साहन मिलेगा बल्कि देश के उद्यमों को नया जीवन भी मिलेगा। सरकार के सकारात्‍मक सुधारों से अनेक लोगों को रोजगार के अवसर मिलेगें।


प्रधानमंत्री ने रेहड़ी-पटरी कारोबार से जुड़े लोगों को ऋण उपलब्‍ध कराने के सरकार के प्रयासों के महत्‍व पर बल दिया। उन्‍होंने कहा कि पीएम स्‍वनिधि स्‍कीम से 50 लाख से अधिक लोगों को लाभ होगा। यह योजना रेहड़ी-पटरी कारोबार से जुड़े लोगों को मौजूदा चुनौती पूर्ण समय में कारोबार फिर शुरू करने के जरिये आत्‍मनिर्भर भारत अभियान से जोड़ेगी। प्रधानमंत्री ने देश के किसानों के प्रयासों की सराहना की और ग्रामीण भारत को आवश्‍यक प्रोत्‍साहन देने की सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई। इसी प्रतिबद्धता के तहत सरकार ने खरीफ की 14 फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में लागत की करीब डेढ़ गुणा वृद्धि की है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि तीन लाख रुपये तक के लघु अवधि ऋण को चुकाने की अवधि भी इसी उद्देश्‍य से बढ़ाई गई है।

--------------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज नई दिल्‍ली में सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यम-एमएसएमई क्षेत्र के लिए प्रौद्योगिकी आधारित समाधान चैंपियंस का शुभारंभ किया। चैंपियंस प्‍लेटफार्म देश में सभी सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यमों के लिए हर तरह के समाधान एक ही जगह उपलब्‍ध करायेगा। इससे इस क्षेत्र को सुदृढ़ बनाकर उत्‍पादन बढाने में मदद मिलेगी। इस प्‍लेटफार्म पर एमएसएमई क्षेत्र से संबंधित फाइनेंस, कच्‍चे माल और सभी तरह की अनुमति के साथ शिकायतों का समाधान भी किया जा सकेगा।


इस प्‍लेटफार्म से कारोबारियों को अपने व्‍यवसाय के विस्‍तार के लिए नये रास्‍ते तलाशने में भी मदद मिलेगी। इससे संभावित उद्यमियों को टेलीफोन, इंटरनेट और वीडियो कांफ्रेंस सहित आधुनिक संचार माध्‍यमों के जरिये प्रोत्‍साहन दिया जा सकेगा।

--------------------

आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने एक दिन में ही तीन हजार दो सौ करोड रूपये के ऋण बिना किसी जमानत के दिये हैं। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामन ने बताया है कि बिना जमानत के ऋण मंजूर करने के पहले दिन दूसरी श्रेणी के अंतर्गत आने वाले तीन हजार से अधिक सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्योगों को ये ऋण मंजूर किये गये हैं। इससे एम.एस.एम.ई. को अपने कर्मचारियों को वेतन देने, किराये का भुगतान करने और कच्‍चे माल का भंडार बनाने में मदद मिलेगी।


आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत 20 लाख करोड रूपये के वित्‍तीय प्रोत्‍साहन की घोषणा करते हुए श्रीमती सीतारामन ने एम.एस.एम.ई. के लिए आपात-ऋण सुविधा गारंटी योजना की घोषणा की थी। योजना के अंतर्गत तीन लाख करोड रूपये के जमानत-मुक्‍त ऋण, एक साल की भुगतान मोहलत के साथ दिये गये हैं। इस योजना के अंतर्गत एम.एस.एम.ई. और संकट में पड़े अन्‍य क्षेत्रों के ऐसे उधार लेने वालों को जिन पर 25 करोड रूपये तक का ऋण है, उन्‍हें बैंकों तथा वित्‍तीय संस्‍थाओं से बकाया ऋण के 20 प्रतिशत के बराबर अतिरिक्‍त ऋण लेने की इजाजत दी गई है। बैंकों और वित्‍तीय संस्‍थाओं द्वारा दिये जाने वाले अतिरिक्‍त ऋण पर भारत सरकार इन संस्‍थाओं को शत-प्रतिशत गारंटी देती है।

--------------------

केंद्र सरकार ने आज प्रधानमंत्री स्‍ट्रीट वेंडर आत्‍मनिर्भर निधि यानी पीएम स्‍वनिधि योजना शुरू की है। इसके अंतर्गत रेहड़ी-पटरी विक्रेताओं को विशेष सूक्ष्‍म ऋण सुविधा उपलब्‍ध कराई जाएगी। योजना का उद्देश्‍य गली-मोहल्‍ले में फेरी लगाकर और रेहड़ी-पटरी पर कारोबार करने वालों विक्रेताओं को कोविड-19 की वजह से बंद हुए अपने कारोबार को फिर से चालू करने में मदद मिलेगी। आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय ने वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामन द्वारा पिछले महीने की गई घोषणा के तहत इस योजना का शुभारम्‍भ किया।


योजना से शहरी इलाकों के ऐसे 50 लाख से अधिक कारोबारियों को लाभ पहुंचाने का लक्ष्‍य रखा गया है जो इस साल 24 मार्च से पहले यही कार्य करते थे। योजना की अवधि मार्च-2022 तक की है। पहली बार अर्द्धशहरी या ग्रामीण इलाकों के स्‍ट्रीट वेंडर्स को शहरी आजीविका कार्यक्रम के अंतर्गत लाया गया है।


इस तरह के कारोबारी दस हजार रूपये तक का कार्यशील पूंजी-ऋण ले सकते हैं जिसे एक साल के भीतर किस्‍तों में चुकाना होगा। कर्ज का समय पर या पहले भुगतान करने पर सात प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्‍याज सब्सिडी दी जाएगी।  इसे प्रत्‍यक्ष लाभ अंतरण योजना के तहत छमाही आधार पर कर्ज लेने के वाले के बैंक खाते में जमा करा दिया जाएगा।


मंत्रालय ने कहा कि अगर कर्जदार, किस्‍तों का भुगतान समय पर या समय से पहले करता है तो मंत्रालय उनका विश्‍वसनीयता सूचकांक तैयार करेगा जिसके आधार पर वह 20 हजार रूपये या उससे अधिक का सावधि ऋण हासिल करने के लिए पात्र होगा। इस योजना को लागू करने में शहरी स्‍थानीय निकायों की भूमिका महत्‍वपूर्ण होगी।

--------------------

ओडिसा, सिक्किम और मिजोरम को 'एक राष्‍ट्र, एक राशनकार्ड' योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है। उपभोक्‍ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने आज इन राज्‍यों को समन्वित सार्वजनिक वितरण प्रणाली प्रबंधन योजना में शामिल करने की घोषणा की। इस प्रणाली में राष्‍ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत राशनकार्ड धारकों को देशभर में किसी भी सरकारी दुकान से अपने कोटे का राशन किफायती दामों पर उपलब्‍ध हो सकेगा। आधार से जुडे ये राशनकार्ड देश में किसी भी स्‍थान पर इस्‍तेमाल किये जा सकेंगे। फिलहाल ये सुविधा 17 राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों में उपलब्‍ध हो गई है। अन्‍य राज्‍यों में भी इस योजना का विस्‍तार करने और उपभोक्‍ताओं को अपने राशनकार्ड का फायदा किसी भी राज्‍य में उठाने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं।


अगस्‍त तक उत्‍तराखंड, नगालैंड और मणिपुर को इस योजना में शामिल कर लिया जाएगा। केंद्र सरकार बाकी बचे 13 राज्‍यों को भी इस समूह में शामिल करने के लिए प्रयत्‍नशील हैं। 21 मार्च 2021 तक सभी राज्‍य एक राष्‍ट्र, एक राशनकार्ड योजना में शामिल हो जाएंगे।

--------------------

राज्‍यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू और लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिरला ने नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण सुरक्षित दूरी बनाये रखने के संबंध में संसद के मॉनसून सत्र पर आज विस्‍तृत चर्चा की। सूत्रों ने बताया कि दोनों पीठासीन अधिकारियों ने मौजूदा स्थिति के मद्देनजर दीर्घावधि विकल्‍प के रूप में संसद सत्र में प्रौद्योगिकी के उपयोग की आवश्‍यकता पर बल दिया। मौजूदा स्थिति में नियमित अधिवेशन संभव नहीं है। उन्‍होंने कहा कि सदन की कार्यवाही की गोपनीयता बनाये रखने की कोई आवश्‍यकता नहीं है, क्‍योंकि उसका आम जनता के लिए सीधा प्रसारण किया जाता है। इसलिए वर्चुअल पार्लियामेंट के विकल्‍प पर विचार किया जाना चाहिए।


मॉनसून सत्र के संबंध में उन्‍होंने महासचिवों को सुरक्षित दूरी बनाये रखने के लिए संसद के केन्‍द्रीय कक्ष का उपयोग करने की संभावना का पता लगाने का निर्देश दिया। उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्रीय कक्ष में लोकसभा और लोकसभा के चैम्‍बर में राज्‍यसभा की बैठकें आयोजित करने तथा दोनों सदनों की बैठकें वैकल्पिक दिनों में आयोजित करने के विकल्‍पों पर भी विचार किया जाना चाहिए।

--------------------

निर्वाचन आयोग ने आज राज्‍यसभा की 18 सीटों के चुनाव की घोषणा की। इन सीटों के लिए इस महीने की 19 तारीख को मतदान होगा। ये चुनाव आंध्र प्रदेश, झारखण्‍ड, गुजरात, मध्‍य प्रदेश, मणिपुर, मेघालय और राजस्‍थान में होंगे।

--------------------

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने आज कहा कि लॉकडाउन के पांचवे चरण के लिए गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों से उड्डयन क्षेत्र धीरे-धीरे और सीमित रूप से खुल जाएगा। उन्‍होंने कहा कि देश अब घरेलू उडानों के 50 से 60 प्रतिशत संचालन की तरफ बढ़ रहा है जिससे अंतरराष्‍ट्रीय उडानें फिर शुरू करने की क्षमता बढ़ेगी। श्री पुरी ने कहा कि वंदे भारत मिशन से विदेशों में फंसे पचास हजार से अधिक भारतीय नागरिकों को वापस लाया गया है। सरकार, अब ऐसी उडानों की संख्‍या में वृद्धि करने की तैयारी कर रही है। उन्‍होंने कहा कि उड्डयन क्षेत्र के लिए आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के तहत विमानों के लिए हवाई क्षेत्र खोलने और निजी क्षेत्र की भागीदारी के लिए अन्‍य हवाई अडडों को खोलने जैसे सुधार के कई उपाय किये गये हैं।

--------------------

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय -डीजीसीए ने विमान यात्रा के लिए नए निर्देश जारी किए हैं। इनके अनुसार एयरलाइंस को दो यात्रियों के बीच की सीट खाली रखने का प्रयास करना चाहिए। उच्‍चतम न्‍यायालय के निर्देश के अनुपालन में डीजीसीए ने कहा कि एयरलाइन को विमान की सीट इस ढंग से आवंटित करनी चाहिए कि बीच की सीट खाली रहे।


एयरलाइंस को यह सलाह भी दी गई है कि यदि यात्री अधिक होने के कारण ऐसा करना संभव न हो तो यात्री को कवर उपलब्‍ध कराना चाहिए। निर्देशों में कहा गया है कि एक ही परिवार के सदस्‍यों को एक साथ बैठने की अनुमति दी जा सकती है। सभी यात्रियों को तीन परत वाले सर्जिकल मास्‍क उपलब्‍ध कराये जाने चाहिए।

--------------------

नौसेना का जलपोत आईएनएस जलाश्‍व आज रात श्रीलंका के कोलम्‍बो बंदरगाह से रवाना होगा। इस जलपोत से करीब 680 भारतीय नागरिक तमिलनाडु के तूतीकोरिन बंदरगाह वापस आयेंगे। जलपोत कल सुबह तूतीकोरिन पहुंचेगा। वंदेभारत मिशन के तहत ऑपरेशन समुद्र सेतु के जरिये श्रीलंका से लाये जा रहे भारतीय नागरिकों का यह पहला समूह होगा। इस मिशन में सहायता उपलब्‍ध कराने के लिए श्रीलंका में भारतीय उच्‍चायुक्‍त गोपाल बागले ने वहां की सरकार को धन्‍यवाद दिया है।


पड़ोसी श्रीलंका से भारतीय नागरिकों की वापसी के लिए ये सबसे बड़ी प्रक्रिया थी। श्रीलंका स्थित लगभग 1700 भारतीयों ने वापसी के लिए खुद को पंजीकृत किया है, जिसमें ज्‍यादातर छोटे कामगार और व्यापारी हैं। आज वापस जाने वालों में ज्‍यादातर तमिलनाडु के निवासी हैं। वहीं कुछ लोग कर्नाटक और केरल के रहने वाले है। तमिल बहुल उत्तरी प्रांत से लगभग 200 लोगों की वापसी हो रही है, इनमें 11 मछुआरे भी हैं, जो श्रीलंका की सीमा में अवैध प्रवेश के लिए पकड़े गये थे। इन्‍हें मार्च में न्‍यायिक प्रक्रिया के तहत रिहा कर दिया गया था, लेकिन कोविड संकट ने इनकी घर वापसी को लंबित कर दिया था। वंदे भारत मिशन के तहत श्रीलंका से इस महीने दो हवाई सेवाओं का भी संचालन प्रस्‍तावित है। आकाशवाणी समाचार के लिए कोलम्‍बो से संतोष कुमार।

--------------------

आज से देश में दो सौ विशेष रेलगाडि़यां चलाई जा रही हैं। ये विशेष श्रमिक और तीस वातानुकूलित रेलगाडि़यों के अलावा हैं। रेल मंत्रालय ने उम्‍मीद जताई है कि लगभग डेढ़ लाख यात्री आज इन गाडि़यों का उपयोग करेंगे। एक से 30 जून की अवधि के लिए लगभग 26 लाख यात्रियों ने आरक्षण करवाया है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि नई रेलगाडि़यां पूरी तरह से आरक्षित होंगी, जिनमें वातानुकूलित और गैर-वातानुकूलित दोनों ही प्रकार के कोच होंगे।


यात्रियों को कम से कम डेढ़ घंटे पहले रेलवे स्‍टेशन पहुंचना होगा ताकि उनकी जांच की जा सके। रेलगाड़ी में सिर्फ उन्‍हीं लोगों को यात्रा करने की अनुमति होगी जिनमें कोरोना से संक्रमण के कोई लक्षण नजर नहीं आयेंगे। कंफर्म और आरएसी टिकट वाले यात्रियों को ही रेलागाड़ी में सफर करने की अनुमति होगी। वहीं यात्रा के दौरान सभी यात्रियों के लिए मास्‍क पहनना अनिवार्य होगा और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करना होगा। ट्रेन में यात्रियों को कंबल, चादर या ताकिया नहीं दिया जायेगा। इसके अलावा अपनी मंजिल पर पहुंचने के बाद सभी यात्रियों को उस राज्‍य की दिशा-निर्देश का पालन करना होगा। रेलवे ने सभी यात्रियों से अनुरोध किया है कि वे अपने मोबाइल में आरोग्‍य सेतू ऐप डाउनलोड कर लें। दीपेन्‍द्र कुमार आकाशवाणी समाचार।

--------------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि भारत जैसे देश में पर्याप्‍त मेडिकल ढांचे और मेडिकल शिक्षा की आवश्‍यकता है। बेंगलूरू स्थित राजीव गांधी स्‍वास्‍थ्‍य विज्ञान विश्‍वविद्यालय के रजत जयंती समारोह का आज वीडियो कान्‍फ्रेंस के जरिये उद्घाटन करते हुए उन्‍होंने ये बात कही। श्री मोदी ने कहा कि पिछले छह वर्षों के दौरान सरकार ने स्‍वास्‍थ्‍य और स्‍वास्‍थ्‍य शिक्षा के क्षेत्र में सुधारों को सर्वोच्‍च प्राथमिकता दी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में 22 और अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थानों की तेजी से स्‍थापना की जा रही है। उन्‍होंने कहा कि पिछले पांच वर्ष के दौरान एमबीबीएस की तीस हजार और मेडिकल स्‍नातकोत्‍तर की 15 हजार सीटें बढ़ाई गई हैं। 


प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया की सबसे बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल योजना- आयुष्‍मान भारत के तहत दो वर्ष से भी कम समय में एक करोड़ लोगों को लाभ पहुंचाया गया। उन्‍होंने कहा कि ग्रामीणों और महिलाओं को इससे सबसे ज्‍यादा फायदा हुआ है।

--------------------

देश में कोविड-19 रोगियों के ठीक होने की दर निरंतर बढ़ रही है और अब यह 48 दशमलव एक-नौ प्रतिशत हो गई है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान चार हजार 835 रोगी ठीक हुए। अब तक लगभग 92 हजार मरीज स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। इस समय देश में 93 हजार 322 रोगियों का इलाज चल रहा है।


सरकार कोविड-19 से बचाव, नियंत्रण और प्रबन्‍धन के लिए राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों के साथ अनेक कदम उठा रही है। एक तरफ रोगियों के ठीक होने की दर बढ़ रही है तो दूसरी तरफ इस महामारी से अब कम लोग दम तोड़ रहे हैं। निरंतर निगरानी पर ध्‍यान देने, समय से संक्रमित लोगों की पहचान और क्लीनिकल प्रबन्‍धन के कारण मृत्‍युदर को अपेक्षाकृत कम रखने में मदद मिली है। भारत में मृत्‍यु की दर दो दशमलव आठ-तीन प्रतिशत है, जबकि विश्‍व का औसत छह दशमलव एक नौ प्रतिशत है।

--------------------

दिल्‍ली सरकार ने राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र में सैलून खोलने का निर्णय लिया है हालांकि स्‍पा बंद रहेंगे। मुख्‍यमंत्री अरविन्‍द केजरीवाल ने कहा कि शहर में सभी दुकानों को खोलने की अनुमति दी जायेगी। उन्‍होंने दिल्‍ली की सीमा को एक सप्‍ताह के लिए सील करने की घोषणा की है। पास धारक आवश्‍यक सेवाओं में लगे लोगों को प्रवेश की अनुमति होगी। उन्‍होंने कहा कि लोगों से सुझाव मिलने पर एक सप्‍ताह के बाद सीमाएं खोल दी जायेंगी।

--------------------

महाराष्‍ट्र के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि राज्‍य में मई के महीने में कोविड-19 रोगियों के स्‍वस्‍थ होने की दर बढकर 43 दशमलव तीन-पांच प्रतिशत हो गई है जो मार्च की ठीक होने की दर से साढे तीन गुणा अधिक है। उन्‍होंने बताया कि रोगियों के दुगुना होने की अवधि 11 दिन से बढकर 17 दशमलव पांच दिन हो गई है।


राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मार्च में जब महाराष्ट्र में पहला कोरोना वायरस का मरीज पाया गया था, बीमारी से उबरने के दर 12 दशमलव 91 प्रतिशत था, जो अप्रैल में बढ़कर 16.88 प्रतिशत हो गया। मार्च में 302 में से उन्तालीस मरीज ठीक हुए थे, जबकि अप्रैल में 1773 मरीज ठीक हुए थे। मई के अंत तक, 29 हजार 329 मरीज ठीक हो गए थे। उन्होंने इसका श्रेय राज्य सरकार द्वारा किए गए ठोस उपायों, लॉकडाउन, फ्रंटलाइन वर्कर्स और कर्मचारियों की लगन तथा केंद्र द्वारा जारी किये गए मरीजों के डिस्चार्ज के नियमों को दिया।


इस बीच, ठाणे के पुलिस आयुक्त विवेक फनसालकर ने आज प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए, जिसमें 30 जून तक ठाणे शहर में सीआरपीसी धारा 144 के तहत लोगों के जमाव पर प्रतिबंध जारी किये हैं। सोनाली घडियाल पाटिल, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

--------------------

मध्‍य प्रदेश में नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए कैदियों से मुलाकात के समय पर पाबंदी तीस जून तक बढ़ा दी गई है। राज्‍य में कोविड-19 से आठ हजार 89 लोग संक्रमित हैं। इनमें से 398 लोगों की मृत्‍यु हुई है।


मध्‍य प्रदेश  के कुल 52 जिलों में से 51 जिले कोरोना से प्रभावित है जबकि, 4 हजार 842 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं। इस बीच, भोपाल स्थित राजभवन आज से कन्टेनमेंट मुक्त क्षेत्र बन गया है। यहाँ मिले कोविड-19 से संक्रमित 10 व्यक्तियों का अस्पताल में उपचार चल रहा है, जबकि इन संक्रमित व्यक्तियों के सभी परिजनों को यहाँ से स्थानांतरित कर दिया गया है। राज्यपाल के सचिव मनोहर दुबे ने बताया कि राजभवन परिसर के 395 व्यक्तियों की जांच की गई थी, इनमें से 10 पॉजिटिव मामलों के अलावा, सभी 385 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उन्होंने बताया कि राजभवन में किसी भी व्यक्ति को बिना अनुमति के प्रवेश नहीं दिया जाएगा। राजभवन के प्रवेश द्वार पर थर्मो स्कैनिंग की व्यवस्था भी की गई है। राजभवन परिसर में रहने वाले कर्मचारियों को मास्क, ग्लब्स और स्वच्छता जैसे सुरक्षा मानकों का पालन करने को कहा गया है। संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

--------------------

राजस्‍थान में संग्रहालय, पुरातात्विक स्‍मारक, चिडियाघर, जैविक पार्क और अभ्‍यारण्‍यों सहित सभी पर्यटन स्‍थल आज खोल दिए गए। इन स्‍थानों पर कल से प्रवेश की अनुमति होगी। हमारे संवाददाता ने बताया है कि राज्‍य सरकार ने पर्यटन स्‍थलों को एक दिन छोडकर खोलने का फैसला किया है।


पहले दो सप्ताह पर्यटन स्थल सीमित समय के लिए खोले जायेंगे। पहले सप्ताह पर्यटन स्थलों पर प्रवेश निशुल्क होगा, जबकि दूसरे सप्ताह प्रवेश पर शुल्क में 50 प्रतिशत की छूट होगी। पर्यटन विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रेहा गुहा ने बताया कि पर्यटकों को सीमित संख्या में प्रवेश दिया जायेगा। पर्यटन स्थलों को रोजाना दिन में दो बार सैनेटाइज किया जायेगा। प्रदेश में वन्यजीवों से संबंधित पर्यटन स्थल भी खोल दिये गये हैं। हालांकि रणथम्भौर, सरिस्का और मुकुन्दरा टाइगर रिजर्व अभी बंद रहेंगे। इस बीच, जयपुर के चारदीवारी क्षेत्र में कर्फ्यू हटने से आज 70 दिन बाद बाजार खोले गये हैं। जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।

--------------------

कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री बी एस येडियुरप्‍पा ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के विशिष्‍ट और दूरदर्शी नेतृत्‍व से भारत को सशक्‍त और आत्‍मनिर्भर बनाने में मदद मिल रही है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने जम्‍मू-कश्‍मीर का विशेष दर्जा खत्‍म करने, तीन तलाक की कुप्रथा को प्रतिबंधित करने, वंदेभारत मिशन और किसान सम्‍मान निधि योजना जैसे महत्‍वपूर्ण निर्णय लिये। श्री येदियुरप्‍पा ने कहा कि प्रधानमंत्री सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों के सम्‍पर्क में हैं ताकि एकजुट होकर कोरोना वायरस से लड़ा जा सके।

--------------------

हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्‍य के मजदूरों का विस्‍तृत डेटाबेस तैयार करने के लिए स्किल रजिस्‍टर नाम से एक ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है। इस पोर्टल में ऐसे सभी मजदूरों का ब्‍यौरा रहेगा जो कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बाद हाल में घर लौटे हैं। ब्‍यौरा


हाल ही में लौटे कुशल प्रवासियों की सेवाओं का उपयोग करने के लिए आईटी विभाग ने स्किल रजिस्‍टर नाम से पोर्टल बनाया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आज शिमला में पोर्टल को लॉन्च करते हुए कहा कि यह उद्योगों को उनकी आवश्यकताओं के अनुसार कुशल श्रमिकों की एक जगह पर ही जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा। उन्होंने कहा कि विभिन्न कंपनियां और औद्योगिक घराने भी इस पोर्टल पर अपनी आवश्यकताओं को दर्ज कर सकते हैं। इस पोर्टल के माध्‍यम से राज्‍य के इच्छुक व्यक्ति skillregister.hp.gov.in के माध्यम से पंजीकरण कर सकते हैं। कौशल के बारे में रिपोर्ट जिलेवार, शैक्षिक योग्यता वार और कार्य अनुभव पर तैयार की जाएगी। वहीं, पंजीकरण मोबाइल नंबर और आधार नंबर पर आधारित होगा और लोगों को एसएमएस के माध्‍यम से सूचित किया जाएगा। संजीव सुंदरियाल, आकाशवाणी समाचार शिमला

--------------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने देश में कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए दो गज की दूरी बनाये रखने, मास्‍क लगाने और हाथ धोते रहने की अपील दोहराई है। भय और आशंकाओं के उन्‍मूलन के लिए गीत और कला के उपयोग के विषय पर स्पिक मैके अनुभव सीरिज का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि संगीत बहुत सुकून देता है और समाज के सभी वर्गों के लोगों को एकसूत्र में पिरोता है। उन्‍होंने कहा कि ताली और थाली बजाने के लिए लोगों को एकसूत्र में पिरोने के संयुक्‍त प्रयासों से संगीत के सुरों की इस एकता की भावना का पता चलता है।

--------------------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में कोरोना संक्रमण पर एक विशेष परिचर्चा  प्रसारित करेगा। मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के वरिष्ठ चिकित्सक डॉक्टर नरेश गुप्ता परिचर्चा में भाग लेंगे। यह कार्यक्रम आज रात नौ बजकर 30 मिनट से एफएम गोल्‍ड और अतिरिक्‍त चैनलों पर सुना जा सकता है। श्रोता फोन नंबर 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 और 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7 पर कॉल कर विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं।

--------------------

आणविक और कोशिकीय जीव विज्ञान केंद्र के निदेशक डॉक्‍टर राकेश मिश्रा ने बताया कि टीके विकसित करने और सीरम विज्ञान संबंधी प्रयोगों के लिए प्रयोगशालाओं में वायरस पर अनुसंधान का महत्‍व बढ़ गया है। 


लैब को सेल कल्‍चर सिस्‍टम जो होता है उसके जो सेल्‍स लैब में हम ग्रो करते हैं लैबोरेट्री के अन्‍दर उसमें हम वायरस इन्‍सर्ट करके और ज्‍यादा मात्रा में हम वायरस बना सकते हैं। वो हमने शुरू किया उसके बहुत सारे उपयोग होते हैं जैसे उसी का एक चीज यह होती है कि हम ज्‍यादा वायरस बना के उसको वैक्‍सीन की तरह इस्‍तेमाल कर सकते हैं, इन-एक्‍टीवेट कर के या जो हमारे सेल्‍स हैं जिसमें वायरस ग्रो हो रहा है उसको हम कोई नया ड्रग हुआ या कोई नया पदार्थ हुआ जो पेड से निकला है या किसी वनस्‍पति से निकला है तो उसका यदि कोई एंटी कोविड 19 या कोविउ 19 की दवा के रूप में इस्‍तेमाल हो सकता है तो उसको हम टेस्‍ट कर सकते हैं।

--------------------

अरब सागर के पूर्व-मध्‍य और दक्षिण-पूर्व क्षेत्र के ऊपर बना कम दवाब का क्षेत्र, पिछले छह घंटे के दौरान 13 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से उत्‍तर-उत्‍तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ रहा है। मौसम विभाग ने कहा है कि कम दवाब के इस क्षेत्र की तीव्रता और बढ़ने और इसके अगले छह घंटे में गहरे दवाब वाले क्षेत्र में बदलने की संभावना है। इसके कल तक उत्‍तर की दिशा में आगे बढने और उसके बाद उत्‍तर-उत्‍तर-पश्चिम दिशा में मुडकर बुधवार तक उत्‍तरी महाराष्‍ट्र और दक्षिणी गुजरात के तटों के पास हरिहरेश्‍वर तथा दमण के बीच से गुजरने की संभावना है। इसकी वजह से दक्षिण कोंकण में कुछ स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान है।


अगले 48 घंटों के दौरान अरब सागर में ऊंची-ऊंची लहरे उठने की आशंका के मद्देनजर मछुआरों को इस दौरान दक्षिण-पूर्वी अरब सागर में न जाने की सलाह दी गई है।

--------------------

गृ‍हमंत्री अमित शाह ने आज नई दिल्‍ली में राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंध प्राधिकरण, राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल और मौसम विभाग के वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ चक्रवाती तूफान से निपटने की तैयारियों के बारे में  समीक्षा बैठक की।


बाद में, श्री शाह ने गुजरात और महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संवाद कर तैयारियों की समीक्षा की। गृहमंत्री ने उन्‍हें केंद्र सरकार से हरसंभव सहायता का आश्‍वासन दिया।

--------------------

गुजरात में राज्‍य प्रशासन संभावित चक्रवाती तूफान निसर्ग से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि सूरत, वलसाड, नवसारी और भावनगर सहित केंद्रशासित दमन और दीव, दक्षिण गुजरात तथा सौराष्‍ट्र के तटवर्ती जिलों के हिस्‍सों में सुबह से ही सामान्‍य से तेज बारिश हो रही है।

--------------------

किसानों के लिए अच्‍छी खबर है कि देश में इस वर्ष मॉनसून सामान्‍य रहेगा। जुलाई से सितम्‍बर के दौरान दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वर्षा के बारे में दूसरे दीर्घावधि अनुमान के बारे में पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय में सचिव डॉक्‍टर एम राजीवन ने कहा कि अच्‍छे मॉनसून के लिए स्थिति ज्‍यादा अनुकूल हो रही है।

--------------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 7 (Jul) Midday News 6 (Jul) Evening News 6 (Jul) Hourly 7 (Jul) (1300hrs)
समाचार प्रभात 7 (Jul) दोपहर समाचार 6 (Jul) समाचार संध्या 6 (Jul) प्रति घंटा समाचार 7 (Jul) (1310hrs)
Khabarnama (Mor) 7 (Jul) Khabrein(Day) 6 (Jul) Khabrein(Eve) 6 (Jul)
Aaj Savere 7 (Jul) Parikrama 6 (Jul)

Listen Programs

Market Mantra 6 (Jul) Samayki 6 (Jul) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 6 (Jul) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 6 (Jul) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 5 (Jul)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)