A- A A+
Last Updated : Jul 7 2020 3:22PM     Screen Reader Access
News Highlights
India-China begin disengagement on LAC after talks between NSA Ajit Doval and Chinese Foreign Minister            Over 15 thousand people recovered from Coronavirus in last 24 hours; Recovery Rate rises above 61%            Registration for human trials of Indian vaccine for Coronavirus begins today            Goa opens up for tourists; 250 hotels to open; Maharashtra also allows hotels, lodges and guest houses to operate with conditions            Final-year examination in Universities to be held by September-end, says University Grants Commission           

Text Bulletins Details


समाचार प्रभात

0800 HRS
02.06.2020
मुख्य समाचार
  • सरकार ने किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि की। एम. एस. एम. ई. क्षेत्र के कारोबारी मूल्य की सीमा भी बढ़ाई।
  • आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने एक ही दिन में तीन हजार दो सौ करोड़ रुपये के ऋण बिना जमानत के मंजूर किये।
  • तीन और राज्यों ओड़िसा, सिक्कम और मिजोरम में भी एक देश एक कार्ड योजना लागू।
  • केंद्र सरकार ने ओड़िसा में जल जीवन मिशन लागू करने के लिए आठ सौ 12 करोड़ रुपये मंजूर किये।
  • राज्य सभा की 24 सीटों के लिए मतदान 19 जून को।
  • देश में इस साल मॉनसून सामान्य रहेगा।

-----------

सरकार ने किसानों और सूक्ष्‍म, लघु और मझोले उद्यमों-एमएसएमई की सहायता के लिए कई ऐतिहासिक फैसलों को मंजूरी दी है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में कल हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में ये मंजूरी दी गई। कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने कहा कि खरीफ की 14 फसलों के लिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 83 प्रतिशत तक बढ़ाया गया है। इससे किसानों को अपनी फसल का बेहतर दाम मिल सकेगा।
धान को देखेंगे तो लागत का 50 प्रतिशत अधिक मुनाफे को ध्‍यान में रखते हुए 1868 घोषित की गई है। ज्‍वार हाइब्रेड 2620 घोषित की गई है। बाजरा को अगर हम देखेंगे तो 83 पर्सेंट को ध्‍यान में रखते हुए 2150 घोषित किया गया है।
श्री तोमर ने कहा कि मंत्रिमंडल ने कृषि और संबंधित गतिविधियों के लिए लघु अवधि ऋण चुकाने की तारीख अगस्‍त तक बढ़ा दी है।
31 अगस्‍त तक जो किसान ऋण की अदायगी करेगा, उसको चार परसेन्‍ट ब्‍याज पर ही कर्जा मिलेगा। मैं समझता हूं कि किसानों के लिए निश्चित रूप से यह बहुत बड़ी राहत है।
सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि मंत्रिमंडल ने सूक्ष्‍म, लघु और मझौले उद्यमों की परिभाषा को और संशोधित करने की मंजूरी दी है। इस फैसले से अनेक औद्योगिक इकाईयों को एमएसएमई के दायरे में लाया जा सकेगा। 50 करोड़ रुपये तक के निवेश और 250 करोड़ रुपये तक के सकल कारोबार वाले उद्यम अब एमएसएमई क्षेत्र में उपलब्‍ध लाभ हासिल कर सकेंगे।
इकाई की परिभाषा बढ़ाकर एक करोड़ रुपये के निवेश और 5 करोड़ रुपये का कारोबार कर दिया गया है। लघु इकाई की सीमा बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये का निवेश और 50 करोड़ रुपये का टर्नओवर कर दिया गया है। इसी प्रकार मध्‍यम इकाई का निवेश सीमा बढ़ाकर 20 करोड़ रुपये तथा 100 करोड़ की जगह 250 करोड़ रुपये का कारोबार कर दिया गया है।
सूक्ष्‍म, लघु और मझोले उद्यम मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कैबिनेट ने संकट में फंसे एमएसएमई की सहायता के लिए बीस हजार करोड़ रुपये के आपात कोष को भी मंजूरी दी है।
जो विशेष रूप से डिस्‍ट्रेस में है, उनको इसका फायदा होगा और ये फंड की मंजूरी कैबिनेट ने दी है और ये 20 हजार करोड़ ये फंड का उपयोग होगा। दूसरा इम्‍पोर्टेंट निर्णय ऐसा हुआ है कि विशेष रूप से हमारी बड़ी इंडस्‍ट्रीज जो होती है, जो आप तीन बातों में वर्ल्‍ड में इकोनॉमी में चर्चा होती है-इंशोरेंस इकोनॉमी, पेंशन इकोनॉमी और शेयर इकोनॉमी और ये जो बड़ी इंडस्‍ट्री हैं इनके शेयर स्‍टॉक एक्‍सचेंज में लोग लेते हैं, खरीदते है। एमएसएमई को ये सहूलियत नहीं थी। तो भी हमने 10 हजार करोड़ का शुरूआती योगदान दिया है।

-----------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने मंत्रिमण्‍डल के फैसलों को ऐतिहासिक बताया है। उन्‍होंने कहा कि इनसे किसानों, मजदूरों और कामगारों के जीवन में सकारात्‍मक बदलाव को प्रोत्‍साहन मिलेगा। सरकार के फैसलों से किसानों, रेहड़ी-पटरी पर कारोबार से आजीविका कमाने वालों और एमएसएमई को अत्‍यधिक लाभ होगा।
श्री मोदी ने कहा कि एमएसएमई की परिभाषा में परिवर्तन से न केवल आत्‍मनिर्भर भारत अभियान को प्रोत्‍साहन मिलेगा बल्कि देश के उद्यमों को भी नया जीवन मिलेगा। उन्‍होंने कहा कि पीएम स्‍वनिधि स्‍कीम से 50 लाख से अधिक लोगों को लाभ होगा।

-----------

प्रधानमंत्री ने कल नई दिल्‍ली में सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यम-एमएसएमई क्षेत्र के लिए प्रौद्योगिकी आधारित समाधान चैंपियंस का शुभारंभ किया। चैंपियंस प्‍लेटफार्म देश में सभी सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यमों के लिए हर तरह के समाधान एक ही जगह उपलब्‍ध करायेगा। इससे इस क्षेत्र को सुदृढ़ बनाकर उत्‍पादन बढाने में मदद मिलेगी। इस प्‍लेटफार्म पर एमएसएमई क्षेत्र से संबंधित फाइनेंस, कच्‍चे माल और सभी तरह की अनुमति के साथ शिकायतों का समाधान भी किया जा सकेगा।

-----------

आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने एक दिन में ही तीन हजार दो सौ करोड रुपये के ऋण बिना किसी जमानत के दिये हैं। केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामन ने बताया है कि बिना जमानत के ऋण मंजूर करने के पहले दिन दूसरी श्रेणी के अंतर्गत आने वाले तीन हजार से अधिक सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्योगों-एम.एस.एम.ई. को ये ऋण मंजूर किये गये। एम.एस.एम.ई. को अपने कर्मचारियों को वेतन देने, किराए का भुगतान करने और कच्‍चे माल का भंडार बनाने में मदद मिलेगी।
आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत 20 लाख करोड रूपये के वित्‍तीय प्रोत्‍साहन की घोषणा करते हुए श्रीमती सीतारामन ने एम.एस.एम.ई. के लिए आपात-ऋण सुविधा गारंटी योजना की घोषणा की थी। इस योजना के अंतर्गत एम.एस.एम.ई. और संकट में पड़े अन्‍य क्षेत्रों के ऐसे उधार लेने वालों को जिन पर 25 करोड रूपये तक का ऋण है, उन्‍हें बैंकों तथा वित्‍तीय संस्‍थाओं से बकाया ऋण के 20 प्रतिशत के बराबर अतिरिक्‍त ऋण लेने की इजाजत दी गई है।

-----------

एक देश एक कार्ड योजना में तीन और राज्‍यों को शामिल किया गया है। ये राज्‍य ओडिशा, सिक्किम और मिजोरम हैं। केन्‍द्रीय उपभोक्‍ता कार्यमंत्री रामविलास पासवान ने इन राज्‍यों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के समेकित प्रबंधन में शामिल होने की घोषणा की है। इस व्‍यवस्‍था में राष्‍ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत कोई भी कार्डधारक देश के किसी भी हिस्‍से से सस्‍ती दर पर सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों से राशन ले सकता है। यह सुविधा 17 राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों में उपलब्‍ध है।
31 मार्च, 2021 तक सभी राज्‍यों को एक राष्‍ट्र एक योजना में शामिल कर लिया जाएगा।

-----------

कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन-ई पी एफ ओ ने पेंशनधारकों को कम्‍यूटेड पेंशन का भुगतान करने के लिए एक सौ पांच करोड़ रुपये के बकाया सहित आठ सौ अड़सठ करोड रूपये जारी किये हैं। श्रम और रोजगार मंत्रालय ने कहा है कि केंद्रीय न्‍यासी बोर्ड की सिफारिश पर सरकार ने कर्मचारियों की लम्‍बे समय से चली आ रही मांग को स्‍वीकार कर लिया है। अब पेंशनधारकों को 15 वर्ष की अवधि के बाद कम्‍यूटेड पेंशन का भुगतान किया जायेगा।
इससे पहले, कम्‍यूटेड पेंशन की बहाली का प्रावधान नहीं था और पेंशनधारकों को कम पेंशन मिलती थी।

-----------

केन्‍द्र सरकार ने 2020-21 के दौरान ओडि़शा में जल जीवन मिशन के कार्यावन्‍यन के लिए 812 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है। जल शक्ति मंत्रालय ने कहा है कि पिछले वर्ष ओडि़शा को आवंटित 297 करोड़ रुपये की तुलना में यह धनराशि काफी महत्‍वपूर्ण है। ओडि़शा में राज्‍य सरकार ने 2020-21 में 81 लाख ग्रामीण परिवारों में से 16 लाख परिवारों को पानी का कनेक्‍शन उपलब्‍ध कराने की योजना बनाई है। राज्‍य में वर्ष 2024 तक सभी घरों में पानी का नल पहुंचाने की योजना है।
जल जीवन मिशन की घोषणा पिछले वर्ष प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने की थी। इसका उद्देश्‍य वर्ष 2024 तक देश के 18 करोड़ ग्रामीण परिवारों तक नल से पानी उपलब्‍ध कराना है।

-----------

केन्‍द्र सरकार ने कहा है कि स्‍वयं चलाने के लिए किराए पर कैब और मोटरसाइकिल लेने वाले पर्यटकों तथा अन्‍य लोगों के पास यदि देशी या अंतर्राष्‍ट्रीय ड्राइविंग लाइसेंस है तो उन्‍हें  बैज साथ रखने की जरूरत नहीं होगी।
सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने इस बारे में राज्‍यों के लिए परामर्श जारी किया है। मंत्रालय ने कहा कि मोटरसाइकिल किराए पर लेने की योजना के अंतर्गत दुपहिया वाहनों को संबंधित करों के भुगतान के बाद राज्‍यों में चलाया जा सकता है।
इस बीच, केन्‍द्र सरकार ने वर्ष 2020-21 के दौरान मेघालय में 175 करोड़ रुपये के जल जीवन मिशन की शुरूआत करने के लिए भी मंजूरी दे दी है। जल शक्ति मंत्रालय ने कहा है कि मेघालय ने दिसम्‍बर 2022 तक सभी घरों में 100 प्रतिशत पानी का नल उपलब्‍ध कराने का प्रस्‍ताव दिया है। कुल एक लाख 89 हजार ग्रामीण परिवारों में से राज्‍य सरकार की 2020-21 में एक लाख 80 हजार घरों में नल उपलब्‍ध कराने की योजना है।

-----------

सरकार ने एक विशेष अभियान के अंतर्गत दो महीनों में दुग्‍ध संघों और दूध उत्‍पादन कंपनियों से जुड़े डेढ़ करोड़ डेरी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान करने का लक्ष्‍य रखा है। मछली पालन, पशुपालन और डेरी कार्य मंत्रालय ने बताया है कि ये कार्ड इस महीने से 31 जुलाई तक दिए जाएंगे। जिन किसानों के पास पहले से ही किसान क्रेडिट कार्ड है वे अपने कार्ड से पैसा निकालने की सीमा बढ़वा सकते हैं। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इससे छोटे किसानों को आत्‍मनिर्भर बनाने में मदद मिलेगी।
देश में लगभग एक करोड़ 70 लाख किसान 230 दुग्‍ध संगठनों के साथ जुड़े  हैं। इस अभियान के पहले चरण में उन सभी किसानों को शामिल करने का लक्ष्‍य रखा गया है जो दुग्‍ध सहकारी समितियों के सदस्‍य हैं और विभिन्‍न दुग्‍ध संघ से जुड़े हैं और जिनके पास किसान क्रेडिट कार्ड नहीं है। दुध के व्‍यवसाय से जुड़े किसानों के लिए  चलाया जा रहा यह विशेष अभियान प्रधानमंत्री के आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज का हिस्‍सा है। पिछले महीने केन्‍द्र सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड  योजना के तहत दो करोड़ 50 लाख नए किसानों को शामिल करने की घोषणा की थी। इससे किसानों के हाथों में पांच लाख रुपये की नकदी का प्रवाह सुनिश्चित हो सकेगा। दीपेन्‍द्र कुमार आकाशवाणी समाचार।

-----------

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि लॉकडाउन के पांचवे चरण में गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देश उड्डयन क्षेत्र को फिर से खोलने में धीरे-धीरे और व्‍यवस्थित ढंग से मदद करेगा। उन्‍होंने कहा कि घरेलू उडानों में पचास- साठ प्रतिशत संचालन हो रहा है। इससे अंतरराष्‍ट्रीय उडानों को शुरू कराने की क्षमता में सुधार होगा।
उड्डयन मंत्री ने कहा कि वंदे भारत अभियान के अंतर्गत  विदेशों में फंसे पचास हजार से अधिक नागरिकों को लाया गया है। सरकार इसके लिए और अधिक उड़ानें संचालित करने के बारे में तैयारी कर रही है।

-----------

नागर विमानन महानिदेशक-डीजीसीए ने हवाई यात्रा के लिए नये दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसमें कहा गया है कि एयरलाइंस को जहाज में बीच की सीट खाली रखनी होगी।
डीजीसीए ने यह भी सलाह दी है कि यात्रियों की भारी संख्‍या को देखते हुए यदि ऐसा करना संभव नहीं है तो यात्री को पूरा गाउन उपलब्‍ध कराया जाए। विमानन नियामक ने कहा है कि एक ही परिवार के लोगों को एकसाथ बैठने की अनुमति होगी।

-----------

सरकार ने संयुक्‍त अरब अमारात में फंसे भारतीयों को चार्टर्ड विमानों से स्‍वदेश लाने के लिए कंपनी और एजेंसियों को मंजूरी दे दी है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि सात मई को शुरू हुए वंदे भारत मिशन के अंर्तगत अब तक 15 हजार से अधिक फंसे भारतीयों को स्‍वदेश लाया गया है।
वंदे भारत मिशन के तहत इस महामारी के दौरान विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को स्‍वदेश लाने का काम जारी है। भारत सरकार ने कंपनियों और अन्‍य संगठनों को चार्टेड उड़ानों से फंसे हुए भारतीयों को संयुक्‍त अरब अमीरात से लाने की अनुमति दे दी है। मुश्किल में फंसे श्रमिक, पर्यटक, बुर्जुग, मेडिकल इमरजेंसी केसेज तथा गर्भवती महिलाओं को भेजने में प्राथमिकता दी जा रही है। आज विभिन्‍न खाड़ी देशों से 13 उड़ानें संचालित की जा रही है। जिसमें दो हजार से ज्‍यादा भारतीयों के वापस आने की उम्‍मीद है। कंचन प्रसाद आकाशवाणी समाचार दुबई।

-----------

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया है कि कोविड-19 रोगियों के ठीक होने की दर लगातार बढ़ रही है और अब 48 दशमलव एक नौ प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के चार हजार 835 रोगी स्‍वस्‍थ हुए हैं। मंत्रालय ने बताया कि इस महामारी से ग्रस्‍त करीब 92 हजार रोगी उपचार के बाद स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। इस समय देश में 93 हजार 322 रोगियों का उपचार चल रहा है।
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि लगातार निगरानी तथा समय पर जांच और उपचार के प्रबंध से मृत्‍युदर घट रही है। विश्‍व में कोविड-19 से होने वाली मौतों की औसत दर छह द‍शमलव एक नौ प्रतिशत है, लेकिन भारत में यह केवल दो दशमलव आठ-तीन प्रतिशत है।

-----------

उत्‍तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमण के दो सौ छियानवे नए मामले और पांच लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही राज्‍य में संक्रमित लोगों की संख्‍या बढकर आठ हजार तीन सौ इकसठ हो गई है। 
राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग के आकड़ों के मुताबितक प्रदेश में अब तक कोविड संक्रमण से 222 लोगों की जान जा चुकी है। राज्य में इस समय कोरोना संक्रमण के 3109 सक्रिय मरीज हैं। बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों के प्रदेश में लौटने के साथ ही ज्यादातर मामले पूर्वी इलाके में सामने आ रहे हैं। प्रदेश के 11 जिलों में अभी भी सक्रिय मरीजों की संख्या 10 से कम है। इस बीच लखनऊ स्थित इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ने 8 जून से धार्मिक स्थानों को खोले जाने के सरकार के फैसले के मद्देनजर लोगों के लिए दिशा निर्देश जारी कियै हैं। अपनी एडवायजरी में संस्थान ने कहा है कि 10 साल से कम उम्र के बच्चे और 65 वर्ष से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को मस्जिधों में नहीं जाना चाहिए और घर पर ही नमाज अदा करनी चाहिए। सुशील चंद्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।

-----------

बिहार में कोविड संक्रमित लोगों के ठीक होने की दर 44 प्रतिशत से अधिक हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान दो सौ 21 रोगी ठीक हुए हैं जो एक दिन में ठीक होने वालों की सबसे बडी संख्‍या है। एक रिपोर्ट-
देश के विभिन्‍न भागों से आए प्रवासी कामगारों से पॉजीटिव मामलों की बढ़ती संख्‍या को देखते हुए उनके घर-घर जाकर स्‍वास्‍थ्‍य सर्वे किया जा रहा है अब तक लगभग तीन लाख कामगारों का सर्वेक्षण किया जा चुका है। इस दौरान 74 संदिग्‍ध मामलों का पता चला है। कोरोना  महामारी के मद्देनजर डॉक्‍टरों और सभी स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों की छुट्टी 30 जून तक रद्द कर दी गई है। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए 15 जून तक प्रत्‍येक पंचायत के हर परिवार के बीच चार-चार मॉस्‍क का वितरण किया जाएगा। इस बीच उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि कोरोना महामारी के कारण राज्‍य में फिलहाल कोई नया टैक्‍स नहीं लगाने का नि र्णय लिया गया है। आकाशवाणी समाचार के लिए पटना से कृष्‍ण कुमार लाल।

-----------

मध्‍य प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमण के एक सौ 94 मामले आने से संक्रमित लोगों की संख्‍या बढकर आठ हजार दो सौ तिरासी हो गई है। अब तक राज्‍य में इस बीमारी से तीन सौ 58 लोगों की मौत हो गई है। इस वायरस का संक्रमण राज्‍य के बावन में से इक्‍यावन जिलों में हो गया है। हालांकि इस संक्रमण से पांच हजार से अधिक लेाग ठीक भी हुए हैं।
मध्य प्रदेश में अब कुल 958 कन्टेनमेंट क्षेत्र हैं, जबकि सक्रिय मामलों की संख्या ठीक होने वालों की तुलना में कम है। वहीँ,राज्य में अब तक 1 लाख 72 हजार से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है और इन नमूनों में पाजीटिव मामलों की संख्या केवल 3.13 फीसदी है। इस बीच, राज्य सरकार ने राज्य में COVID-19 के लिए होम क्वारंटीन मानदंडों का उल्लंघन करने वालों पर 2 हजार रुपये का जुर्माना लगाने का फैसला किया है। एक आदेश में, राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह भी कहा कि यदि कोई व्यक्ति दूसरी बार इन नियमों का उल्लंघन करता है तो उस व्यक्ति को  होम क्वारंटीन से हटाकर सरकारी क्वारंटीन केंद्र में भेज दिया जाएगा। संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

-----------

महाराष्‍ट्र में कोविड-19 के दो हजार 361 नये मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही राज्‍य में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या 70 हजार 13 हो गई है। राज्‍य में अब तक इस महामारी से दो हजार 362 लोगों की मृत्‍यु हुई है। इस बीच, महाराष्‍ट्र के परिवहन मंत्री अनिल परब ने कारोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में शामिल सड़क परिवहन निगम के कर्मचारियों के लिए पांच लाख रुपये बीमा की घोषणा की है।

-----------

तमिलनाडु में कोविड-19 के बाद ठीक होने वाले लोगों की दर 56 प्रतिशत हो गई है। हालांकि राज्‍य में कल एक ही दिन में एक हजार 162 लोगों की कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई और 413 लोगों को ठीक होने के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई। इस बीच राज्‍य सरकार ने राज्‍य की अर्थव्‍यवस्‍था को पटरी पर लाने के लिए कई उपायों की घोषणा की है।
तमिलनाडु शिक्षा विभाग ने नये शैक्षिणिक वर्ष की गतिविधियों के संबंध में अभिभावकों की राय जानने का फैसला किया है। आम तौर पर एक शैक्षिणिक वर्ष में 210 कार्य दिवस होते हैं लेकिन इस वर्ष कोविड-19 की वजह से लॉकडाउन के  कारण न्‍यूनतम कार्य दिवसों की शर्त पूरी होने में कठिनाई होगी। इसके परिणामस्‍वारूप नये परिप्रेक्ष्‍य में प्रत्‍येक विषय का सिलेबस पूरा करने को लेकर बहस छिण गई है। इसके अलावा शिक्षा विभाग कक्षाओं में सुरक्षित दूरी बनाये रखने के मुद्दे से भी जूझ रहा है। इसलिए राज्‍य के शिक्षा विभाग ने सभी जिलों के मुख्‍य शिक्षा अधिकारियों से स्‍टेट बोर्ड, सीबीएसई, आईसीएसई और नर्सरी स्‍कूलों से एक-एक अभिभावक से इस संबंध में उसके विचार जानने के लिए उनकी राय भेजने को कहा है। इस बीच, लॉकडाउन के कारण हुए नुकसान की भरपाई के लिए मछुआरों को पूर्वी तटीय क्षेत्रों में अब मछली पकड़ने की अनुमति दे दी गई है। चेन्‍नई से जयसिंह की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से गौरव राघव।  

-----------

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन-डीआरडीओ ने अल्‍ट्रा स्‍वच्‍छ नाम से एक प्रणाली विकसित की है, जिसके जरिये कई तरह की वस्‍तुओं जैसे-निजी सुरक्षा उपकरणों-पीपीई, इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स वस्‍तुओं और वस्‍त्र आदि को संक्रमण-मुक्‍त किया जा सकता है। दिल्‍ली स्थित नाभिकीय औषधि तथा संबद्ध विज्ञान संस्‍थान की प्रयोगशाला ने अपनी सहयोगी कंपनी जैल क्रॉफ्ट हेल्‍थकेयर प्राइवेट लिमिटेड के सहयोग से इस प्रणाली को विकसित किया है।
इसमें ओजोन आधारित अंतरिक्ष टेक्‍नोलॉजी का उपयोग करके परिष्कृत ऑक्‍सीकरण प्रक्रिया के जरिये संक्रमण को दूर किया जाता है।

-----------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग अपने 'विशेषज्ञ राय' कार्यक्रम में कोविड-19 महामारी के बारे में अग्रणी वरिष्‍ठ चिकित्‍सा विशेषज्ञों की राय प्रस्‍तुत करता है।
गोविंद बल्‍लभ पंत अस्‍पताल, नई दिल्‍ली के डॉक्‍टर संजय पांडेय ने कहा है कि घर से बाहर निकलते समय लोगों को मास्‍क लगाना महत्‍वपूर्ण है।
मौलाना आज़ाद मेडिकल कॉलेज के वरिष्‍ठ चिकित्‍सक डॉक्‍टर नरेश गुप्‍ता ने लोगों से घरों में स्‍वच्‍छता बनाये रखने की अपील की। उन्‍होंने लोगों को कोविड-19 संक्रमण से बचने के लिए बार-बार हाथ धोने की सलाह दी है। 
हाथ साबुन पानी से धो लीजिए अपने आपको। मुंह को धो लीजिए, आंख धो लीजिए, हाथ धो लीजिए, नहाना धोना तो होता ही है उससे क्‍या होगा कि पानी भी साथ वो चला जाएगा और जो चीज पानी के साथ नहीं जाती है वो साबुन में धुलकर नीचे आ जाती है और एक चीज और है ये जो कोरोना वायरस है ना एक कंबल की तरह रहता है और उस कंबल को साबुन भी पंसद नहीं आता है। डिटरजेंट भी पसंद नहीं आता, सैनेटाइजर भी नहीं पसंद आता। सैनेटाइजर हो डिटरजेंट हो ये इसके कंबल को निष्क्रिय कर देते हैं। तो इसलिए साबुन पानी से हाथ धोना सबसे आसान तरीका है।

-----------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा।
राम मनोहर लोहिया स्‍पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉक्टर ए.के. वार्ष्‍णेय परिचर्चा में भाग लेंगे।
श्रोता स्‍टूडियो में सीधे फोन कर विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। नम्‍बर है- 0 1 1 - 2 3 3 - 1 4 - 4 4 4. हमारा टोल‍-फ्री नम्‍बर है- 1 8 0 0 - 1 1 - 5 7 6 7.

-----------

निर्वाचन आयोग ने घोषणा की है कि दस राज्‍य की 24 राज्‍य सभा सींटों के लिए 19 जून को चुनाव होगा। 24 में से 18 सींटों के लिए मतदान कोरोना वायरस महामारी के कारण स्‍थगित कर दिया गया था। इन 18 सींटों में से चार-चार आंध्र प्रदेश और गुजरात से, तीन-तीन मध्‍य प्रदेश और राजस्‍थान से, दो झारखंड से और एक-एक मणिपुर और मेघालय से हैं।
निर्वाचन आयोग ने यह भी घोषणा की है कि मार्च में स्‍थगित किये गए चुनाव भी 19 जून को अरूणाचल प्रदेश, कर्नाटक और मिजोरम में कुल छह सींटों के लिए राज्‍य सभा चुनावों के साथ ही होगा। छह सींटों के लिए अधिसूचना आज जारी की जायेगी।

-----------

किसानों के लिए एक अच्‍छी खबर। देश में इस वर्ष मॉनसून सामान्‍य रहेगा। जुलाई से सितम्‍बर के दौरान दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वर्षा के दूसरे अनुमान के बारे में पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय में सचिव डॉक्‍टर एम राजीवन ने कहा कि अच्‍छे मॉनसून के लिए स्थिति ज्‍यादा अनुकूल हो रही है। इस स्थिति के मद्देनजर जून से सितम्‍बर के बीच देश में दीर्घावधि औसत की 102 प्रतिशत वर्षा होगी। इसका मतलब यह है कि देश में इस दौरान 88 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की जाएगी। डॉक्‍टर राजीवन ने कहा कि देश में मॉनसून की वर्षा का वितरण भी अच्‍छा रहने का अनुमान है।
उन्‍होंने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मॉनसून केरल पहुंच गया है और यह पूरे राज्‍य में छा गया है।
इस बीच, अरब सागर के पूर्व-मध्‍य और दक्षिण-पूर्व क्षेत्र के ऊपर बना कम दवाब का क्षेत्र, 13 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से उत्‍तर-उत्‍तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ रहा है। मौसम विभाग ने कहा है कि कम दवाब के इस क्षेत्र की तीव्रता और बढ़ने और कुछ घंटे में गहरे दवाब वाले क्षेत्र में बदलने की आशंका है।

-----------

केन्‍द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्‍ली में राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल-एन.डी.आर.एफ. और मौसम विभाग के अधिकारियों के साथ अरब सागर में उठ रहे चक्रवात से निपटने की तैयारियों की समीक्षा की। चक्रवात से महाराष्‍ट्र और गुजरात के कुछ हिस्‍सों के प्रभावित होने की आशंका है। बाद में, श्री शाह ने गुजरात और महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्रियों के साथ-साथ, दादर और नगर हवेली, दमन और द्वीव के प्रशासकों से भी वीडियो कान्‍फ्रेंस के माध्‍यम से तैयारियों की समीक्षा की।

-----------

गुजरात सरकार राज्‍य के दक्षिणी इलाके के तटीय क्षेत्र में चक्रवात निसर्ग के टकराने की आशंका के मद्देनजर सभी तैयारियां कर रही है। मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने कल दक्षिणी गुजरात और सौराष्‍ट्र के वरिष्‍ठ अधिकारियों और जिला अधिकारियों के साथ बैठक की। 
दक्षिण गुजरात के सूरत, वलसाड और भरूच सहित पांच तटीय जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है, जबकि सौराष्ट्र के अमरेली और भावनगर जिलों में भी अलर्ट जारी कर दिया है। तटीय क्षेत्रों में NDRF की 10 और SDRF की 5 टीमों को तैनात किया गया है। मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने संबंधित जिला कलेक्टरों आज दोपहर 12 बजे तक निचले इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित करने के निर्देश दिए है| कोविड-19 के मद्देनजर, कलेक्टरों को निकासी प्रक्रिया के दौरान सामाजिक दुरी, मास्क और पीपीई सूट का उपयोग सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। राज्य तथा जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष सक्रिय कर दिए गए हैं। मछुआरों को वापस बुलाया गया है और अगले तीन दिनों तक समुद्र में न जाने का निर्देश दिया गया है| अपर्णा खुंट, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

-----------

महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि चक्रवात के मद्देनजर कच्‍चे घरों में रहने वालो लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर भेजा जा रहा है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि मुम्‍बई की मलीन बस्तियों और निचले इलाके में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचाने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।
निकटवर्ती चक्रवात 'निसर्ग' के मद्देनजर, मुंबई शहर और उपनगर, ठाणे, पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों के तटीय क्षेत्रो में सतर्कता के निर्देश जारी किए गए है। इस चक्रवात के कारण उभरने वाली किसी भी स्थिति से निपटने के लिए एसडीआरएफ समेत राज्य आपदा प्रबंधन, राहत और पुनर्वास विभाग तैयार हैं।  मछली पकड़ने के लिए समुंदर में गए मछुआरों को वापस बुलाया गया है और संबंधित जिला कलेक्टरों को उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। इस मामले में मुंबई में मंत्रालय में एक नियंत्रण कक्ष 24 घंटे काम करेगा। साथ ही सेना, वायु सेना, नौसेना और भारतीय मौसम विभाग को एक दूसरे के साथ समन्वय करने के निर्देश दिए गए हैं। माधुरी पांगे, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

-----------

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में न्‍यूनतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस तथा अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस रहने का अऩुमान है। आमतौर पर बादल छाए रहेंगे और हल्की वर्षा या बूंदाबांदी हो सकती है। मुम्‍बई में आज आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और हल्‍की वर्षा हो सकती है। दक्षिण में चेन्‍नई में बादल छाए रह सकते हैं। न्‍यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम 37 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।  कोलकाता में आंशिक रूप बादल छाये रहेंगे। दिन में एक दो बार गरज के साथ वर्षा हो सकती है। उत्‍तर की ओर देखें तो जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 22 डिग्री और अधिकतम 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहेगा। उधर, श्रीनगर में न्‍यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस  जबकि अधिकतम 22 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की उम्‍मीद है। गिलगित में न्‍यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जबकि अधिकतम 26 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। यहां आमतौर पर बादल छाये रहेंगे, साथ ही गरज के साथ छींटे पड़ने या आंधी आने की भी संभावना है। मुजफ्फराबाद में भी आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और गरज के साथ छींटे पड़ने या आंधी आने की भी संभावना है। समाचार कक्ष से मृगनयनी पांडेय।

-----------


जम्‍मू-कश्‍मीर में पुलवामा जिले में त्राल के साइमोह इलाके में आज सवेरे एक आतंकवादी सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया है। क्षेत्र में आतं‍कवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद सेना, सीआरपीएफ और अवन्‍तीपुरा पुलिस की ओर से की गई घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान यह मुठभेड़ हुई। अंतिम समाचार मिलने तक सुरक्षाबलों की कार्रवाई जारी थी।

-----------

समाचार पत्रों की सुर्खियों से
  • विशाल, सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्योगो-एम.एस.एम.ई और किसानों को राहत देने संबंधी केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल के फैसले आज के सभी समाचार पत्रों के मुख पृष्‍ठ पर है। हिन्‍दुस्‍तान की सुर्खी है - केन्‍द्र की कारोबारियों, किसानों को सौगात, फसल का डेढ़ गुना दाम, उद्यम के लिए आसान कर्ज।
  • अमर उजाला के शब्‍द हैं - 14 साल बाद बदली एम एस एम ई की परिभाषा। 250 करोड़ रुपए तक कारोबार तो उद्योग मध्‍यम श्रेणी में, पटरी कारोबारियों के लिए स्‍वनिधि योजना, दस हजार तक का मिलेगा कर्ज।
  • बकौल दैनिक जागरण सरकार ने 14 खरीफ फसलों का एम एस पी बढ़ाया, एम.एस.एम.ई सेक्‍टर के लिए घोषित कई योजनाओं पर कैबिनेट ने लगाई मुहर। किसानों-उद्यमियों की दो जून की रोटी को मिला बड़ा सहारा। वहीं पंजाब केसरी ने लिखा है - किसानों को चार फीसदी की दर से मिलेगा तीन लाख का लोन।
  • अनलॉक-1 के पहले चरण के पहले दिन देश के कई राज्‍यों में ठप पड़ी गतिविधियां धीरे-धीरे शुरू होने को भी सभी अखबारों ने प्रमुखता दी है। दैनिक जागरण की सुर्खी है -  बाजार से पाबंदी हटी, खुलेंगी सभी दुकानें, सैलून भी खुलेंगे। हिन्‍दुस्‍तान लिखता है - कई राज्‍यों में बस सेवा शुरू, पर्यटन स्‍थल खुले। वहीं नवभारत टाइम्‍स ने केजरीवाल सरकार के दिल्‍ली की सीमाओं को बंद करने के फैसले को देते हुए लिखा है - दिल्‍ली खुली, सीमा लॉक।
  • देश में लगातार दूसरे दिन आठ हजार से अधिक लोगों के कोरोना संक्रमण की चपेट में आने को भी अखबारों ने अहमियत दी है।
  • वहीं जनसत्‍ता का कहना है - कोरोना संक्रमितों के इलाज में दिन रात लगे स्‍वस्‍थकर्मी तनाव से बचने को योग और संगीत का ले रहे हैं सहारा।
  • जम्‍मू-कश्‍मीर में पाकिस्‍तान की साजिश को सेना द्वारा नाकाम करने का समाचार अमर उजाला के पहले पृष्‍ठ पर है। एलओसी पर 13 आतंकी ढेर, तीन लॉन्चिंग पैड तबाह।
  • अफ्रीकी मूल के नागरिक की पुलिस हिरासत में मौत के बाद अमरीका में हो रहे विरोध प्रदर्शनों को सभी अखबारों ने प्रमुखता से छापा है।

-----------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 7 (Jul) Midday News 7 (Jul) Evening News 6 (Jul) Hourly 7 (Jul) (1300hrs)
समाचार प्रभात 7 (Jul) दोपहर समाचार 7 (Jul) समाचार संध्या 6 (Jul) प्रति घंटा समाचार 7 (Jul) (1310hrs)
Khabarnama (Mor) 7 (Jul) Khabrein(Day) 7 (Jul) Khabrein(Eve) 6 (Jul)
Aaj Savere 7 (Jul) Parikrama 6 (Jul)

Listen Programs

Market Mantra 6 (Jul) Samayki 6 (Jul) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 6 (Jul) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 6 (Jul) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 5 (Jul)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)