A- A A+
Last Updated : Jul 7 2020 3:43PM     Screen Reader Access
News Highlights
India-China begin disengagement on LAC after talks between NSA Ajit Doval and Chinese Foreign Minister            Over 15 thousand people recovered from Coronavirus in last 24 hours; Recovery Rate rises above 61%            Registration for human trials of Indian vaccine for Coronavirus begins today            Goa opens up for tourists; 250 hotels to open; Maharashtra also allows hotels, lodges and guest houses to operate with conditions            Final-year examination in Universities to be held by September-end, says University Grants Commission           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
05.06.2020

मुख्‍य समाचार :

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने धरती पर जीव-जंतुओं और वनस्‍पतियों का संरक्षण सुनिश्चित करने के लिए लोगों से सामूहिक प्रयास का आह्वान किया। विश्‍व पर्यावरण दिवस पर नगर वन कार्यक्रम की शुरूआत।

  • भारत ने अंतरराष्ट्रीय वैक्‍सीन एलायंस गावी को एक करोड़ 50 लाख अमेरिकी डॉलर देने का वादा किया।

  • विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस. जयशंकर ने कहा- भारत, संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में अपने नये कार्यकाल में सुधारों के साथ बहु-आयामी प्रणाली के लिए नया दृष्टिकोण अपनाएगा। 

  • सरकार प्रधानमंत्री जन-धन योजना की महिला खाताधारकों के लिए आज से जून माह के 500 रुपए भेजना शुरू करेगी।

  • केंद्रीय दल चक्रवात अम्‍फन से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए पश्चिम बंगाल के दौरे पर।   

  -----------

आज विश्‍व पर्यावरण दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धरती की समृद्ध जैव विविधता के संरक्षण का संकल्प व्यक्त किया है। श्री मोदी ने एक ट्वीट में प्रकृति की वनस्पति संपदा के संरक्षण के लिए हरसंभव प्रयास का आह्वान किया। उन्होंने आशा व्यक्त की कि हम अगली पीढ़ियों को बेहतर पर्यावरण सौंपेंगे।


रविवार को मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा था कि प्रत्‍येक नागरिक को पर्यावरण में सकारात्‍मक बदलाव लाने के लिए कम से कम एक पौधा लगाना चाहिए।

   

विश्‍व पर्यावरण दिवस पर इस साल की थीम है-बायो डायवर्सिटी यानी जैव विविधता। वर्तमान परिस्थितियों में यह थीम विशेष रूप से महत्‍वपूर्ण है। लॉकडाउन के दौरान पिछले कुछ हफ्तों में जीवन की रफ्तार थोड़ा धीमी जरूर हुई है। मगर इससे हमें अपने आसपास प्रकृति की समृद्ध विविधता जैव विविधता करीब से देखने का अवसर भी मिला है। मेरे प्‍यारे देशवासियों स्‍वच्‍छ पर्यावरण सीधे हमारे जीवन, हमारे बच्‍चों के भविष्‍य का विषय है। इसलिए हमें व्‍यक्तिगत स्‍तर पर भी इसकी चिंता करनी होगी। मेरा आपसे अनुरोध है कि इस पर्यावरण दिवस पर कुछ पेड़ अवश्‍य लगाएं और प्रकृति की सेवा के लिए कुछ ऐसा संकल्‍प अवश्‍य लें, जिससे प्रकृति के साथ आपका हर दिन का रिश्‍ता बना रहे।


इस अवसर पर उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने लोगों, सरकारों और अन्‍य सभी पक्षों से प्रकृति के संरक्षण और समस्‍याओं का सतत समाधान तलाशने के प्रयास तेज करने का आह्वान किया है।


केन्‍द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने विश्‍व पर्यावरण दिवस के अवसर पर नगर वन कार्यक्रम का शुभारंभ किया। विश्‍व पर्यावरण दिवस संयुक्‍त राष्‍ट्र द्वारा लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक बनाने का सबसे बड़ा वार्षिक कार्यक्रम है। इसका मुख्‍य उद्देश्‍य प्रकृति के संरक्षण और पर्यावरण से जुड़े विभिन्‍न मुद्दों के प्रति लोगों को सजग बनाना है। इस वर्ष विश्‍व पर्यावरण दिवस का मुख्‍य विषय जैव विविधता है।


श्री जावड़ेकर ने इस अवसर पर पर्यावरण मंत्रालय द्वारा आयोजित वर्चुअल समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि तमाम विषम परिस्थितियों के बावजूद भारत वैश्विक जैव विविधता के आठ प्रतिशत हिस्‍से को अपने यहां संरक्षित करने में सफल रहा है। इसमें प्रकृति के सभी पहलुओं के प्रति आदर-भाव रखने की देश की समृद्ध संस्‍कृति की बड़ी भूमिका रही है।



क्‍या आपको पता है कि पेड़ न काटे इसके लिए राजस्‍थान में 300 लोगों ने बलिदान दिया था। ईश्‍वर के नाम से एक वन होता है, जिसमें न कटाई होती है, न चराई होती है। प्रकृति के साथ हमारी जीवन है और अवर लाइफ स्‍टाइल इज विथ नेचर, प्राणी, जलचर, वनचर, पक्षी, पशु, ऑल स्‍पीशीज ऑफ द वर्ल्‍ड आर पार्ट ऑफ अवर लाइफ।

 

श्री जावड़ेकर ने इस अवसर पर शहरी क्षेत्रों में नगर वन विकसित करने की आवश्‍यकता पर बल दिया। उन्‍होंने महाराष्‍ट्र के पुणे शहर में ऐसे ही एक नगर वन वाजरे की सफलता का उल्‍लेख करते हुए कहा कि यह नगर वन बेकार पड़े चालीस एकड़ भूमि में विकसित किया गया है।

 

पर्यावरण मंत्रालय के वर्चुअल समारोह में केन्‍द्रीय पर्यावरण राज्‍य मंत्री बाबूल सुप्रियो, महाराष्‍ट्र के वन मंत्री संजय राठौर तथा मंत्रालय और संयुक्‍त राष्‍ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के कई वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भी हिस्‍सा लिया।

  ----------

विश्‍व पर्यावरण दिवस पर केरल के पल्‍लकड जिले के अट्टापडी के जनजातीय क्षेत्र में राज्‍य का पहला खाद्यान वन तैयार किया जा रहा है।


खाद्यान वन परियोजना को जनजातीय व्‍यापक विकास कार्यक्रम के तहत  क्रियान्वित किया जा रहा है। इसे केन्‍द्र सरकार की महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के सहयोग से संचालित किया जा रहा है। इस परियोजना का उद्देश्‍य अट्टापट्टी के 192 जनजातीय गांवों को खाद्य सुरक्षा प्रदान करना है। राज्‍य के सबसे बडे महिला स्‍वयं सहायता समूह --कुड्डुमबसरी की इकाइयों ने इस वन में विभिन्‍न खाद्यान फसलें उगाना शुरू कर दिया है। वर्ष भर चलने वाली इस परियोजना की शुरूआत आज से की गई है। इस अवसर पर विभिन्‍न प्रकार के पेड लगाए गए हैं। तिरूवनंतपुरम से मयूषा की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से नईम अख़तर।

----------


भारत ने अंतरराष्ट्रीय वैक्‍सीन एलायंस गावी को एक करोड़ 50 लाख अमेरिकी डॉलर देने का वादा किया है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के साथ वर्चुअल वैश्विक वैक्सीन शिखर बैठक को संबोधित करते हुए यह घोषणा की।

   

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि भारत इस संकट के समय में विश्व के साथ एकजुट है। उन्होंने कहा कि भारत ने देश में उपलब्ध दवाओं का भंडार 120 से अधिक देशों के साथ साझा किया है। पड़ोसी देशों के साथ एक समान कार्यनीति अपनाकर जरूरतमंद देशों की मदद की गई है।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत गावी के कार्यों को मानता है और उसे महत्‍व देता है। उन्‍होंने कहा कि गावी को भारत की सहायता न केवल वित्‍तीय है बल्कि भारत की भारी मांग के कारण विश्‍व में वैक्‍सीन की कीमत काफी कम हुई है, जिससे पिछले पांच वर्षों में गावी को लगभग चालीस करोड डॉलर की बचत हुई है।

-----------

संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में भारत का रूख सम्‍मान, संवाद, सहयोग, शांति और समृद्धि के सिद्धांतों से निर्देशित होगा। विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस जय शंकर ने कहा कि भारत, संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में अपने नये कार्यकाल में  सुधारों के साथ बहुआयामी प्रणाली के लिए नया दृष्टिकोण अपनाएगा।

 

डॉ. जयशंकर आज संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में निर्वाचित पद सुरक्षित करने के लिए भारत के प्रचार के लिए उसकी प्राथमिकताओं की रूपरेखा वाली पुस्तिका जारी किए जाने के अवसर पर बोल रहे थे। संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद का चुनाव इस महीने की 17 तारीख को होना है। एशिया प्रशांत समूह का एकमात्र स्‍वीकृत उम्‍मीदवार होने के कारण भारत की उम्‍मीदवारी की सफलता की प्रबल संभावना है।

------

सरकार प्रधानमंत्री जन-धन योजना की महिला खाताधारकों के लिए आज से जून माह के 500 रुपए भेजना शुरू करेगी। यह प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण पैकेज के तहत तीसरी किस्‍त है। लाभार्थी 10 जून के बाद किसी भी दिन यह राशि निकाल सकेंगी। यह राशि लाभार्थियों की खाता संख्‍या के अंतिम अंक पर आधारित समय सारणी के अनुसार भेजी जाएगी।

 

पहली किस्‍त के रूप में 20 करोड़ पांच लाख महिलाओं के जन-धन खातों में दस हजार 29 करोड़ रुपए जमा कराए गए थे।

-------

देशभर में कोविड-19 से संक्रमित रोगियों के स्‍वस्‍थ होने  की दर 48 दशमलव दो-सात प्रतिशत पहुंच गई है। एक लाख, नौ हजार, 462 लोग ठीक हो गये हैं। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने बताया है कि पिछले 24 घंटों के दौरान पांच हजार, 355 लोग ठीक हुए हैं।

 

नौ हजार, 851 नये मामलों की पुष्टि हुई है। संक्रमित लोगों की संख्‍या बढकर दो लाख, 26 हजार 770 हो गई है। देश में ये एक दिन में सबसे अधिक आने वाले मामले हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान 273 लोगों की मौत हुई है। मृतकों की संख्‍या बढकर 6 हजार, 348 हो गई है। मृत्‍यु दर दो दशमलव आठ प्रतिशत हो गई है।

 

भारतीय आयुर्विज्ञान चिकित्‍सा परिषद ने कहा है कि पिछले 24 घंटों के दौरान एक लाख, 42 हजार, 661 नमूनों की जांच की गई है। इसके साथ ही देशभर में 43 लाख 86 हजार 379 नमूनों की जांच की गई है। आई सी एम आर कोविड-19 की जांच सुविधा बढाने के लिए सरकारी और निजी प्रयोगशालाओं को निरंतर मंजूरी दे रहा है। अब तक देशभर में 724 प्रयोगशालाओं को स्‍वीकृति दी गई है जिसमें से 507 सरकारी और 217 निजी हैं।

-------

जम्‍मू कश्‍मीर में कोविड-19 महामारी के बाद स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या में काफी तेजी आई है। कल 41 संक्रमित लोग ठीक हुए हैं और उन्‍हें विभिन्‍न अस्‍पतालों से छुट्टी दे दी गई है। इसके साथ ही जम्‍मू कश्‍मीर में ठीक होने वालों की संख्‍या एक हजार 48 हो गई है।


हमारे संवाददाता ने बताया है कि केन्‍द्रशासित प्रशासन समय समय पर जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप लोगों तक पहुंच बनाने और उसे लागू करने में सफल रहा है जिससे कोविड-19 महामारी को रोकने में काफी सफलता मिली है।


जम्मू-कश्मीर में कल सबसे अधिक 285 पॉजिटिव मामलों की वृद्धि के साथ ही प्रदेश में पॉजिटिव मामलों की संख्‍या अब 3,142 तक जा पहुंची हैं। इन पॉजिटिव मामलों में, अधिकतम 222 मामले कश्मीर संभाग से सामने आये हैं, जिसकी वजह से घाटी के नागरिक भयभीत भी हो चुके हैं। इस बीच, बड़े पैमाने पर जनता को समय-समय पर प्रशासन द्वारा जारी की गई दिशा-निर्देशों पर सख्ती से अनुपालन करने की सलाह भी दी गई है और सरकार द्वारा जारी सूचनाओं पर भरोसा करने के अलावा किसी भी तरह की अफवाहों को फैलाने से रोकने और उन पर कोई ध्यान नहीं देने की भी सलाह दी है। आकाशवाणी समाचार के लिए श्रीनगर से मैं सुनील कौल।

-------

गुजरात में पिछले 24 घंटों के दौरान चार सौ नये मामलों की पुष्टि हुई है। अब राज्‍य में सं‍क्रमितों लोगों की संख्‍या बढकर 18 हजार 601 हो गई है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने बताया है कि इस बीमारी से 33 और लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ ही यह संख्‍या बढकर एक हजार, 155 हो गई है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि राज्‍य में ठीक होने वालों की दर 68 दशमलव 9 हो गई है।


राज्य के विभिन्न अस्पतालों से कल 455 व्यक्तियों को पूरी तरह से ठीक होने के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई। इसके साथ ही, राज्य में कोविड-19  से ठीक हुए मरीजो की संख्या 12 हजार 667 हो गई है। फिलहाल राज्य भर में, 4 हजार 770 रोगियों का कोविड-19 के लिए इलाज चल रहा है। विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर, नगर निगम द्वारा शहरी जनों को पांच लाख तुलसी के पौधों का वितरण करने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से इस अभियान की शुरुआत की। अपर्णा खुंट, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

-------

नगालैंड में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के 14 नये मामलों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही राज्‍य में संक्रमित लोगों की संख्‍या 94 हो गई है।

 

एक ट्वीट में नगालैंड के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री एस0 पांग्‍नयू फोम ने बताया कि 235 जांच किये गये नमूनों में से 14 संक्रमित पाये गये। ये सभी लोग चेन्‍नई से वापस आये थे।

-------

मिजोरम में पिछले 24 घंटे के दौरान चार और लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही राज्‍य में संक्रमित लोगों की संख्‍या 21 हो गई है। अधिकारियों ने बताया कि कल जोराम मेडिकल कॉलेज अस्‍पताल में तीन सौ चालीस नमूनों की जांच की गई थी, जिसमें से पांच कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

 

इस बीच, सरकार ने रेड जोन से लौटने वाले सभी लोगों के लिए आरटीपीसीआर जांच अनिवार्य कर दी है। कोविड चिकित्‍सा अभियान की टीम के अध्‍यक्ष डॉ. जे.आर. थियामसंगा ने बताया कि जांच में केवल एक व्‍यक्ति ही संक्रमित पाया गया, लेकिन जब बाकी अन्‍य लोगों के स्‍वैब नमूनों की जांच की गई, तो सभी कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

--------

महाराष्‍ट्र सरकार द्वारा लॉकडाउन पांच में चरणबद्ध तरीके से छूट देने का मिशन बिगेन अगेन अभियान आज से शुरू हो गया है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि इसके साथ ही राज्‍य में दो महीने बाद जन-जीवन सामान्‍य हो रहा है। सरकार ने लॉकडाउन के दौरान छूट दी जाने वाली गतिविधियों के बारे में संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए हैं।


दो महीने से ऊपर चल रहे लॉकडाउन के बाद, लोगों को बड़ी राहत देते हुए राज्य में आज दुकानें और बाज़ारे पूरे वक़्त के लिए खोली गयी। दुकानें सम-विषम अनुसार खोली गई। दुकानों के मालिक ग्राहकों के लिए सामाजिक दूरी तथा मास्क पहनने पर जोर दे रहे हैं और एहतियात के तौर पर दस्ताने और सैनिटाइज़र का उपयोग कर रहे हैं। आज से टैक्सी और रिक्शा को केवल आपातकालीन सेवाओं के लिए चलने की अनुमति दी गई है। संशोधित आदेशों के अनुसार आज से मुंबई महानगर क्षेत्र यानी मुंबई शहर, मुंबई उपनगरीय, ठाणे, पालघर और रायगढ़ जिलों में अंतर-जिला यातायात की अनुमति दी गयी हैं। शिक्षण संस्थानों के कार्यालय और कर्मचारी गैर-शिक्षण उद्देश्य के लिए काम कर सकते हैं,वही, उद्यान, पार्क, व्यायामशाला या जिम, खेल क्षेत्र को खोलने की अनुमति नहीं दी गयी हैं। सोनाली घड्याळपाटिल, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

------

कोविड लॉकडाउन के कारण विदेशों में फंसे जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों को वापस लाने की सरकारी पहले के तहत बृहस्‍पतिवार को जेद्दा से 143 भारतीय नागरिक एयर इंडिया के एक विमान से श्रीनगर लाए गए।

 

इस बीच, 21 घरेलू उड़ानों के माध्‍यम से करीब ए‍क हजार सात सौ 88 यात्री भी कल जम्‍मू और श्रीनगर हवाई अड्डे पहुंचे। आठ नियमित उड़ानों के माध्‍यम से कुल दो सौ 90 यात्री जम्‍मू लाए जा चुके हैं, जबकि 13 घरेलू उड़ानों के जरिए एक हजार चार सौ 98 यात्री और एक अंतर्राष्‍ट्रीय उड़ान से एक सौ 43 यात्री श्रीनगर पहुंच गए हैं। हवाई अड्डे पर उतरते ही सभी यात्रियों को कोविड जांच की गई। सभी यात्रियों के लिए सुरक्षित दूरी के नियमों का सख्‍ती से पालन करते हुए उन्‍हें गंतव्‍य स्‍थल के लिए रवाना कर दिया गया।

 

प्रशासन ने बाहर से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग, नमूनों की जांच और उन्‍हें क्‍वारंटीन केंद्रों में भेजने के लिए सभी आवश्‍यक प्रबंध किए हैं।

----------

भारतीय नौसेना का युद्धपोत आईएनएस जलाश्‍व मालदीव की राजधानी माले से सात सौ भारतीय नागरिकों को लेकर तमिलनाडु के तूतीकोरिन के लिए रवाना होने जा रहा है। मालदीव में फंसे भारतीय नागरिकों को स्‍वदेश लाने का यह चौथा चरण है। लोगों की आव्रजन तथा स्‍वास्‍थ्‍य जांच शुरू कर दी गई है। इस दौरान सुरक्षा दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जा रहा है तथा जांच करने वाले कर्मचारियों को संक्रमण से बचाव के लिए सभी सुरक्षा उपकरण दिए गए हैं। जलाश्‍व के रविवार सुबह तूतीकोरिन पहुंचने की संभावना है।


वंदे भारत मिशन के अंतर्गत अब तक मालदीव से दो हजार से ज्‍यादा भारतीय नागरिकों को निकाला जा चुका है। इससे पहले, दो बार आईएनएस जलाश्‍व और एक बार आईएनएस मगर से करीब 15 सौ भारतीय नागरिकों को पिछले महीने कोच्चि वापस लाया जा चुका है। एयर इंडिया की दो उड़ाने भी पिछले महीने माले से संचालित की गईं। कंपनियों और निजी लोगों के दल को वापस लाने के लिए कुछ चाटर्ड उड़ानों की व्‍यवस्‍था भी की गई थी।

  ----------

अरूणाचल प्रदेश में तिरप जिला प्रशासन ने कोविड-19 दान कोष से तीन एम्‍बुलेंस खरीदी हैं जिसे कल रवाना किया गया। तिरल के डिप्‍टी कमीशनर भानु प्रभा ने बताया कि जिले में गाडियों की कमी को देखते हुए एम्‍बुलेंस अनिवार्य रूप से खरीदे गये हैं। एक एम्‍बुलेंस दिओमाली प्रशासन को सौंपा गया है जबकि दो एम्‍बुलेंस जिला मुख्‍यालय खोंसा में रहेंगी जो कोविड-19 से जुडे कार्यों में लगी रहेंगी।

----------

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने धार्मिक स्थलों, होटलों, रेस्तरां, शोपिंग मॉल, आतिथ्य सत्कार सेवाओँ और कार्यस्थलों के लिए मानक संचालन प्रक्रिया-एसओपी जारी की है। इसका उद्देश्य कोविड-19 से बचाव के लिए सुरक्षा उपायों का पालन करते हुए सुरक्षित दूरी बनाए रखना है।


सभी होटल, शापिंग मॉल, रेस्‍टर्रा, धार्मिक स्‍थलों, कार्यस्‍थलों और अतिथि सेवाओं से जुड़े प्रतिष्‍ठानों को सलाह दी गई है कि प्रवेश द्वार पर सैनेटाइज़र डिस्‍पेंसर और थर्मल स्क्रिनिंग की व्‍यवस्‍था हो। परिसर में केवल उन्‍हीं व्‍यक्तियों को अनुमति दी जाएगी। जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं दिखाई देंगे। सभी जगहों पर थूकना सख्‍त वर्जित होगा। रेस्‍टरोंरेंट में बैठकर खाना खाने की बजाय खाना ले कर जाने की व्‍यवस्‍था का बढ़ावा दिया जाएगा। खाना पहुंचाने वाले व्‍यक्ति ग्राहक के दरवाजे पर खाने के पैकेट छोड़ देंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने जनता को कम से कम छह फिट की शारीरिक दूरी बनाए रखने और फेस मॉस्‍क के उपयोग की सलाह दी है। आरोग्‍य सेतु ऐप को भी उपयोग करने की सलाह दी गई है। भूपेन्‍द्र सिंह आकाशवाणी समाचार दिल्‍ली। 

----------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग विशेषज्ञ की राय श्रृंखला में कोविड-19 विषय पर वरिष्‍ठ चिकित्‍सा विशेषज्ञों की राय प्रस्‍तुत करता है।

 

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान-एम्‍स दिल्‍ली में तंत्रिका विज्ञान विभाग के प्रमुख डॉक्‍टर एम. वी. पदमा ने कोविड-19 के प्रसार की रोकथाम के लिए लोगों को घर में रहने की सलाह दी है। 

 

एम्‍स के ही मेडिसन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉक्‍टर नीरज निश्‍चल ने बताया कि दिशा-निर्देशों का अनुसरण करना क्‍यों आवश्‍यक है।

---------

नरेन्‍द्र मोदी सरकार ने हाल में अपने दूसरे कार्यकाल का एक वर्ष पूरा किया है। हमारे संवाददाता ने पिछले एक वर्ष में रेल मंत्रालय की उपलब्धियों का जायजा लिया। रेलवे ने इस दौरान यात्रियों की सुरक्षा को उच्‍च प्राथमिकता दी है। उसने रेल पटरियों के व्‍यापक नवीकरण तथा उनके प्रभावी रखरखाव, सुरक्षा पहलुओं की निगरानी, सिग्‍नल प्रणाली में सुधार और  आधुनिक टैक्‍नोलोजी के प्रयोग सहित सुरक्षा बढ़ाने के कई उपाय किए हैं। देश में बिना चौकीदार वाले सभी क्रासिंग समाप्‍त कर दिए गए हैं। चौकीदार वाले एक हजार 274 क्रांसिंग भी हटा दिए गए हैं।


रेलवे द्वारा सुरक्षा मानकों में लगातार सुधार किया जा रहा है और इसी का नतीजा है कि 2019-20 के दौरान रेल दुर्घटना में एक भी रेलयात्री की जान नहीं गई। यात्रियों की सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए रेलगाडि़यों के कोच और रेलवे स्टेशनों में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। वहीं, रेलवे ने यात्री और मालगाड़ी दोनों की गति बढ़ाने के लिए कई उपाय किए हैं। तीन हजार किलोमीटर से अधिक डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का निर्माण किया जा रहा है, ताकि मालगाड़ी को 100 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चलाया जा सकें। पिछले वर्ष की तुलना में रेलगाडि़यों की समय की पाबंदी में लगभग 10 प्रतिशत का सुधार हुआ है। वहीं रेलवे स्‍टेशनों और कोच के अलावा शौचालयों की साफ-सफाई पर भी विशेष ध्‍यान दिया गया। वहीं, लॉकडाउन के दौरान देशभर में आवश्यक सामानों को पहुंचाने में रेलवे ने महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई है। इसके अलावा लोगों को गंतव्‍य स्‍थानों तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने अब तक देशभर में चार हज़ार 230 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया और 60 लाख के करीब यात्रियों को उनके गृह राज्य तक पहुँचाया। श्रामिक स्पेशल ट्रेनों में यात्रा करने वाले लोगों को रेलवे ने 85 लाख से अधिक मुफ्त भोजन के पैकेट और लगभग एक करोड़ 25 लाख मुफ्त पानी की बोतलें वितरित कीं। श्रमिक विशेष रेलगाडि़यों के अलावा, रेलवे 15 जोड़ी विशेष एसी ट्रेन और दो सौ विशेष ट्रेनें चला रहा है। दीपेंद्र कुमार, आकाशवाणी समाचार।

----------

केन्‍द्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्री डॉक्‍टर जितेन्‍द्र सिंह ने पेंशन और पेंशनर कल्‍याण विभाग की एक वर्ष की उपलब्धियों पर वीडियो कान्‍फ्रेंस के जरिए ई-पुस्तिका जारी की।

 

अधिकारियों को सम्‍बोधित करते हुए श्री सिंह ने कर्मचारियों के प्रति मोदी सरकार की संवेदनशीलता को उजागर करने वाले सुधारों के लिए पूरी टीम को बधाई दी। उन्‍होंने कोविड-19 महामारी के दौरान टीम के समर्पित कार्यों की भी सराहना की। श्री जितेन्‍द्र सिंह ने कहा कि विभाग ने वेबिनार का आयोजन कर वरिष्‍ठ चिकित्‍सकों के जरिए पेंशनयाफ्ता लोगों की चिंताओं और आशंकाओं का समाधान किया।


पेंशन नीति में सर्वाधिक उल्‍लेखनीय सुधार सी.सी.एस. पेंशन नियम 1972 के नियम 54 में बदलाव था। इसके जरिए सात वर्ष की सेवा पूरी करने से पहले भी सरकारी कर्मचारी की मृत्‍यु की स्थिति में बढी दर पर पारिवारिक पेंशन उपलब्‍ध कराने की व्‍यवस्‍था की गई। इससे पहले केवल उन परिवारों के लिए ही बढी दर पर पारिवारिक पेंशन की व्‍यवस्‍था थी, जिसमें मृतक कर्मचारी ने सात वर्ष की सेवा पूरी कर ली हो।

 

हाल के वर्ष में किए गए अन्‍य महत्‍वपूर्ण सुधारों में ओल्‍ड पेंशन स्‍कीम का दायरा बढाकर उन कर्मचारियों को भी शामिल करना था जो पहली जनवरी, 2004 को या इसके बाद नौकरी में आए, लेकिन जिनकी नियुक्ति की घोषणा पहली जनवरी, 2004 से पहले ही हो चुकी थी।

----------

पश्चिम बंगाल में हाल में आए तूफान अम्‍फन से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए आज सात सदस्‍यीय केन्‍द्रीय दल उत्‍तरी तथा दक्षिणी 24 परगना जिलों का दौरा कर रहा है। दल का नेतृत्‍व गृह मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव श्री अनूप शर्मा कर रहे हैं। हमारी संवाददाता ने बताया है कि यह दल कल कोलकाता पहुंचा था।


केंद्रीय दल की दो अलग-अलग टीमें उत्‍तरी और दक्षिणी 24 परगना जिलों का दौरा कर रही हैं। पहली टीम उत्‍तरी 24 परगना के बसीरहाट सब-डिवीजन के संदेशखाली, काला गाछिया और धमाखाली, दामाखाली इलाकों में नुकसान का आकलन कर रही है, जबकि दूसरी टीम दक्षिण 24 परगना जिले के काकद्वीप सब-डिविजन के तहत आने वाले क्षेत्रों के दौरे पर है। दोनों ही टीमों ने तूफान प्रभावित क्षेत्रों में नुकसान का जायजा लेने के लिए हवाई सर्वेक्षण करने के साथ ही स्‍थानीय लोगों से बातचीत भी की है। केंद्रीय दल ने सुंदरबन में नदी के तटबंध को हुए नुकसान के बारे में भी प्रत्‍यक्षदर्शियों से जानकारी जुटाई है। केंद्रीय दल के प्रभावित इलाकों का दौरा करने से पहले जिला प्रशासनों ने उसे तूफान से हुए नुकसान के बारे में विस्‍तार से जानकारी दी। केंद्रीय दल कल राज्‍य प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात करेगा और इसके बाद केंद्र सरकार को नुकसान की विस्‍तृत रिपोर्ट सौंपेगा। कोलकाता से अरिजीत चक्रवर्ती की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से मैं मधुलिका। 

----------

झारखंड में आज सवेरे 6 बजकर 55 मिनट पर जमशेदपुर में भूकम्‍प के झटके महसूस किये गये। इसकी तीव्रता रिक्‍टर पैमाने पर चार दशमलव सात मापी गई है। इसका केन्‍द्र शहर से 83 किलोमीटर दूर था। जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है।

 

कर्नाटक में ठीक इसी समय हम्‍पी में भूकम्‍प का झटका महसूस किया गया, जिसकी तीव्रता चार मापी गई।

----------

मौसम :

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में आज आमतौर पर बादल छाए रहने और हल्‍की वर्षा होने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 23 और अधिकतम 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। मुम्‍बई में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। एक या दो बार वर्षा होने या गरज के साथ छींटे पडने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 23 और अधिकतम 32 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है। दक्षिण की बात करें तो चेन्‍नई में आमतौर पर बादल छाए रहेंगे और हल्‍की बारिश या बूंदाबांदी भी हो सकती है। न्‍यूनतम तापमान 29 और अधिकतम 37 डिग्री सेल्सियस रह सकता है। कोलकाता में आंशिक रूप से बादल छाए रहने और वर्षा या गरज के साथ छींटे पडने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 26 और अधिकतम  35 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रह सकता है। उत्‍तर की ओर चलें तो केन्‍द्र शासित प्रदेश जम्‍मू कश्‍मीर के जम्‍मू में तापमान 24 से 37 डिग्री के बीच रहने का अनुमान है। शहर में आसमान साफ रहेगा लेकिन दोपहर बाद या शाम को आंशिक रूप से बादल छा सकते हैं। श्रीनगर में न्‍यूनतम तापमान 13 और अधिकतम लगभग 27 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। गिलगित में आसमान साफ रहेगा। दोपहर बाद या शाम को आंशिक रूप से बादल छा सकते हैं। न्‍यूनतम तापमान 16, जबकि अधिकतम लगभग 32 डिग्री रहने की संभावना है। मुजफ्फराबाद में भी आंशिक रूप से बादल छाए रहने की संभावना है। बारिश या गरज के साथ छींटे या धूलभरी हवाएं चलने का भी अनुमान है। न्‍यूनतम तापमान 17 और अधिकतम लगभग 35 डिग्री सेल्सियस रह सकता है। समाचार कक्ष से अंजू सेठिया। 

----------

भारतीय रेल ने यात्रियों को स्‍वच्‍छ पर्यावरण और निर्बाध यात्रा के लिए स्‍वच्‍छ भारत स्‍वच्‍छ रेलवे पहल के अन्‍तर्गत कई कदम उठाये हैं।

 

रेलवे ने कहा है कि पिछले वित्‍त वर्ष के दौरान 14 हजार 916 कोचों में 49 हजार से अधिक बायो टॉयलेट लगाये हैं। इसके साथ ही यह संख्‍या बढकर दो लाख 45 हजार से अधिक हो गई है। ये बायो टॉयलेट 68 हजार 800 रेलवे कोच में लगाये गये हैं। इसके अलावा दो सौ रेलवे स्‍टेशनों को पर्यावरण प्रबंधन प्रणाली लागू करने के लिए आई एस ओ- 14001 से प्रमाणित किया गया है। मंत्रालय ने कहा है कि 953 स्‍टेशनों पर मशीनों से सफाई की जा रही है।

----------

आयुष मंत्रालय ने आज माई लाइफ, माई योगा इंटरनेशनल वीडियो ब्‍लॉगिंग प्रतिस्‍पर्धा शुरू की है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने पिछले रविवार को आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में बताया था कि इस प्रतिस्‍पर्धा में विश्‍व भर से कोई भी भाग ले सकता है। उन्‍होंने कहा था कि कोरोना विश्‍व महामारी के चलते पूरी दुनिया ने योग और आयुर्वेद के प्रति दिलचस्‍पी दिखाई है।


अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस जल्‍द ही आने वाला है। योग जैसे-जैसे लोगों के जीवन से जुड़ रहा है। लोगों में अपने स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर जागरूकता भी लगातार बढ़ रही है। कोरोना संकट के इस समय में योग आज इसलिये भी ज्‍यादा अहम है, क्‍योंकि ये वायरस हमारे रेस्‍पीरेटरी सिस्‍टम को सबसे अधिक प्रभावित करता है। योग में तो रेस्‍पीरेटरी सिस्‍टम को मजबूत करने वाले कई तरह के प्राणायाम है, जिनका असर हम लंबे समय से देखते आ रहे है। ये टाइम टेस्टिड टेक्‍नीक है, जिसका अपना अलग महत्‍व है।

     ---------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 7 (Jul) Midday News 7 (Jul) Evening News 6 (Jul) Hourly 7 (Jul) (1300hrs)
समाचार प्रभात 7 (Jul) दोपहर समाचार 7 (Jul) समाचार संध्या 6 (Jul) प्रति घंटा समाचार 7 (Jul) (1310hrs)
Khabarnama (Mor) 7 (Jul) Khabrein(Day) 7 (Jul) Khabrein(Eve) 6 (Jul)
Aaj Savere 7 (Jul) Parikrama 6 (Jul)

Listen Programs

Market Mantra 6 (Jul) Samayki 6 (Jul) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 6 (Jul) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 6 (Jul) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 5 (Jul)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)